सावन का आखिरी मंगलवार आज, इन मंत्रों से करें भोलेनाथ को प्रसन्न

Samachar Jagat | Tuesday, 21 Aug 2018 09:50:27 AM
The last Tuesday of Savan today, Bless Bholenath with these mantras

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

धर्म डेस्क। सावन का आखिरी मंगलवार आज है, अगर आज के दिन भोलेनाथ की पूरे मन से पूजा की जाए तो व्यक्ति को अनेक समस्याओं से छुटकारा मिलता है। अगर आज शिव पूजा के साथ ही विशेष उपाय शिव मंत्र के साथ किए जाएं तो इससे व्यक्ति की सभी मनोकमानाएं पूरी होती हैं और धन-धान्य में वृद्धि होती है। आइए जानते हैं इस उपाय और मंत्र के बारे में .......

ब्रह्माजी और भगवान विष्णु में इस बात को लेकर हुआ विवाद, शिवजी ने काट डाला ब्रह्माजी का एक सिर

Spiritual city prayag On the last Monday of Savan Shivamay

आज शिव मंदिर में जाकर शिवलिंग का गंगाजल से अभिषेक करें और इस मंत्र का जाप करें 

ऊँ महाशिवाय सोमाय नमः।

गंगाजल से अभिषेक करने के बाद भोलेनाथ पर गाय का दूध अर्पित करें। भोलेनाथ पर गाय का दूध अर्पित करने से धन-धान्य की प्राप्ति होती है।

रावण ने यहां किया था भगवान शंकर पर गंगाजल अर्पित, सावन माह में लगती है भक्तों की भीड़

Learn ! How are Lord Shiva and Shankar different

इसके बाद शिवलिंग पर शहद चढ़ाएं, शिवलिंग पर शहद चढ़ाने से व्यापार -व्यवसाय में वृद्धि होती है। 

इसके बाद शुद्ध जल से भोलेनाथ को स्नान कराकर लाल चंदन और फूलों से भोलेनाथ का श्रृंगार करें। भगवान शिव पर चंदन लगाने से जीवन में सुख और शांति बनी रहती है। 

इसके साथ ही इस दिन इन शिवमंत्रों का जाप करें......

ॐ नमः शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नमः ॐ

ॐ अघोराय नम:
ॐ विरूपाक्षाय नम:
ॐ शर्वाय नम:
ॐ महेश्वराय नम:
ॐ विश्वरूपिणे नम:
ॐ त्र्यम्बकाय नम:
ॐ भैरवाय नम:
ॐ कपर्दिने नम:
ॐ शूलपाणये नम:
ॐ ईशानाय नम:

( इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है। )

भगवान शिव के भी परमप्रिय सेवक हैं धन के देवता कुबेर, प्रसन्न करने के लिए करें इस मंत्र का जाप

अगर आपके घर में है किसी की शादी तो बिना पंड़ित के पास जाए इस तरीके से निकालें विवाह का मुहूर्त

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.