पांडुपोल मेले में लाखों भक्तों ने किए हनुमान जी के दर्शन

Samachar Jagat | Wednesday, 12 Sep 2018 12:39:23 PM
Hanuman ji exhibited by millions of devotees at Pandupol fair

अलवर। राजस्थान में अलवर के सरिस्का बाघ परियोजना के मध्य में स्थित पांडुपोल वाले हनुमान जी के मेले में लाखों भक्तों ने हनुमान जी के आगे नतमस्तक होकर अपने घर में सुख-समृद्धि की मन्नतें मांगी। मेले के दौरान प्रशासन की और से सभी तरह की व्यवस्थाएं मजबूत रहीं। इस अवसर पर जिले में हनुमान जी की घर - घर में जोत देखी गई, दाल बाटी चूरमा का भोग लगाया गया। जन जन को लोक आस्था के प्रतीक इस ऐतिहासिक लक्खी मेले के दौरान देश भर से सभी प्रांतों से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। प्रशासन की तरफ से मुख्य पोल पर भक्तों को जाने के लिए पूरी तरह रोक रही और रोडवेज बसों के द्बारा सरिस्का से पांडुपोल तक भक्तों को पहुंचाया गया। जिसमें उमेरी तिराहां पर रोडवेज बसों का ठहराव बन गया जहां से श्रद्धालुओं को पांडुपोल स्थान तक पैदल जाना पड़ा।

पुजारी चेतन शर्मा ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस बार भी पांडुपोल हनुमान जी महाराज का लक्खी मेला बड़े हर्ष उल्लास के साथ मनाया जा रहा है जिसमें प्रशासन की ओर से पूरे इंतजाम है और महाभारत काल से यह मंदिर यहां स्थित है और पांडुपोल जी महाराज के हनुमान जी की लेटी हुई प्रतिमा है जहां श्रद्धालु दंडोतिया सवामणी या छोटे बच्चों के जडूले उतरवाना नवविवाहित जोड़े की गठजोड़ी की जात आदि मांगलिक कार्य करते हैं। मेले का प्रारंभ 8 सितंबर को रामायण पाठ के साथ शुरु हुआ ।

मेले के दौरान कानून व्यवस्था को लेकर प्रशासन की ओर से पुलिस जाब्ता भारी संख्या में लगाया गया मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए रोडवेज बसों की व्यवस्था की गई है और मेला परिसर स्थल पर पुलिस कंट्रोल रूम बनाया गया है । मंदिर मेला कमेटी की ओर से जगह-जगह टेंट व्यवस्था और पीने के पानी की व्यवस्था की गयी है। मेले के दौरान आने वाले श्रद्धालुओं को वन्य जीवों की सुरक्षा एवं कच्चे रास्तों के उपयोग न करने के लिए चेतावनी बोर्ड लगाए गए। इसके अलावा श्रद्धालुओं के लिए भंडारे एवं अन्य सेवाओं के लिए कई सामाजिक संगठन सेवा कार्य कर रहे हैं। -एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.