नेपाल विमान हादसा: रनवे को लेकर भ्रम की वजह से हादसा होने का संकेत

Samachar Jagat | Tuesday, 13 Mar 2018 04:06:59 PM
Nepal plane accident: Signs of accident due to illusion about runway

काठमांडो। सोमवार को हुए नेपाल में एक बांग्लादेशी विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की घटना की जांच कर रहे नेपाली जांचकर्ताओं को मलबे से विमान का ब्लैक बॉक्स मिला है। अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि दुर्घटना से ठीक पहले हवाई यातायात नियंत्रकों और पायलटों के बीच बातचीत से यह संकेत मिलता है कि यह घटना रनवे को लेकर भ्रम की वजह से हुई हो सकती है।

तो इसलिए दिया दिल्ली के मुख्यमंत्री के सलाहकार ने इस्तीफा

कल हुए इस हादसे में 49 लोगों की मौत हो गई। सोमवार को ढाका से काठमांडो जा रहे यूएस- बांग्ला एयरलाइन्स का विमान उतरते समय रनवे पर लडख़ड़ा गया, जिसके बाद उसमें आग लग गई और त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास एक फुटबाल मैदान में जाकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस विमान में 67 यात्री और चालक दल के 4 सदस्य सवार थे।

हवाई अड्डे के महाप्रबंधक राज कुमार छेत्री ने कहा कि विमान का डेटा रिकॉर्डर बरामद कर लिया गया है और उसे हमने सुरक्षित रखा हुआ है। उन्होंने कहा कि हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है। इस घटना के लिए विमान और हवाई अड्डे के अधिकारी एक- दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं।

ये नेपाल में गत 25 सालों में सबसे भयानक हादसा है। एक बम्बार्डियर डैश-8 क्यू-400 की विमान यूबीजी 211 में 33  नेपाली नागरिक सवार थे। इसके अलावा उसमें 32 बांग्लादेशी, एक चीनी और मालदीव का एक नागरिक भी सवार था। नेपाल सरकार ने इस हादसे की जांच के लिए 6 सदस्यीय एक समिति का गठन किया है।

भाजपा में शामिल हुए नरेश अग्रवाल ने दिया जया बच्चन पर यह विवादित बयान 

बांग्लादेश के नागर विमानन और पर्यटन मंत्री एम के एम शाहजहंा कमाल के नेतृत्त्व में एक उच्च- स्तरीय टीम मंगलवार को काठमांडो पहुंचने वाली है। एक नेपाली समाचार पत्र ने खबर दी है कि पायलट और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के बीच हुई अंतिम चार मिनट की बातचीत से संकेत मिलता है कि पायलट के मन में रनवे 02 और रनवे 20 को लेकर भ्रम था। पिछले कुछ वर्षों में नेपाल में कई विमान हादसे हुए हैं।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.