केरल में ओणम के मौके पर मंदिरों में भारी भीड़

Samachar Jagat | Saturday, 25 Aug 2018 05:29:01 PM
Massive crowd in temples on the occasion of Onam in Kerala

तिरुवनंतपुरम। केरल में हाल ही में आई भीषण बाढ़ के बावजूद लोगों में ओणम त्योहार को लेकर जबर्दस्त उत्साह और खुशी है तथा सुबह से ही यहां के मंदिरों में काफी भीड़ देखी जा रही है। गुरुवायूर के श्रीकृष्णा और श्री पद्मनाभा स्वामी मंदिर और अरानमुला के श्री पार्थसारथी मंदिर में दर्शनार्थियों की जबर्दस्त भीड़ है। गौरतलब है कि विनाशकारी बाढ़ को देखते हुए राज्य सरकार ने पहले ही ओणम के मौके पर आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और सरकारी मशीनरी राहत तथा बचाव कार्यों में लगी हुई है। राज्य के विभिन्न जिलों के हजारों राहत शिविरों में अभी भी आठ लाख से अधिक लोग रह रहे हैं।

मगर इस प्राकृतिक हादसे के बाद भी लोगों में पारंपरिक त्योहार को मनाने का जज्बा बरकरार है और पौराणिक राजा महाबलि की याद में मनाए जाने वाले तिरुओणम को मनाने के लिए मंदिरों में लोगों की काफी भीड़ है। केरल में ओणम महत्वपूर्ण त्योहार माना जाता है और यह मलयालम माह छिगम में वर्षा काल की समाप्ति तथा फसली सीजन की शुरुआत का प्रतीक है। अंग्रेजी कलेंडर के मुताबिक यह पर्व अगस्त/सितंबर में आता है।

इस साल अलापुजहा पलक्कड़ और राज्य में अनेेक स्थानों में हुई जोरदार बारिश से खेती तबाह हो गयी है। राज्य सरकार ने भारी बारिश के बाद आई बाढ़ के चलते विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम जैसे नौका दौड़, सजे-धजे हाथियों के जुलूस, आतिशबाजी, कथकली और मोहिनीअम नृत्य रद्द कर दिए हैं। पर्यटन विभाग की ओर से संचालित एक हफ्ते की अवधि वाले ओणम कार्यक्रमों को पहली बार राजधानी में रद्द किया गया है। ओणम के मौके पर राज्यपाल न्यायमूर्ति(सेवानिवृत्त) पी सदाशिवम तथा मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने राज्यवासियों को बधाई दी है। -एजेंसी 

भगवान शिव के भी परमप्रिय सेवक हैं धन के देवता कुबेर, प्रसन्न करने के लिए करें इस मंत्र का जाप

अगर आपके घर में है किसी की शादी तो बिना पंड़ित के पास जाए इस तरीके से निकालें विवाह का मुहूर्त



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.