हनुमान चालीसा का पाठ करने से होती है बुद्धि और बल की प्राप्ति

Samachar Jagat | Saturday, 14 Apr 2018 05:30:30 PM
Reading Hanuman Chalisa brings wisdom and strength

धर्म डेस्क। भगवान राम के परम भक्त हनुमान का ध्यान अगर पूरे मन और श्रद्धा से किया जाए तो इससे भगवान राम प्रसन्न होते हैं। हनुमान के हृदय में श्री राम बसते हैं और जो व्यक्ति हनुमान की भक्ति करता है उस पर श्रीराम की कृपा बनी रहती है। हनुमान जी को प्रसन्न करने का सबसे अच्छा माध्यम है हनुमान चालीसा। 

जानिए! दूध से जुड़े कुछ शकुन-अपशकुन के बारे में .......

Know why the picture of Hanuman ji should be put in the house

हनुमान चालीसा में बजरंगबली के जीवन का सार छुपा हुआ है। महान कवि तुलसीदास द्वारा लिखे गए हनुमान चालीसा में 40 छंद हैं जिसके कारण इसे चालीसा कहा जाता है। हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बहुत महत्व है। कुछ लोग तो प्रत्येक मंगलवार को हनुमान चालीस का पाठ करते हैं, वहीं शनिवार के दिन हनुमान चालीस का पाठ करना भी अच्छा माना जाता है। आइए जानते है क्यों है हनुमान चालीसा का इतना महत्व..............

धनवान बनने के लिए व्यक्ति की कुंडली में होने चाहिए ये योग

Why is the vermilion given to Hanuman ji

जो व्यक्ति प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करता है उससे डर, भय और विपत्ति दूर रहती हैं।

अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि दोष है या व्यक्ति पर शनि की साढे़साती चल रही है तो उस व्यक्ति को शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से लाभ होता है।  

धन वृद्धि के लिए दीपक जलाते समय करें इन नियमों का पालन

Know why this time Hanuman Jayanti is special

जिस व्यक्ति पर किसी भूत-प्रेत का साया हो अगर वह हनुमान चालीसा का पाठ करता है तो उसे इन बाधाओं से मुक्ति मिलती है।  

अध्ययन करने वाले छात्रों को प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए, इससे बुद्धि और बल की प्राप्ति होती हैं।

Source-Google

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

जानिए कौन था सहस्त्रार्जुन और क्या था इसका रावण से संबंध

 


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.