आखिर क्यों होता है पूजा में अगरबत्ती का उपयोग ?

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Dec 2017 11:05:22 AM
benefits of using agarbatti in prayer

धर्म डेस्क। अगरबत्ती या धूपबत्ती जलाना पूजा करने का एक अनिवार्य हिस्सा है। कई धार्मिक परंपराओं और मैडिटेशन के दौरान इस परंपरा का पालन किया जाता है। आज, हम आपको इस प्राचीन भारतीय परंपरा का वैज्ञानिक कारण बताने जा रहे है, जिसका अर्थ कमरे में सुगंध फैलाने से कहीं अधिक गहरा है।

क्‍या आप जानते हैं भगवान विष्णु से जुड़े ये 3 रोचक तथ्य?

प्राचीन काल में, अगरबत्ती बनाने के लिए कई औषधीय पदार्थों का उपयोग किया जाता था। इसके लिए लोबान और गुग्गुल विशेष रूप से उपयोग किया जाता था और आज भी इनका बहुतायत से इस्तेमाल किया जाता है। लोबान को बोसवेलिया पेड़ से निकाला जाता है। जैसा कि हम अगरबत्ती जलाते है, यह हमारे दिमाग में टीआरपीवी 3 प्रोटीन को उत्पन्न करता है, जो त्वचा में उत्तेजना पैदा करता है, जिससे आपकी इंद्रियों को आराम मिलता है और आपका तनाव कम हो जाता है।

जानिये! एक ऐसे हिन्दू मंदिर के बारे में जहाँ की जाती है मुस्लिम महिला की पूजा

अथर्ववेद ने गुग्गुल के विभिन्न लाभों का विस्तार से वर्णन किया गया है। यह कठोर गर्मी के दौरान पौधे द्वारा उत्सर्जित एक ओलेओ गम है। इसमें कई एंटीसेप्टिक गुण हैं जिसकी वजह से इससे निर्मित धूपबत्ती जलाने से हवा शुद्ध होती है।

अगरबत्ती या धूपबत्ती जलाने से एक ताजा गंध फैलती है जो हमारे मन को शांत करती है और एकाग्रता बढ़ाने में मदद करती है। वास्तु में अगरबत्ती जलाने को हवा में उपस्थित किसी भी प्रकार के हानिकारक पदर्थों को समाप्त करके हमारे चारों ओर सकारात्मकता फैलाने वाला माना जाता है।

तो इसलिए लगायी जाती है मंदिरों में घंटिया....

लेकिन पूजा के लिए अगरबत्ती खरीदते समय इस बात का ध्यान रखें कि ये अच्छी क्वालिटी की हों। कृत्रिम सामग्रियों के साथ सस्ती अगरबत्तियां स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा कर सकती है। वे घर में आंतरिक प्रदूषण का कारण बन सकती हैं और इनसे रक्त में कार्बन मोनोऑक्साइड (सीओ) और नाइट्रोजन ऑक्साइड की एकाग्रता बढ़ जाती है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.