सऊदी अरब खुद पर हमला क्यों नहीं रोक पा रहा, आखिर हमला किसने किया

Samachar Jagat | Monday, 16 Sep 2019 12:11:31 PM
Why Saudi Arabia could not stop attacking itself, after all, who attacked

इंटरनेट डेस्क। अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी अरामको के ठिकानों पर ड्रोन हमले को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। ट्रंप ने कहा कि जिसने हमला किया है उसके बारे में उन्हें पता है।


loading...

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि जवाबी कार्रवाई इसकी पुष्टि के बाद की जाएगी। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि श्सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमले हुए हैं। हम जिसे दोषी मान रहे हैं उस पर भरोसा करने के कारण हैं। हम सऊदी का इंतजार कर रहे हैं कि वो इस हमले को कैसे देख रहा है। इसके बाद हम फैसला लेंगे कि आगे क्या करना है। 


अमरीका में कहा जा रहा है कि सऊदी के जिन तेल ठिकानों को निशाने पर लिया गया है। उससे लगता नहीं है कि हमला यमन से हुआ है। कहा जा रहा है हमला शायद इराक या ईरान की तरफ से हुआ है। अमरीकी अधिकारियों ने कहा है कि हमले में सऊदी के 19 ठिकाने प्रभावित हुए हैं और ये 10 ड्रोन से संभव नहीं है। हूती ने दावा किया था कि हमले के लिए 10 ड्रोन भेजे थे। आप 10 ड्रोन से 10 ठिकानों के निशाने पर नहीं ले सकते।ट्रंप प्रशासन का मानना है कि ड्रोन ईरान या इराक से आए लेकिन इसे आधिकारिक तौर पर नहीं कहा जा रहा है।


ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने सऊदी पर हमले का जिक्र नहीं किया लेकिन ईरान प्रेस पर एक संबोधन में कहा कि अमरीका इलाके में युद्ध अभियान चला रहा है और इसी के तहत सऊदी और संयुक्त अरब अमीरात को हथियार और खुफिया मदद मुहैया करा रहा है। रूहानी ने कहा कि इस इलाके में जो आज हो रहा है वो चिंताजनक है। इससे पहले रविवार को व्हाइट हाउस की सीनियर काउंसलर केलनी कोनवे ने कहा था कि राष्ट्रपति ट्रंप के पास इसे लेकर कई विकल्प हैं। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.