खशोगी के मोबाइल संदेशों से हुआ खुलासा, बना रहे थे आंदोलन की योजना

Samachar Jagat | Monday, 03 Dec 2018 06:58:48 PM
Revealed by Khashogi's mobile messages, were making plans for the movement

मास्को। सऊदी अरब सरकार के आलोचक पत्रकार जमाल खशोगी ने हत्या से पहले व्हाट््सएप मैसेंजर में राज्य की नीतियों के एक अन्य व्यक्ति के साथ रियाद के दुष्प्रचार का मुकाबला करने के लिए ऑनलाइन युवा आंदोलन शुरू करने की योजना पर चर्चा की थी। सीएनएन मेें रविवार को प्रसारित खबर के मुताबिक, खशोगी 400 से भी अधिक मोबाइल संदेशों में मॉन्ट्रियल स्थित सऊदी निर्वासित उमर अब्दुलअजीज के साथ योजनाओं पर चर्चा कर रहे थे।

गजनी में सेना के अभियान में 30 तालिबानी आतंकवादी ढेर

खशोगी ने संदेशों में सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सौद की कड़ी अलोचनाएं करते हुए उन्हें क्रूर व्यक्ति बताया है। खशोगी ने मई महीने के संदेशों में कहा है कि जितने अधिक पीडि़तों उसने निगला है, उससे अधिक वह चाहता है। मुझे आश्चर्य नहीं होगा अगर उत्पीडऩ उन लोगों तक पहुंचेगा जो उसे खुश कर रहे हैं।

कोप 24 : अमीर देशों से जलवायु परिवर्तन से निबटने के लिए हिस्सेदारी देने की गुहार लगाएंगे दूसरे देश

प्रसारणकर्ता के मुताबिक, अगस्त महीने में दोनों समझ गए थे कि उनके संदेशों को सऊदी सरकार इंटरसेप्ट कर चुकी है। पत्रकार ने लिखा, ‘ईश्वर हमारी मदद करे। प्रसारणकर्ता ने बताया कि अब्दुलजीज ने रविवार को एक इजराइली फर्म के खिलाफ मुकदमा दायर किया, जिसने कथित तौर पर उनके फोन को हैक करने के लिए सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया था।

परमाणु निरस्त्रीकरण के लिये कदम उठाए उत्तर कोरिया : बान की मून

उल्लेखनीय है कि पत्रकार जमाल खशोगी की सऊदी अरब में हत्या कर दी गई    थी। उनकी हत्या के बाद अमेरिका ने उनकी हत्या से जुड़े कारणों और सऊदी सरकार की आलोचना की थी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.