अगर आप किसी शुभ काम के लिए जा रहे हैं तो अपनी राशि के अनुसार पहनकर जाएं इस रंग के कपड़े, कार्य में मिलेगी सफलता

Samachar Jagat | Thursday, 02 May 2019 07:00:01 AM
If you are going for auspicious work Wear clothes of this color according to your zodiac

धर्म डेस्क। अगर आप किसी शुभ कार्य के लिए जा रहे हैं और आप चाहते हैं कि आपको इस कार्य में सफलता मिले तो आप अपनी राशि अनुसार लकी रंग के कपड़ों को पहनकर जाएं। माना जाता है कि अगर व्यक्ति अपनी राशि के अनुसार लकी रंग पहनकर किसी कार्य के लिए जाता है तो उसकी किस्मत उसका साथ देती है और उसे कार्य में सफलता प्राप्त होती है। आपकी राशि के अनुसार आपका लकी रंग क्या है आइए जानते हैं इसके बारे में ..............

मेष राशि :-

मेष राशि के जातक किसी भी शुभ काम पर जाते समय लाल और नारंगी रंग के कपड़े पहनें, ये रंग इनके लिए बहुत लकी होता है। 

वृषभ राशि :-

वृष राशि के जातकों का लकी रंग नीला और गुलाबी है, इन्हें शुभ काम पर जाते समय इन रंगों के कपड़े पहनने चाहिए।

मिथुन राशि :-

मिथुन राशि के जातकों को हरे और नीले रंग के कपड़ों का चयन करना चाहिए, राशि के अनुसार ये रंग इनके लिए काफी लकी होते हैं। 

कर्क राशि :-

कर्क राशि के जातकों का लकी रंग क्रीम और गुलाबी है।

सिंह राशि :-

सिंह राशि के जातकों को पीले और लाल रंग का इस्तेमाल करने से लाभ होता है।

कन्या राशि :-

कन्या राशि के जातकों के लिए काला और गुलाबी रंग लकी माना जाता है।

तुला राशि :-

तुला राशि के जातकों का लकी रंग है गुलाबी और आसमानी, इन्हें किसी भी आवश्यक कार्य पर जाते समय इसी रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

वृश्चिक राशि :-

वृश्चिक राशि के जातकों को लाल और नारंगी रंग का इस्तेमाल करने से लाभ होता है। 

धनु राशि :-

धनु राशि के जातकों के लिए गुलाबी और पीला रंग लकी माना जाता है। 

मकर राशि :-

मकर राशि के जातकों का लकी रंग नीला और काला है।

कुंभ राशि :-

कुंभ राशि के जातकों को गुलाबी और हरा रंग पहनने से लाभ होता है।

मीन राशि :-

मीन राशि के जातकों का लकी रंग पीला और सफेद है।

(आपकी कुंडली के ग्रहों के आधार पर राशिफल और आपके जीवन में घटित हो रही घटनाओं में भिन्नता हो सकती है। पूर्ण जानकारी के लिए कृपया किसी पंड़ित या ज्योतिषी से संपर्क करें।)

सत्यवती ने इन तीन शर्तों को पूरा करने के बाद किया था ऋषि पाराशर के प्रेम को स्वीकार, जानिए क्या था इसका महाभारत से संबंध

जानिए! चारों युगों में पाप और पुण्य की मात्रा के अलावा और किन-किन चीजों में हुआ परिवर्तन



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.