संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख ने की पुलवामा आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा

Samachar Jagat | Wednesday, 20 Feb 2019 11:28:10 AM
United Nations Human Rights Chief strongly condemns the Pulwama terrorist attack

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के एक शीर्ष अधिकारी ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हुए प्राधिकारियों से अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने की अपील की है। मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय (ओएचसीएचआर) के प्रवक्ता रुपर्ट कोलविले ने मंगलवार को जिनेवा में कहा कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेत पुलवामा में ही सोमवार को हुई मुठभेड़ में जवानों के शहीद होने की खबर से भी दु:खी हैं।

कोलविले ने कहा कि उच्चायुक्त जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को भारतीय सुरक्षा बलों पर किए गए आत्मघाती हमले की कड़ी निंदा करती हैं और प्राधिकारियों से साजिशकर्ताओं को न्याय के दायरे में लाने की अपील करती हैं। जैश-ए-मोहम्मद के इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद पुलवामा के ही पिगलान इलाके में मुठभेड़ में सेना के एक मेजर समेत चार जवान शहीद हो गए थे। इस मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद में दो आतंकवादी मारे गए थे।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख ने उम्मीद जताई कि भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव से क्षेत्र में असुरक्षा की स्थिति और नहीं बढ़ेगी। कोलविले ने कहा कि उच्चायुक्त भारत से मिल रही उन रिपोर्टों को लेकर भी चिंतिंत हैं जिनमें कहा गया है कि कुछ तत्व भारत के विभिन्न हिस्सों में रह रहे कश्मीरी लोगों को निशाना बनाकर खतरे एवं हिसा के संभावित कृत्यों को न्यायोचित’’ ठहराने के लिए हमले का इस्तेमाल कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हम इस बात को अहमियत देते हैं कि इन घटनाओं से निपटने के लिए भारतीय प्राधिकारियों ने कदम उठाए हैं। हम उम्मीद करते हैं कि सरकार लोगों को सभी प्रकार के खतरों से बचाने के लिए कदम उठाना जारी रखेगी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.