अपने कारखाने के वास्तुदोष को दूर करने के लिए इन वास्तु टिप्स को करें फॉलो

Samachar Jagat | Monday, 08 Oct 2018 02:24:36 PM
Follow these architectural tips to remove the architecture of your factory

धर्म डेस्क। कई बार व्यक्ति अपने बिजनेस को अच्छा चलाने के लिए पूरी कोशिश करता है लेकिन पूरे प्रयास करने के बाद भी उसे सफलता नहीं मिलती है। ऐसा वास्तुदोष के कारण होता है, जहां आपका कारखाना है अगर उस स्थान पर वास्तुदोष हो तो पूरे प्रयास करने के बाद भी आमंदनी नहीं होती है। ऐसे में उस स्थान के वास्तुदोष को दूर करना बहुत आवश्यक होता है आइए जानते हैं कैसे करें अपने कारखाने के वास्तुदोष को दूर  ...........

इन पांच राशि के जातकों को आने वाले सप्ताह में होगा आर्थिक लाभ

अपने व्यवसाय को वास्तुदोष से दूर रखना है तो अपने कारखाने में भारी मशीनें हमेशा दक्षिण दिशा या नैऋत्य कोण में ही लगाएं।

वास्तु शास्त्र के अनुसार जनरेटर, भट्टी और बिजली के मीटर कारखाने के आग्नेय कोण में लगाएं, इससे कारोबार सही तरीके से चलता है । 

मशीनों की मरम्मत एवं रखरखाव की वर्कशाप को वास्तु के अनुसार पश्चिम दिशा में बनाना चाहिए ।

राशि अनुसार घर में इस रंग के पौधे लगाने से होता है लाभ

वास्तु शास्त्र के अनुसार कारोबार स्थल की पूर्व दिशा में अनुसंधान एवं विकास की इकाई बनाएं।

कारखाने में काम करते समय कर्मचारियों का मुंह उत्तर या पूर्व की ओर होना चाहिए।

अगर कारखाने में रासायनिक एवं तरल पदार्थों का उपयोग होता है तो इन्हें दक्षिण दिशा में रखें।

( इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

जानिए! क्यों श्राद्ध के भोजन में सबसे पहले निकाला जाता है अग्नि का भाग

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.