जानिए! घर की किस दिशा में लगाना चाहिए Fountain

Samachar Jagat | Sunday, 10 Jun 2018 05:36:33 PM
In which direction of house should a fountain be placed

धर्म डेस्क। वास्तुशास्त्र में फव्वारे का बहुत महत्व होता है। फव्वारा जल तत्व को बढ़ावा देता है। जल का संबंध कमाई से होता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार एक फव्वारा सकारात्मक माहौल उत्पन्न करता है। पानी धन का प्रतीक होता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार चलते हुए पानी के फव्वारे को अगर गलत स्थान में रखा जाए तो वहां पर नकारात्मक ऊर्जा बढ़ने के साथ ही सकारात्मक ऊर्जा कम होने लगती है। ऐसे में फव्वारे को किस दिशा या स्थान पर रखा जाए इसके बारे में किसी वास्तुविशेषज्ञ से सलाह लेना आवश्यक होता है। घर में फव्वारा रखने के कई फायदे भी हैं, जो इस प्रकार हैं...

जानिए कौन था सहस्त्रार्जुन और क्या था इसका रावण से संबंध

वास्तुशास्त्र के अनुसार जब व्यक्ति तनाव में घर लौटता है तो फव्वारा देखकर उसके मन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जिससे व्यक्ति को तनाव से मुक्ति मिलती है।  

वहीं अगर आपके पैसे का आवागमन रुक गया है तो भी आप इसे उपयोग मे ला सकते है।

कर्ज से छुटकारा पाने के लिए करें ये उपाय 

वास्तुशास्त्र के अनुसार फव्वारा हमेशा उत्तर-पूर्व में रखना चाहिए। यह हमेशा बहता रहना चाहिए। रुका हुआ फव्वारा धन की हानि करता है।

फव्वारा मुख्य द्वार के बायीं ओर रहना चाहिए। मुख्य द्वार के सामने नहीं रहना चाहिए।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.