पूजा करते समय इस दिशा में रखें अपना मुख

Samachar Jagat | Tuesday, 22 Nov 2016 03:38:36 PM
पूजा करते समय इस दिशा में रखें अपना मुख

प्रतिदिन सभी घरों में भगवान की पूजा-उपासना की जाती है। पूजा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। पूजा करते समय आपका मुख किस दिशा में होना चाहिए और भगवान की प्रतिमा का मुख किस दिशा में होना चाहिए इसके बारे में ध्यान रखा जाए तो विशेष फल की प्राप्ति होती है।

गायत्री मंत्र का नित्य एक माला जाप करने से बढ़ती है बुद्धि

वास्तु के अनुसार यदि आप अपने घर में पूजा कर रहे हैं तो पूर्व दिशा में मुख करके पूजा करें। इसमें देव प्रतिमा (यदि हो तो) का मुख और दृष्टि पश्चिम दिशा की ओर होती है। इस प्रकार की गई उपासना हमारे भीतर ज्ञान, क्षमता, सामर्थ्य और योग्यता प्रकट करती है, जिससे हम अपने लक्ष्य की तलाश करके उसे आसानी से हासिल कर लेते हैं।

नवग्रहों की शांति के लिए घर में रखें ये पौधा

इसके अलावा उन्नति के लिए कुछ ग्रंथ उत्तर की तरफ होकर भी उपासना का परामर्श देते हैं। वहीं मंदिर में पूजा करते समय वास्तु के नियम बदल जाते हैं, यदि आप किसी मंदिर में जाते है तो आप देखेंगे की भगवान को पश्चिम व दक्षिण में स्थान दिया जाता है। वास्तु में मंदिर को भगवान का घर माना गया है इसीलिए मालिक को दक्षिण में ही रखा जाता है जिस से मंदिर में पूजा करते हुए आपका मुख पश्चिम या दक्षिण की तरफ आ जाता है, अतः वास्तुशास्त्र के अनुसार मंदिर में पूजा करने की यही उत्तम स्थिति होती है।

इन ख़बरों पर भी डालें एक नजर :-

लाखो, करोड़ो नहीं बल्कि अरबों में है इन कारों की कीमत

जल्द भारतीय बाजार में दस्तक देगीं ये परफॉर्मेंस बाइक्स

रखेगें इन बातों का ध्यान तो सुपरकार की तरह दिखेगी आपकी कार

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.