अमेरिकी सांसदों ने पाक की नई सरकार से अल्पसंख्यकों के साथ समानता का व्यवहार करने का किया अनुरोध

Samachar Jagat | Friday, 07 Sep 2018 05:18:10 PM
US lawmakers urge Pakistan's new government to treat equality with minorities

वाशिंगटन। अमेरिका के कई सांसदों ने पाकिस्तान की नई सरकार से उसके सजातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ समानता का और गरिमापूर्ण व्यवहार करने का अनुरोध किया है। सांसदों ने बुधवार को साउथ एशिया माइनॉरिटीज एलायंस फाउंडेशन और वॉयस ऑफ कराची (वीओके) द्वारा आयोजित ‘द माइनॉरिटीज डे ऑन द हिल’ में यह टिप्पणी। उन्होंने इमरान खान सरकार से कराची के साथ-साथ बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत सहित देश के अन्य हिस्सों में अल्पसंख्यकों के मानवाधिकार उल्लंघनों को रोकने का अनुरोध किया।

चीन ने भारत-अमेरिका टू प्लस टू वार्ता का स्वागत किया, रक्षा करार पर नहीं दी प्रतिक्रिया

अमेरिकी कांग्रेस के सदस्य थॉमस गारेट जूनियर ने दुनिया के सभी देशों से अपील की है कि वे अपने अल्पसंख्यक समुदायों के साथ सम्मानपूर्वक और गरिमापूर्ण व्यवहार करें तथा उन्हें समान अधिकार दें जिसके वे हकदार हैं। उन्होंने कहा कि, ‘मैं मुहाजिर लोगों की दुर्दशा समझता हूं जो आजादी के बाद जातीय सफाये के शिकार बने।

पाक में हाफिज सईद के खुलेआम घूमने पर भारत के समान अमेरिका चिंतित: अधिकारी

उन्हें इस उम्मीद से अपना घर छोडऩा पड़ा कि जहां वे जाएंगे वहां उनका स्वागत होगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ।’ कांग्रेस सदस्य स्कॉट पेरी ने कहा कि, ‘हम अमेरिका में सभी जातीय तथा धार्मिक अल्पसंख्यकों से समानता का व्यवहार करते हैं और हम अपने सहयोगियों से भी ऐसा ही करने की मांग करते हैं। हम एक साथ मिलकर रह सकते हैं।

समलैंगिक विवाह को वैध बताने वाले कोर्ट के फैसले का विश्व मीडिया ने दिल खोलकर किया स्वागत 

कांग्रेस के एक अन्य सदस्य एंडी हैरिस ने कहा है कि ‘अपने धर्म का अनुसरण करना एक मौलिक मानवाधिकार है और मनुष्यों के तौर पर हमें इस अधिकार को साझा करना चाहिए। यह मायने नहीं रखता कि हम दुनिया के किस हिस्से में जीए या हम किस जातीय या धार्मिक समूह से ताल्लुक रखते हैं, हमारे पास शांतिपूर्वक रहने और अपने मौलिक मानवाधिकारों की रक्षा करने का अधिकार है।’



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.