धूमधाम से जैन मंदिरों में मनी सुगंध दशमी

Samachar Jagat | Thursday, 20 Sep 2018 06:22:42 PM
Jain temples with pomp and aroma

जयपुर। सुगन्ध दशमी पर दिगंबर जैन मंदिरों में बुधवार को चारों ओर धूप की भीनी-भीनी और सुगंधित खुशबू बिखरी रही। दशलक्षण पर्व के अंतर्गत भाद्रपद, शुक्लपक्ष में आने वाली दशमी के दिन जैन समाज के सभी लोग सुगंध दशमी पर्व मनाते हैं। इस मौके पर दिगम्बर जैन मंदिरों में अष्ट कर्मों को नाश करने के लिए चन्दन की धूप अग्नि पर खेई गई मंदिरों में झांकियां सजीं एवं बिजली की विशेष सजावट मंदिरों पर की गई।

शहर के लगभग 25 दिगम्बर जैन मंदिरों में जैन धर्म, संस्कृति को दर्शाती संदेशात्मक तथा जैन दर्शन, जैन तीर्थंकरों पर आधारित ज्ञानवर्धक, धार्मिक थीम की झांकियां सजाई गई। पूरे जयपुर शहर में उत्सव का माहौल रहा। श्योपुर के श्री चन्द्रप्रभू दिगम्बर जैन मंदिर में आचार्य विद्या सागर महाराज पर आधारित संत नहीं भगवान हैं- वर्तमान के वर्धमान हैं झांकी लगाई गई। झांकी का उद्घाटन समाजसेवी राजीव जैन गाजियाबाद ने किया।

जयपुर में इस तरह की झांकी प्रथम बार लगी है। महल योजना के श्री मुनिसुव्रत नाथ दिगम्बर जैन मंदिर में शिखरों पर मुनिसुव्रतनाथ तथा मुनि श्री तरुण सागर महाराज के कड़वे प्रवचन, एयरपोर्ट रोड स्थित श्री पाश्र्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर (23 दिन वाला मंदिर) में भगवान महावीर की निर्वाण स्थली पांवापुर का जल मंदिर, सेक्टर 17 प्रतापनगर के श्री 1008 आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में मुनि तरुण सागर महाराज की जीवनी अनमोल छटा भव्य सजीव झांकी लगाई गई। 

उद्घाटन समाजसेवी सुरेन्द्र जैन जैना इडलीवाले ने किया। चित्रकूट कॉलोनी के श्री महावीर दिगम्बर जैन मंदिर में यात्रा क्रान्तिकारी राष्ट्रसन्त की पर भव्य सजीव झांकी सजाई गई। मुख्य अतिथि कैलाश चन्द-प्रतीक कुमार सौगानी एवं दीप प्रज्वलन रतन लाल-पदम चन्द पापडीवाल ने किया। श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र संघी जी मंदिर सांगानेर में सजीव झांकी सजाई गई। झांकी का उद्घाटन राजीव-सीमा जैन गाजियावाद वालों ने की। मुख्य अतिथि महापौर अशोक लाहोटी एवं दीप प्रजवलन विनय-स्नेहलता सौगाणी ने किया।

चांदपोल बाजार के जयलाल मुंशी का रास्ता स्थित श्री दिगम्बर जैन मंदिर घिनोई वाला में नव चेतना युवा मण्डल की ओर से पांवापुर का जल मंदिर झांकी सजाई गई। अध्यक्ष राजकुमार पाटनी के अनुसार मुख्य अतिथि ममता सोगाणी जापान वाले थे। झांकी का उद्घाटन समाजसेवी अनिल काला, भाग चन्द गोधा ने किया। मनिहारों का रास्ता के बड़ा दीवान जी का मंदिर में देवी अन्जना का वीर पुत्र झांकी सजाई गई। झांकी का उद्घाटन अनिला जैन ने किया। झांकी का अवलोकन श्री महावीर दि. जैन शिक्षा परिषद के अध्यक्ष राजेन्द्र के. गोधा व अन्य समाज के गणमान्य लोगों ने किया।

अतिथियों का स्वागत संघ की अध्यक्ष विमला गोधा, मंत्री शशि जैन व संयुक्त मंत्री साधना काला ने किया। मनिहारों का रास्ता के मंदिरजी खिन्दूकान में मुनि तरुण सागर महाराज के 20 सूत्र की झांकी सजाई गई। झांकी का उद्घाटन मंदिर के जितेन्द्र गंगवाल ने किया। गंगापोल के बाहर तीनों नसिया के श्री दिगम्बर जैन मंदिर नसियां संघीजी में आजादी से पूर्व क्रान्तिकारियों ने जेल में मनाया पयूर्षण पर्व की भव्य सजीव झांकी सजाई गई। उद्घाटन समाजश्रेष्ठी रतन लाल शिखर चन्द कासलीवाल ने किया। वरुण पथ जैन मंदिर में बाहुबली भगवान की, मानसरोवर के राधा निकुंज स्थित श्री दिगम्बर जैन मंदिर में कैलाश पर्वत की झांकी सजाई गई। झोटवाड़ा पटेल नगर के चन्द्रप्रभू दि. जैन मंदिर में महावीर की देशना, श्री पाश्र्वनाथ दि. जैन मंदिर में कुलभूषण देशभूषण का वैराग्य की सजीव झांकी सजाई गई जिसका उद्घाटन समाजसेवी शान्ति कुमार ममता सोगाणी जापान वालों ने किया।

