पाकिस्तान ने ब्रिटेन की प्रधानमंत्री को भारत के ‘आक्रामक रुख’ को लेकर आगाह किया

Samachar Jagat | Thursday, 17 Nov 2016 03:40:34 AM
पाकिस्तान ने ब्रिटेन की प्रधानमंत्री को भारत के ‘आक्रामक रुख’ को लेकर आगाह किया

लंदन। पाकिस्तान के गृह मंत्री निसार अली खान ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे से यहां एक मुलाकात के दौरान कहा कि भारत का ‘आक्रामक रुख’ दक्षिण एशिया में शांति को प्रभावित करेगा।

ब्रिटेन सरकार के सूत्रों के अनुसार कल 10, डाउनिंग स्ट्रीट पर खान की ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मार्क ल्याल ग्रांट के साथ मुलाकात पहले से निर्धारित थी। उसी दौरान ब्रिटेन की प्रधानमंत्री आ गईं।

खान ने कहा, ‘‘भारत का प्रभुत्ववादी और आक्रामक रुख क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘विश्व और हमारे मित्रों को पाकिस्तान के खिलाफ भारत के दुराग्रह से मुकाबले के लिए और अधिक करने की जरूरत है और दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करना चाहिए...पाकिस्तान धौंस दिखाने वाले दांवपेच से भयभीत होने वाला नहीं है....हम अपने सैनिकों की निर्मम और बिना उकसावे की हत्या का बदला लेने का अधिकार सुरक्षित रखे हुए हंै....पाकिस्तान के लोग और उसके सुरक्षा संस्थान अपनी जमीन से आतंकवाद का पूरी तरह से सफाया करने के लिए कृतसंकल्पित हैं।’’

मिली जानकारी के अनुसार मे ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को शुभकामनाएं दीं और पाकिस्तान के मंत्री ने उन्हें प्रधानमंत्री का पदभार संभालने के लिए बधाई दी।

पाकिस्तानी मंत्री ने बैठक के बाद पाकिस्तानी मीडिया को बताया कि मे 2017 की पहली छमाही के दौरान पाकिस्तान की यात्रा करने को लेकर ‘‘इच्छुक’’ हैं।
उन्होंने जोर देकर कहा कि मे की पाकिस्तान यात्रा दक्षिण एशिया के वर्तमान क्षेत्रीय परिदृश्य के परिप्रेक्ष्य में समयानुकूल होगी और यह द्विवक्षीय एवं बहुपक्षीय सहयोग एवं समन्वय का नया रास्ता खोलेगी।

उन्होंने क्षेत्र में शांति पर ल्याल ग्रांट को बताया कि ‘‘एक शांतिपूर्ण एवं स्थिर अफगानिस्तान पाकिस्तान के हित में है।’’

उन्होंने जोर देकर कहा कि पड़ोसी देशों के साथ पाकिस्तान के मैत्रीय संबंध पारस्परिकता के सिद्धांत पर आधारित हैं जो कि पाकिस्तान की विदेश नीति का मौलिक एवं महत्वपूर्ण तत्व है।

खान ने इसके साथ ही ब्रिटेन के गृह मंत्री एंबर रड से इस सप्ताह मुलाकात की थी।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.