हरतालिका तीज व्रत आज, सोलह श्रृंगार कर करें माता पार्वती का पूजन

Samachar Jagat | Wednesday, 12 Sep 2018 02:48:03 PM
Haratalika Teej fast today, do sixteen make-up worship of Mata Parvati

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

धर्म डेस्क। भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज व्रत किया जाता है। आज हरतालिका तीज व्रत है,  मान्यता है कि मां पार्वती ने हरतालिका तीज व्रत को शिवजी को पति रूप में पाने के लिए किया था । इसलिए अच्छे वर की प्राप्ति के लिए कुंवारी लड़कियां भी ये व्रत कर सकती हैं, वहीं विवाहित स्त्रियों द्वारा ये व्रत अखंड सुहाग के लिए किया जाता है। इस व्रत में भगवान शिव और मां पार्वती का पूजन किया जाता है ।

हरतालिका तीज व्रत विधि :-

हरतालिका तीज व्रत वाले दिन नए लाल वस्त्र पहनकर, मेंहदी लगाकर, सोलह श्रृंगार करके शुभ मुहूर्त में माता पार्वती और भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए। इस व्रत में हरितालिका तीज की कथा सुनी जाती है और माता पार्वती पर सुहाग का सारा सामान चढ़ाया जाता है । जो हरितालिका व्रत को विधि पूर्वक करता है, उसके सौभाग्य की रक्षा स्वयं भगवान शिव करते हैं ।

भगवान शिव के भी परमप्रिय सेवक हैं धन के देवता कुबेर, प्रसन्न करने के लिए करें इस मंत्र का जाप

हरतालिका तीज व्रत का शुभ मुहूर्त :-

इस बार हरतालिका तीज पर पूजा करने का सही मुहूर्त सूर्योदय के बाद से शाम 6 बजकर 46 मिनट तक है, शुभ मुहूर्त में की गई पूजा से शुभ फल की प्राप्ति अवश्य होती है। हरतालिका तीज की पूजा प्रदोष काल में करना बहुत ही शुभ माना जाता है। हरतालिका तीज व्रत मुख्‍य रूप से उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्‍थान और मध्‍य प्रदेश में किया जाता है। 

( इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है। )

भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए गणेश चतुर्थी पर करें इन मन्त्रों का जाप

अगर हथेली पर है इस तरह का निशान, तो आप हैं दुनिया के सबसे भाग्यशाली इंसान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.