केदारनाथ धाम के दूसरे चरण की यात्रा हुई शुरू

Samachar Jagat | Friday, 14 Sep 2018 01:27:28 PM
Journey to Kedarnath Dham Phase II start

रुद्रप्रयाग। बारिश का सिलसिला थमने के बाद केदारनाथ धाम के दूसरे चरण की यात्रा शुरू हो गयी है और यात्रियों की आवाजाही बढने से बाबा के दरबार की रौनक फिर से लौट चुकी है। गत दस सितंबर से भोले के दरबार में तीर्थयात्रियों की आमद बढ़ती जा रही है। जहां पहले बारिश के कारण कम तीर्थयात्री ही बाबा के दरबार पर पहुंच रहे थे, वहीं अब हर दिन एक हजार के करीब तीर्थयात्री बाबा के दरबार में पहुंच रहे हैं। हेली सेवाओं के आने के बाद से केदारघाटी में यात्रियों की आवाजाही में वृद्धि हुई है। 

केदारघाटी में मौसम के करवट बदलते ही यात्रा भी परवान चढ़ने लगी है। सुबह के समय घाटी में चटक धूप खिल रही है, जिसके बाद हेली सेवा के जरिए तीर्थयात्री केदारनाथ पहुंच रहे हैं। इसके अलावा राजमार्ग से भी तीर्थयात्रियों की आवाजाही हो रही है, लेकिन राजमार्ग के हालत खस्ता होने से तीर्थयात्री खासे परेशान हैं। ऐसे में राजमार्ग से आने वाले तीर्थयात्रियों को खासी दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। 

हेली सेवाओं से यात्रा करने वाले तीर्थयात्री सुबह जाकर शाम को वापस लौट रहे हैं। यात्रियों की आवाजाही बढ़ने से केदारनाथ धाम भी गुलजार होने लगा है। देश-विदेश से आए तीर्थयात्रियों को बस बाबा के पास जाने का इंतजार है। मौसम के खराब होने पर तीर्थयात्रियों के चेहरों पर मायूसी देखी जा रही है, मगर जैसे ही मौसम साफ हो रहा है, यात्रियों के चेहरों पर रौनक लौट रही है। 

केदारघाटी और केदारनाथ में मौसम कब बदल जाए, कहा नहीं जा सकता। सुबह के समय चटक धूप केदारघाटी में रहती है तो दोपहर में बादल छाने लगते हैं। इसके बाद शाम के समय फिर बादल हट जाते हैं। ऐसे में हेली सेवा कंपनी सुबह छ: बजे से सेवाएं दे रही हैं और एक बजे तक सेवा देने के बाद फिर चार से छ: बजे तक हेली उड़ाने भर रही है। अब तक बाबा केदार के दरबार में 6 लाख 50 हजार से अधिक तीर्थयात्री मत्था टेक चुके हैं। 

यात्रियों के आने से व्यापारियों के चेहरे भी खिल उठे हैं। गुजरात से आए राहुल, सूरज, आकाश और शिव ने कहा कि वे पहली बार केदारनाथ की यात्रा पर आए हैं। केदारघाटी में आने के बाद शेरसी से हेली सेवा की बुकिंग कर केदारनाथ पहुंचे। उन्होंने कहा कि बाबा का धाम पवित्र और अछ्वुत है। यहां आकर मन को शांति की प्राप्ति होती है। बताया कि देहरादून से फाटा तक का सफर राजमार्ग से तय किया गया। राजमार्ग के हालत काफी नाजुक हैं। जब से ऑल वेदर का कार्य शुरू किया गया है, तब से काफी दिक्कतें पैदा हो रही हैं। 

वहीं हेली सेवा के नोडल अधिकारी सुरेन्द्र पंवार ने बताया कि केदारघाटी में आर्यन, ऐरो, हिमालयन और ग्लोबल चार हेली सेवा कंपनी सेवाएं दे रही हैं। आगामी 15 सितंबर तक पांच और हेली सेवा कंपनी केदारघाटी में पहुंच जायेंगी, जिनमें पिनेकल, ट्रांस भारत, पवन हंस, यू टेयर, हैरिटेज शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हेली सेवाओं के आने के बाद से यात्रा में काफी इजाफा हुआ है। तीर्थयात्रियों को हेली सेवा से काफी राहत मिल रही है। उन्होंने कहा कि केदारघाटी में सुबह और शाम के समय मौसम साफ रहने से हेली सेवाएं कंपनी पूरा फायदा उठा रही हैं। -एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.