इन मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं होती हैं पूरी

Samachar Jagat | Thursday, 20 Sep 2018 05:34:20 PM
By chanting these mantras all the desires of the person are fulfilled

धर्म डेस्क। गुरूवार का दिन देव गुरू बृहस्पति का दिन माना जाता है, इस दिन अगर पूरे विधि - विधान से देवगुरू बृहस्पति की पूजा की जाए तो वे प्रसन्न होते हैं और भक्त की मनोकामनाएं पूरी करते हैं। अगर आप गुरूवार का व्रत रखते हैं तो आपको इस दिन कुछ खास मंत्रों का जाप भी करना चाहिए। इन मंत्रों का जाप करने से देव गुरू बृहस्पति जल्दी ही प्रसन्न होते हैं और भक्त पर अपनी कृपा बनाए रखते हैं आइए जानते हैं गुरूवार के दिन किन खास मंत्रों का जाप करना चाहिए....

बीज मंत्र :-

ऊॅॅँ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नमः

मंत्र :-

ऊॅॅँ बृं बृहस्पये नमः
ॐ बृं बृहस्पतये नमः।
ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमः।

कुंवारों के लिए बड़े काम का है ये फूल, मिलता है मनचाहा जीवनसाथी

ॐ नमोः नारायणाय। 
ॐ नमोः भगवते वासुदेवाय नमः।
ॐ नमो नारायण। श्री मन नारायण नारायण हरि हरि। 
ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर। 
भूरि घेदिन्द्र दित्ससि। 
ॐ भूरिदा त्यसि श्रुतः पुरूत्रा शूर वृत्रहन्।
आ नो भजस्व राधसि। 

विशेष मंत्र :-

ॐ देवानां च ऋषीणां गुरुं कांचनसन्निभम।
बुद्धिभूतं त्रिलोकेशं तं नमामि बृहस्पतिम्।। 

बृहस्पति की शांति के लिए वैदिक मंत्र :-

ऊॅँ बृहस्पते अति यदर्यो अर्हाद् द्युमद्बिभाति क्रतुमज्जनेषु। 
यद्दीदयच्छवस ऋतप्रजात तदस्मासु द्रविणं धेहि चित्रम्।।

बृहस्पति की शांति के लिए पौराणिक मंत्र :-

देवानां च ऋषीणां च गुरुं कांचनसंनिभम्। 
बुद्धिभूतं त्रिलोकशं तं नमामि बहस्पतिम्।।

( इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है। )

भगवान शिव के भी परमप्रिय सेवक हैं धन के देवता कुबेर, प्रसन्न करने के लिए करें इस मंत्र का जाप

 


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.