नाटो गठबंधन को लेकर प्रतिबद्ध हैं ट्रंप : ओबामा

Samachar Jagat | Wednesday, 16 Nov 2016 01:19:18 PM
नाटो गठबंधन को लेकर प्रतिबद्ध हैं ट्रंप : ओबामा

वाशिंगटन अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद नाटो संबंधित सहयोगियों को आश्वासन देते हुए कहा कि ट्रंप देश के नाटो समेत मूल रणनीतिक संबंधों को बनाए रखने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। 

ओबामा ने कार्यालय में बने रहते हुए अपने आखिरी विदेशी दौरे के दौरान यह बात कही। ओबामा ने तीन देशों के एक सप्ताह लंबे दौरे के लिए रवाना होने से पहले व्हाइट हाउस के संवाददाताओं से कहा कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने हमारे मूल रणनीतिक संबंधों को बनाए रखने में बहुत रचि दिखाई और मैं जो संदेश देने में समर्थ हूं, उनमें से एक नाटो एवं ट्रांस अटलांटिक अलायंस के प्रति उनकी प्रतिबद्धता है। 

उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इस दौरे में, इस मंच से मैं जो महत्वपूर्ण काम कर सकता हूं, उनमें से एक है कि मैं उन्हें बताउं कि जब मजबूत नाटो संबंध बनाए रखने को लेकर अमेरिका की प्रतिबद्धता की बात आती है और जब यह पहचानने की बात आती है कि ये गठबंधन मात्र यूरोप के लिए ही अच्छे नहीं हैं बल्कि अमेरिका के लिए भी अच्छी है और यह विश्व के लिए भी अहम है, तो ये संकल्प कमजोर नहीं होंगे। ओबामा यूनान, जर्मनी और पेरू की यात्रा करेंगे। 

ओबामा ने कहा कि मैं यूनान की अपनी पहली यात्रा को लेकर उत्साहित हूं। इसके बाद मैं जर्मनी जाउंगा। इसके बाद मैं चांसलर मार्केल के साथ यात्रा करूंगा जो पिछले आठ साल में मेरी निकटतम अंतरराष्ट्रीय सहयोगी रही हैं। मैं हमारे सबसे निकट सहयोगियों के साथ हमारी एकजुटता का भी संकेत दूंगा और मजबूत, एकीकृत एवं एकजुट यूरोप के लिए हमारा सहयोग व्यक्त करूंगा। वह पेरू में देश के उन नेताओं से बात करेंगे जो एशिया प्रशांत में पुनसर्ंतुलन के जरिए विदेश नीति का केंद्र रहे हैं।

ओबामा को उम्मीद, ट्रंप प्रचार और शासन में अंतर समझेंगे
अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि सरकार चलाने के लिए अपनी टीम का गठन करने का अधिकार नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का है। उन्हें अपनी नीतियां तय करने का भी पूरा अधिकार है। उन्होंने इसके साथ ही उम्मीद जतायी कि नए राष्ट्रपति इस बात को समझेंगे कि चुनाव प्रचार करना और देश का शासन चलाना दोनों अलग अलग चीजें हैं । 

ओबामा ने कल कहा कि लोगों ने अपनी राय दे दी है । डोनाल्ड ट्रंप अगले राष्ट्रपति होंगे, अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति होंगे। सरकार चलाने के लिए अपनी टीम का गठन करना और नीतियां तय करना उनका अधिकार है। और जिन लोगों ने उन्हें वोट नहीं दिया है उन्हें इस बात को मानना होगा कि लोकतंत्र इसी प्रकार काम करता है। 

यह व्यवस्था इसी प्रकार काम करती है। 70 वर्षीय ट्रंप द्वारा की गयी कुछ विवादास्पद नियुक्तियों के बारे में कल व्हाइट हाउस में संवाददाताओं के सवाल पर उन्होंने कहा कि जब मैंने चुनाव जीता तो बहुत से लोग थे जो मुझे पसंद नहीं करते थे। मेरी बातों से सहमत नहीं थे। मैं समझता हूं कि जब भी इतने कड़वाहट भरे चुनाव के बाद आप दूसरी पार्टी के राष्ट्रपति को चुनते हैं तो लोगों को नई सच्चाई से तालमेल बिठाने में कुछ समय लगता है।
 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.