अम्बाबाड़ी के जैन मंदिर में महावीर के पांच नाम सजीव झांकी, डीसीएम के श्री पाश्र्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में श्रवण बेलगोला गोम्मटेश्वर बाहुबली की, विवेक विहार जैन मंदिर में भगवान पाश्र्वनाथ की भव्य सजीव झांकी, पाश्र्वनाथ कॉलोनी जैन मंदिर में राजा बाहुबली से भगवान बाहुबली की, वैशालीनगर के श्री महावीर दिगम्बर जैन मंदिर में बाहुबली भगवान की सजीव झांकी सजाई गई। जनता कॉलोनी के जैन मंदिर में अनादिकाल से आज तक सजीव झांकी लगाई गई। मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष सुधीर गंगवाल के अनुसार झांकी का उद्घाटन समाजसेवी अनिल सोनी ने किया। आदर्शनगर के मुलतान दि. जैन मंदिर में भील से तीर्थंकर महावीर सजीव झांकी सजाई गई। सिद्धार्थ नगर के दिगम्बर जैन मंदिर में श्री सम्मेद िशखर महात्म्य की सजीव झांकी सजाई गई जिसका उद्घाटन सीए सुनील गोधा ने किया। मुख्य अतिथि धूपचन्द मुके श सौगाणी थे। जवाहर नगर जैन मंदिर में चांदनपुर वाले बाबा भगवान महावीर स्वामी की झांकी सजाई गई तथा टोडरमल स्मारक में निमित्त एवं उपादान अदालत में झांकी लगाई गई जिसमें 100 बालक-बालिकाओं द्वारा प्रस्तुति दी गई।

जैन दर्शन, जैन तीर्थंकरों पर आधारित ज्ञानवर्धक, धार्मिक थीम की झांकियां सजाई गई। प्रताप नगर स्थित श्री शांतिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में सुगन्ध दशमी पर प्रात: अभिषेक शन्तिधारा के उपरान्त दशलक्षण मण्डल विधान पूजन का आयोजन हुई। समिति मंत्री कमल सोगाणी के अनुसार सायंकाल जिनेन्द्र प्रभु कि आरती एवं शास्त्र प्रवचन के बाद श्री शान्तिनाथ युवा मण्डल द्वारा भव्य सजीव झांकी मुनि भक्त राजा उद्दायन कि परीक्षा सजाई गई। झांकी का लोकार्पण समाजसेवी महेन्द्र राकेश पचाला वालों द्वारा किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि रमेश जी रौनक जी शाह परिवार रहे।

जनकपुरी जैन मन्दिर में मुनिश्री तरुणसागर जी की अद्वितीय सजीव झांकी देखने उमड़ा जयपुर शहर 

गणिनी आर्यिका गौरवमती माताजी ससंघ के सानिध्य में जनकपुरी ज्योतिनगर युवा मंच द्वारा सुगन्धदशमी के पावन अवसर पर सजायी गई सजीव झांकी एक अनूठे प्रवचनकार की अंतर्विलय यात्रा को देखने पूरा जयपुर शहर उमड़ पड़ा। जैन युवा मंच के अध्यक्ष अमित शाह ने बताया कि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने झांकी को देखकर कहा कि मुझे मुनिश्री तरुणसागर जी के दर्शन करने, आशीर्वाद लेने और प्रवचन सुनने का भरपूर अवसर मिला है। इस झांकी ने आज मुझे फिर उनके जीवन चरित में उतरने का अवसर प्रदान किया। इस झांकी की जितनी प्रशंसा की जाए उतनी ही कम है। इस झांकी में मुनिश्री के 13 वर्ष की आयु में वैराग्य लेने, आर्यिका सुपाश्र्वमति माताजी से ज्ञान प्राप्त करने के अलावा, लाल किले से प्रवचन, जेल में प्रवचन, बड़ी चौपड़ पर दिगम्बर-श्वेताम्बर संतों के मिलन एवं प्रवचन, श्मसान में जन्मदिन मनाने, सीकर में चौराहे पर महावीर स्तम्भ बनाने, अस्पताल से संलेखना एवं अन्तिम यात्रा को बखूबी सजीव पात्रों ने चित्रित किया है। इसके अलावा कड़वे प्रवचन के 10वें भाग का लोकार्पण व मुनिश्री तरुणसागर जी के साथ सेल्फी लेने के लिए सेल्फी कार्नर बनाया गया है जिस पर युवा मुनिश्री के साथ फोटो लेने को कतारबद्ध खड़े रहे। ्इससे पूर्व झांकी का उद्घाटन समाजसेवी जिनेन्द्र कुमार जैन एवं अजय कुमार जैन ने। दीप प्रज्ज्वलन पदमचन्द बिलाला और चित्र अनावरण शान्तिजी शाह ने किया। संचालन अतुल पाटनी ने किया।

दशलक्षण पूजा में झूमे श्रद्धालू

आगरा रोड स्थित श्रीदिगम्बर जैन मंदिर सेठी कॉलोनी दशलक्षण महापर्व के तहत आज सुगंध दशमी धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान श्रद्धालुओं ने मंदिर आकर धूप खेई। मंदिर प्रबंध के अध्यक्ष दीनदयाल पाटनी व महामंत्री धर्मीचंद कासलीवाल ने बताया कि आज सुबह नित्य नियम पूजा के बाद जयकारों के बीच श्रीजी के कलश व साजों के बीच दशलक्षण की पूजा की गई। इस दौरान मेरे मन मंदिर में आन....रोम-रोम पुलकित हो जाए ...जैसे भजनों की स्वर लहरियों ने वातावरण को भक्तिमय बना दिया। इस मौके पर मंदिर में एलईडी का लोकार्पण समाजश्रेष्ठी चन्द्रसेन,संजय कुमार व अजय कुमार ने  किया। इस मौके पर मंदिर प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष बालचंद बडज़ात्या,रवि सौगानी, पदमचंद बैनाडा व भागचंद सोगानी सहित अन्य लोग उपस्थित रहे। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.