गाजा से इजराइल पर दागे गए रॉकेट, जवाब में इजराइल ने किए हवाई हमले, 16 फलस्तीनी मारे गये

Samachar Jagat | Monday, 06 May 2019 10:22:43 AM
Rockets fired on Israel from Gaza, Israeli air strikes in response, 16 Palestinians killed

गाजा सिटी (फलस्तीनी क्षेत्र)। गाजा से रविवार तड़के इजराइल पर रॉकेट दागे गए जिसके जवाब में इजराइल ने गाजा पट्टी पर हवाई हमले किए। इसी के साथ दोनों पक्षों के बीच तनाव बहुत अधिक बढ़ जाने का खतरा पैदा हो गया है। गाजा के अधिकारियों के मुताबिक शनिवार से बढ़े तनाव में इजराइली हमलों में कम से कम छह चरमपंथियों सहित 16 फलस्तीनी नागरिक मारे गए। वहीं, इजराइल ने एक बच्चे एवं उसकी गर्भवती मां के मारे जाने के गाजा की रिपोर्ट को गलत बताया है।

Rawat Public School

सेना ने कहा कि रविवार को दक्षिणी इज़राइल में गाजा द्बारा दागे गये रॉकेट और मिसाइल हमलों में तीन लोग मारे गए थे। दो की इज़रायली नागरिक के रूप में पुष्टि हुई थी। हमले में गाजा सिटी की कई इमारतें नष्ट हो गई। इजराइली पुलिस और अस्पताल ने कहा कि गाजा सीमा के पास एशकेलोन शहर में रॉकेट हमले में 58 वर्ष के एक इजराइली व्यक्ति की मौत हो गई।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि उन्होंने सेना को गाजा पट्टी में आतंकवादी तत्वों पर बड़े पैमाने पर हमले जारी रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने गाजा के पास पहले से तैनात सैनिकों को मजबूत करने के लिए टैंक, तोपें और सैनिकों को भी भेजने का आदेश दिया है। यह ताजा झड़प गाजा पट्टी पर शासन करने वाले हमास के साथ हुई है जो संघर्षविराम के तहत इजराइल से कुछ और छूट की मांग कर रहा है।

इजराइल ने कहा कि फलस्तीनी सीमा क्षेत्र से शनिवार से अब तक करीब 430 रॉकेट दागे गए हैं और उसके हवाई रक्षा बलों ने कई को रास्ते में ही नष्ट कर दिया। इजराइली सेना ने कहा कि उसके टैंकों और विमानों ने करीब 200 आतंकवादी ठिकानों को निशाना बनाया। सैन्य प्रवक्ता जोनाथन कोनरीकस ने कहा कि इन ठिकानों में एक सुरंग भी शामिल थी जहां से चरमपंथी हमलों को अंजाम देते थे। गाजा शहर की दो बहुमंजिली इमारतें तबाह हो गईं।

इजराइल ने दावा किया कि इन इमारतों में से एक में हमास का सैन्य खुफिया एवं सुरक्षा कार्यालय भी था और अन्य इमारत में हमास एवं इस्लामिक जिहाद के कार्यालय थे। वहीं तुर्की ने कहा है कि उसकी सरकारी संवाद समिति अनाडोलु का एक कार्यालय उस इमारत में स्थित था। साथ ही उसने इस हमले की निंदा की।

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हमले में 14 माह के बच्चे एवं उसकी गर्भवती मां के साथ ही दो फलस्तीनी व्यक्तियों की मौत हो गई जबकि 40 लोग घायल हुए। राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने ट्वीट किया, गाजा में अनाडोलु एजेंसी के कार्यालय पर हुए इजराइली हमले की हम कड़ी निदा करते हैं। एर्दोआन फलस्तीनी मामले के समर्थक हैं। वहीं विदेश मंत्री मेवलट कावुसोगलु ने कहा कि आम नागरिकों के खिलाफ हुए ये हमले “मानवता के विरुद्ध अपराध हैं।

गोलाबारी जारी रहने के बीच इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहु ने सुरक्षा प्रमुखों के साथ विचार-विमर्श किया। हमास के सहयोगी इस्लामिक जिहादी ने एक बयान में कुछ रॉकेट दागे जाने की जिम्मेदारी ली और कहा कि वह और रॉकेट दागने के लिए तैयार हैं। मिस्र एवं संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी स्थिति को शांत करने को लेकर चर्चा कर रहे हैं जबकि यूरोपीय संघ ने गाजा से फौरन रॉकेट दागना बंद करने को कहा है। अमेरिका ने इजराइल पर गाजा चरमपंथियों के रॉकेट हमलों की निदा की और कहा कि वह इन घृणित हमलों के खिलाफ आत्मरक्षा के उसके अधिकार का पूर्ण समर्थन करता है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.