इन चीजों के बिना अधूरी है गणपति की पूजा

Samachar Jagat | Tuesday, 11 Sep 2018 09:50:48 AM
Ganpati worship is incomplete without these things

धर्म डेस्क। गणेश चतुर्थी के दिन व्रत करने से विघ्न हर्ता भगवान गणेश भक्त के सभी कष्ट हर लेते हैं। इस दिन भगवान गणेश की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। गणेश पूजा में अगर कुछ खास चीजों को शामिल किया जाए तो इससे गजानन जल्द ही प्रसन्न होते हैं। ये माना जाता है कि ये चीजें भगवान गणेश को बहुत प्रिय हैं और जो भक्त गणेश चतुर्थी के दिन उन्हें ये चीजें अर्पित करता है गणपति उससे प्रसन्न होकर उसके लिए सुख और समृद्धि के द्वार खोल देते हैं, आइए आपको बताते हैं इन चीजों के बारे में....

हरी दूर्वा :-

भगवान गणेश को हरी दूर्वा बहुत प्रिय है, इसलिए गणेश चतुर्थी के दिन पूजा में हरी दूर्वा अवश्य शामिल करें।

श्रीफल :-

गणेश चतुर्थी के दिन गणेश पूजा में श्री फल जरुर रखें, भगवान गणेश को श्रीफल अर्पण करने से वे प्रसन्न होते हैं।

मोदक :-

मोदक के बिना तो गणेश जी पूजा पूरी हो ही नहीं सकती है, गणेश जी को मोदक बहुत पसंद हैं। गणेश चतुर्थी के दिन भगवान गणेश को मोदक का भोग लगाने से वे भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

हल्दी :-

भगवान गणेश को पीला रंग बहुत प्रिय है, हल्दी भगवान गणेश की प्रिय वस्तु में से एक है इसलिए गणेश पूजा में कच्ची हल्दी, पीला धागा, पीला फूल जरुर शामिल करें। पूजा करने के बाद इन सभी चीजों को घर या व्यवसाय की तिजोरी में रखें, धन-संपत्ति में वृद्धि होगी।

In addition to Shivaji, Lord Ganesha had another father, Know about them

चावल :-

भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए चावल को गीला करें फिर, 'इदं अक्षतम् ऊं गं गणपतये नमः' मंत्र बोलते हुए तीन बार चावल चढ़ाएं।

सिंदूर :-

सिंदूर की लाली गणेश जी को बहुत पसंद है। गणेश जी की प्रसन्नता के लिए लाल सिंदूर का तिलक लगाएं। गणेश जी को तिलक लगाने के बाद अपने माथे पर सिंदूर का तिलक लगाएं। इससे गणेश जी की कृपा प्राप्त होती है।

बूंदी के लड्डू :-

चतुर्थी के दिन गणेश जी को बूंदी के लड्डू का भोग लगाएं और इसे प्रसाद के रूप् में सभी को बांट दें।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.