वास्तुदोष को जन्म देता है इस दिशा में स्थित घर का मुख्य दरवाजा

Samachar Jagat | Sunday, 08 Jul 2018 05:26:54 PM
The main door of the house situated in this direction gives rise to the Vaastu defect

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

धर्म डेस्क। वास्तु शास्त्र में जितना महत्व घर के कमरों, किचन, लेटबाथ को दिया गया है उतना ही महत्व घर के मुख्य द्वार को दिया गया है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के मुख्य द्वार का सही दिशा में होना अत्यंत आवश्यक होता है। क्योंकि अगर घर का मुख्य दरवाजा सही दिशा में न हो तो ये वास्तुदोष को जन्म देता है। जिससे व्यक्ति को अनेक तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आपको बता दें कि साउथ-वेस्ट (नैऋत्य कोण) वास्तु शास्त्र की सबसे महत्वपूर्ण दिशा होती है। इस दिशा के कारक ग्रह राहु देव होते हैं।

इस दिशा में घर का मुख्य द्वार होना एक बड़ा वास्तु दोष माना जाता है जो आपको हर तरह की परेशानी देने की क्षमता रखता है। इसी कारण अगर इस दिशा में दरवाजा हो तो इससे उत्पन्न होने वाले वास्तुदोष को दूर करने के उपाय अवश्य करें। जिससे इस वास्तुदोष का प्रभाव आप पर न पड़े। चलिए आपको बताते हैं इन उपायों के बारे में ....

इस दोष को कम करने के वास्तु उपाय :-

इस दिशा में भारी दरवाजे का ही उपयोग करें, कोशिश करें की दरवाजा लोहे का हो।

दरवाज़े का रंग मेहरून या स्किन, भूरा हो।

वास्तुदोष को कम करने के लिए दरवाज़े के बाहर एक कोन्वेक्स शीशे का उपयोग करें।

वास्तु शास्त्र के अनुसार ऑफिस में कुछ इस तरह का होना चाहिए कर्मचारियों के बैठने का स्थान

यदि हिन्दू धर्म के मानने वाले हो तो घर के बाहर एक पंचमुखी हनुमानजी भी लगा सकते है।

दोष को कम करने के लिए उत्तर दिशा में एक दरवाज़ा बना लें इससे भी दोष कम होगा।

इस दिशा में किसी भी फव्वारे या पानी की वस्तु का इस्तेमाल न करें।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

बड़े काम की हैं वास्तु पर आधारित ये छोटी-छोटी बातें, घर से तनाव और परेशानियों को रखती हैं दूर

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.