इमरान खान के सत्ता में आने से नौकरशाही का मनोबल मजबूत

Samachar Jagat | Friday, 14 Sep 2018 06:42:10 PM
strength in the bureaucracy strengthened after Imran Khan coming to power

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान की सिविल सेवाओं में कम से कम राजनीतिक हस्तक्षेप और देश के विकास के लिए उन्हें खुलकर काम करने संबंधी बयान से नौकरशाही का मनोबल काफी बढ़ा है। द डॉन ने यह जानकारी दी है। द डॉन की एक रिपोर्ट के अनुसार इमरान खान ने इस्लामाबाद में शुक्रवार को सिविल सेवकों को संबोधित करते हुए कहा हम ब्यूरोक्रेसी में मेरिट के आधार पर सिविल सेवकों को आगे बढ़ाएंगे और इसमें राजनीतिक हस्तक्षेप बिल्कुल भी नहीं होगा।

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम का पार्थिव शरीर पाकिस्तान पहुंचा

जब सिविल सेवकों का प्रदर्शन मेरिट के आधार पर रहता है तो वे खुद ही अपने क्षेत्र में शीर्ष स्थान हासिल कर लेते हैं। मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि आप लोगों पर किसी तरह का कोई राजनीतिक दबाव नहीं रहेगा और कामकाज में कोई हस्तक्षेप भी नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अधिकारियों के बार-बार होने वाले तबादलों से उनका मनोबल गिरता है और यह सरकार के लिए सबसे अधिक नुकसानदायक रहता है।

सुषमा ने यूरी बोरिसोव के साथ महत्वपूर्ण बैठक की

उन्होंने पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति और नौकरशाही के वेतनमान में इजाफे के बारे में उन्हें आश्वासन दिया। इमरान खान ने कहा मैं एक रिपोर्ट पढ़ रहा था कि 1935 में एक आयुक्त अपने वेतन से 70 तोला सोना खरीद सकता था लेकिन मेरे पिताजी जो 1970 में सरकारी इंजीनियर थे, वह एक माह की तनख्वाह में मात्र एक कार ही खरीद सके थे। इसमें कोई दो राय नहीें है कि नौकरशाहों का वेतन अच्छा रहता है और इसी वजह से कोई उन्हें किसी तरह का लालच भी नहीं दे सकता है लेकिन इस समय आपके वेतनमान ज्यादा बेहतर नहीं है और हम इनमें इजाफा करने पर विचार कर रहे हैं।

अमेरिका ने रूस पर उत्तर कोरिया प्रतिबंध रिपोर्ट में बदलाव करने का लगाया आरोप

आप लोगों को देश की आर्थिक स्थिति की अच्छी जानकारी है लेकिन मैं यही कहूंगा कि इस कठिन समय को झेलना होगा और हमेशा ऐसा नहीं होगा। सभी देश प्रगति की राह पर एकदम नहीं बढ़ पाते हैं और अभी हमारी प्रगति नकारात्मक कही जा सकती है लेकिन देश में आगे जाने की बहुत क्षमता है लेकिन हम सब को मिलकर इस दिशा में काम करना होगा।-एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.