भ्रष्टाचार के शेष दो मामलों में कोर्ट  के समक्ष पेश हुए शरीफ

Samachar Jagat | Monday, 13 Aug 2018 12:28:38 PM
Sharif appeared before court in remaining two cases of corruption

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपने परिवार के खिलाफ दर्ज भ्रष्टाचार के मामलों में सुनवाई के लिए सोमवार को एक जवाबदेही अदालत के समक्ष पेश हुए। शरीफ के जेल जाने के बाद से यह पहली बार है जब वह भ्रष्टाचार के शेष 2 मामलों में किसी अदालत के समक्ष पेश हुए।

शरीफ (68), उनकी 44 वर्षीय बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (सेवानिवृत) मुहम्मद सफदर पहले से ही रावलपिंडी के अडियाला जेल में क्रमश: 10 साल, सात साल और एक साल कैद की सजा काट रहे हैं। लंदन में चार आलीशन फ्लैटों पर उनके परिवार के स्वामित्व को लेकर एक जवाबदेही अदालत ने 6 जुलाई को उन्हें दोषी ठहराया था।

रेल मंत्री की बड़ी घोषणा: रेलवे में बिना इंटरव्यू के होंगी 1 लाख 30 हजार पदों की भर्तियां

सोमवार को शरीफ को उच्च सुरक्षा वाली जेल से एक बख्तरबंद वाहन में न्यायाधीश अर्शद मलिक की जवाबदेही कोर्ट में लाया गया। मलिक भ्रष्टाचार के 2 शेष मामलों- अल-अजीजिया स्टील मिल्स और हिल मेटल इस्टेब्लिशमेंट मामले की सुनवाई कर रहे हैं।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए और अधिकारियों ने कोर्ट परिसर में गैरजरूरी लोगों के प्रवेश को प्रतिबंधित रखा। यहां तक की मीडिया को भी कोर्ट परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं थी। शरीफ और उनके 2 बेटों के खिलाफ भ्रष्टाचार के लंबित मामलों को शरीफ के आवेदन पर इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने 7 अगस्त को न्यायाधीश मलिक की अध्यक्षता वाली दूसरी जवाबदेही अदालत को स्थानांतरित कर दिया था।

गत वर्ष 28 जुलाई को उच्चतम न्यायालय के एक फैसले के बाद शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ उसी वर्ष भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज किए गए। शरीफ परिवार के खिलाफ औपचारिक मुकदमा 14 सितंबर को शुरू हुआ और 6 माह के भीतर सुनवाई पूरी होनी थी लेकिन अंतिम तारीख 3 बार बढ़ाई गई।

गौ तस्करों पर पुलिस, प्रशासन की सख्ती नहीं होने के कारण गौ रक्षकों को सडकों पर आना पडता है :रामदेव

शरीफ के अलावा उनके 2 बेटे- हसन और हुसैन भी भ्रष्टाचार के सभी तीन मामलों में सह आरोपी हैं। अदालत पहले ही नवाज के दोनों बेटों को उसके समक्ष पेश नहीं होने को लेकर भगोड़ा करार दे चुकी है। अधिकारियों ने उन्हें काली सूची में डाल दिया है जो उनके पाकिस्तानी पासपोर्ट पर उन्हें यात्रा करने देने से रोकती है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.