खुफिया, सरकारी जानकारी पर मीडिया की नियमित रिपो खतरनाक : व्हाइट हाउस

Samachar Jagat | Thursday, 02 Aug 2018 12:03:39 PM
Regular repo of dangerous media on intelligence, official information: White House

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

वाशिंगटन। व्हाइट हाउस ने एक बार फिर प्रेस की स्वतंत्रता को समर्थन दोहराते हुए आरोप लगाया है कि सरकारी और गोपनीय सूचनाओं पर मीडिया के लगातार रिपोर्ट करने से लोगों की जान और राष्ट्रीय सुरक्षा को जोखिम हो सकता है।

मंगलवार को फ्लोरिडा में ट्रंप की एक रैली के दौरान एक राष्ट्रीय समाचार चैनल के एक संवाददाता के साथ धक्कामुक्की होने के बाद व्हाइट हाउस ने यह टिप्पणी की है। अमेरिका में मीडिया पर बढ़ रहे हमलों को लेकर किए गए एक सवाल के जवाब में व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कल बताया कि हम स्वतंत्र प्रेस का पूर्ण समर्थन करते हैं, लेकिन इसके साथ महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भी आती है।

मीडिया नियमित रूप से गोपनीय सूचनाओं और सरकार की खुफिया जानकारी पर खबरें देता है जिससे लोगों की जान और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो सकता है। ऐसा हमारे और पूर्ववर्ती दोनों प्रशासनों के दौरान हुआ है।

पाकिस्तान: पंजाब में PML-N के 23 नवनिर्वाचित विधायकों ने पार्टी की बैठक में नहीं लिया हिस्सा

सैंडर्स ने अपने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इसमें से सबसे बुरे मामलों में से एक मामला 90 के दशक के आखिर में ओसामा बिन लादेन के सैटेलाइट फोन सुनने की अमेरिकी क्षमता की एक रिपोर्टिंग है। उस रिपोर्टिंग की वजह से लादेन ने उस फोन का इस्तेमाल ही बंद कर दिया और देश को महत्वपूर्ण खुफिया जानकारी मिलना बंद हो गई। ’

सारा ने कहा कि दुर्भाग्यवश, अब सामान्य बोध और नैतिक प्रचलन को छोडऩा मानक बन गया है। यह एक दोतरफा रास्ता है। हम निश्चित रूप से एक स्वतंत्र प्रेस का समर्थन करते हैं और किसी के खिलाफ हिंसा की निंदा भी करते हैं। साथ ही हम उन लोगों से जिम्मेदार हो कर तथा सही और निष्पक्ष तरीके से रिपोर्ट करने को भी कहते हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति किसी के भी खिलाफ हिंसा का या अन्य बातों का समर्थन नहीं करते।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.