निरस्त्रीकरण के प्रयासों में चीन के साथ ही अमेरिका, रूस भी हों शामिल: मर्केल

Samachar Jagat | Sunday, 17 Feb 2019 03:56:09 PM
US, Russia among nations, including disarmament efforts: Merkel

म्यूनिख। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने चीन के बढ़ते मिसाइल शस्त्रागार और अमेरिका-रूस के बीच हुए प्रमुख हथियार संधि के निलंबन पर चिंता जाहिर करते हुए शनिवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय निरस्त्रीकरण के प्रयासों में चीन को भी शामिल किया जाना चाहिए।

मर्केल ने कहा कि निरस्त्रीकरण ऐसा मुद्दा है जो हम सभी के लिए चिंता का विषय है और हम निश्चित तौर पर इस बात से खुश होंगे कि यह बातचीत अमेरिका, यूरोप एवं रूस के बीच ही नहीं बल्कि चीन के साथ भी होनी चाहिए।

पुलवामा हमला: ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को जम्मू-कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में नहीं जाने की सलाह दी

रूस के 9एम729 मिसाइल की तैनाती के जवाब में अमेरिका ने इस महीने की शुरुआत में खुद को शीत युद्ध मिसाइल नियंत्रण के ऐतिहासिक समझौते -इंटरमीडिएट रेंज न्यूक्लियर फोर्सेज (आईएनएफ) संधि से अलग कर लिया था जिसके बाद रूस भी इससे अलग होने की घोषणा की थी।

सामरिक अध्ययन संस्थान की नयी रिपोर्ट के मुताबिक चीन के बैलिस्टिक एवं क्रूज मिसाइल वाला 95 प्रतिशत शस्त्रागार आईएनएफ का उल्लंघन होता अगर चीन इसमें एक पक्ष होता। जर्मनी अगले महीने बर्लिन में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है जो शीतयुद्ध युग में लाए गए हथियार नियंत्रण कार्यक्रम की जगह नए तरह का एक कार्यक्रम लाने पर आधारित होगा। 

इंटरनेट पर अश्लील सामग्री : सत्यार्थी की डेटा सेवा प्रदाता कंपनियों पर लगाम कसने की मांग

वंदे भारत एक्सप्रेस में आई परेशानी, एक दिन पहले ही दिखाई थी हरी झंडी

येलो वेस्ट प्रदर्शन : फ्रांसीसी पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए आंसू गैस के गोले दागे



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.