सुशीला पाटनी व पाटनी परिवार का साढ़े पांच फीट ऊंचे रजत कीर्ति स्तंभ से सम्मानित

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Oct 2018 04:37:32 PM
Sushila Patni and Patni family honored with silver pinnacle column of five and a half feet high

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। गुरुदेव मुनि पुगंव सुधासागरजी महाराज के सानिध्य में सुदर्शनोदय तीर्थ आवा में भारतवर्षीय  दिगम्बर जैन महिला महा समिति के 25वें रजत अधिवेशन के अवसर पर समिति की संरक्षक व जैन गौरव अशोक पाटनी की पत्नी सुशीला पाटनी को आचार्य भगवन से दो प्रतिमा के व्रत ग्रहण करने पर उन्हें महा समिति की ओर से साढ़े पांच फीट ऊंचे रजत कीॢत स्तंभ से महा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष मणिन्द्र जैन,व्रती  श्रावक सुप्रसिद्ध चिकित्सक डॉ.सुभाष शाह मुम्बई,शीला डोड्या, डॉ. वंदना जैन, शालिनी बाकलीवाल, रजनी काला मुंबई, इन्दुजी मुंबई,इन्दु गांधी अशोक नगर ने महा समिति की ओर से विशाल जन समुदाय की तालियों के बीच सम्मानित किया।  


इस अवसर पर परम पूज्य गुरुदेव के प्रवचनों का अनुसरण करते हुए  पाटनी परिवार की ओर से शांता व तारिका पाटनी व महासमिति के विभिन प्रांतों से आए 70 संभागों के प्रतिनिधियों ने भी सम्मान किया। समारोह के देश के विभिन्न भागों से 4 हजार के आसपास महिलाओं ने शिरकत की। इस मौके पर जिनवाणी सजाओ प्रतियोगिता, ‘अहिंसा’ विषय पर स्लोगन प्रतियोगिता, ‘हमारे देश का नाम इंडिया नहीं भारत हो’ विषय पर निबंध प्रतियोगिता सहित अनेक प्रतियोगिताएं हुई।  

अधिवेशन के दौरान ‘लव जिहाद नारी जीवन के लिए अभिशाप’ विषय पर वक्ताओं ने अपने विचार रखे। इस मौके पर जैन पद्धति के अनुसार दिन में विवाह करने वाले 15 जोड़ों का सम्मान किया साथ ही अर्चना जैन पटवारी बिजौलिया,संगीता जैन सूरत और क्ल्पना जैन गुना का नारी गौरव से सम्मान किया गया।  

इस मौके पर तीर्थ क्षेत्र पर समिति की ओर से 1 हजार पौधे लगाए गए। उन पौधे की सार संभाल भी समिति करेगी। मध्य प्रदेश महासभा के संयोजक विजय जैन धुर्रा ने बताया कि सुशीला पाटनी ने इस वर्ष परम पूज्य आचार्य भगवन गुरुदेव श्री विद्या सागर जी महाराज से दो प्रतिमा के व्रत ग्रहण कर कुएं का जल ग्रहण करने का संकल्प लिया है जिसका हम सभी देशवासी अभिनंदन करते हुए अनुमोदना करते हैं । Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.