कश्मीर मामले पर पाकिस्तान के मंत्री ने माना कि दुनिया हमारी नहीं, भारत की बात मानती है

Samachar Jagat | Thursday, 12 Sep 2019 12:44:37 PM
On Kashmir, Pakistan's minister admitted that the world believes in India, not ours

इंटरनेट डेस्क। जम्मू-कश्मीर के मसले पर भारत पर आरोप लगा रहा पाकिस्तान पूरी दुनिया में अलग-थलग पड़ा है। अब पाकिस्तान के मंत्री भी इस बात को कबूल करने लगे हैं कि पाकिस्तान की बात को दुनिया में कोई सुन नहीं रहा है और जो सुन रहा है वो विश्वास नहीं कर रहा है। पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री (गृह मंत्री) ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह ने एक इंटरव्यू में ऐसा कहा है।


loading...

एजाज अहमद शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के मसले पर लोग हमारी बात का विश्वास नहीं कर रहे हैं। हम कहते हैं कि भारत ने कश्मीर में कर्फ्यू लगाया है और वहां जुल्म किया जा रहा है। लेकिन कोई हमारी बात मानने को तैयार नहीं है और हर कोई भारत की बात पर ही विश्वास कर रहा है। एक इंटरव्यू में पाकिस्तानी मंत्री बोले कि आज हमारे देश की बात कोई सुनने के लिए तैयार नहीं हैं, ये एक दिन का काम नहीं है। देश पर राज करने वालों ने छवि को बिगाड़ कर रख दिया है, अभी तक जिसने भी देश की सत्ता चलाई है वही पाकिस्तान की छवि बिगाड़ने का आरोपी है।

ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह ने कहा कि इसके लिए जनरल जिया उल हक, परवेज मुशर्रफ से लेकर इमरान खान तक हर सत्ताधारी जिम्मेदार है। इतना ही नहीं इस इंटरव्यू में इमरान खान के मंत्री ने मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद को ‘साहेब’ कहकर बुलाया और कहा कि हाफिज सईद ने पाकिस्तान के खिलाफ कोई काम नहीं किया है. हाफिज सईद को लड़ाई लड़ने के लिए खड़ा किया गया था, लेकिन अब उन्हें काबू में करने की जरूरत है। पाकिस्तान के गृह मंत्री का बयान उस वक्त आया है जब पाकिस्तान को यूएनएचआरसी में बड़ा झटका लगा है।

पाकिस्तान ने भारत के द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने का विरोध किया है और इसे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के नियमों का उल्लंघन बताया है। भारत ने हर जगह इस आरोप का सबूत के साथ जवाब दिया और इस मसले को भारत का आंतरिक मामला बताया। भारत के खिलाफ बयान दे रहे पाकिस्तानी गृह मंत्री शाह महमूद कुरैशी से भी सच निकल गया था और उन्होंने जम्मू-कश्मीर को भारत का राज्य बताया था। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.