भाग्यशाली लोगों को दिखता है ये शाकाहारी मगरमच्छ, प्रसाद खाकर भरता है अपना पेट

Samachar Jagat | Monday, 11 Feb 2019 02:11:55 PM
These vegetarian crocodiles are seen by lucky people

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

धर्म डेस्क। केरल के एक मंदिर में एक मगरमच्छ करीब 150 सालों से रह रहा है, लोगों का मानना है कि ये मगरमच्छ मंदिर की पहरेदारी करता है और जो इंसान किस्मत वाला होता है उसे ही इस मगरमच्छ के दर्शन होते हैं। आपको बता दें कि केरल के अनंतपुर झील मंदिर में बबिया नाम का दिव्य मगरमच्छ रहता है। यह मंदिर की रक्षा करता है और जो प्रसाद इसे दिया जाता है ये उसे ही खाता है। 


इन राशि के जातकों का स्वभाव होता है शर्मिला, कैसे करेंगे वेलेंटाइन डे पर अपने प्यार का इजहार

लोगों का मानना है कि यह मगरमच्छ पूरी तरह से शाकाहारी है और प्रसाद खाकर अपना पेट भरता है। यह मंदिर 9वी शताब्दी का बना हुआ है और इस मंदिर की मूर्तियों को 70 से ज्यादा औषधीय सामग्रियों से निर्मित किया गया है। यहां के लोगों का मानना है की इस मंदिर में तिरुअनंतपुरम के अनंत-पद्मनाभस्वामी आकर स्थापित हुए थे। 

कपड़े बदलते समय अगर आपकी जेब से गिर जाएं पैसे तो समझ लें ये होने वाला है आपके साथ

1945 में एक अंग्रेज अफसर ने मंदिर के मगरमच्छ को गोली चला कर मार डाला था परन्तु अविश्वनीय तरीके से वही मगरमच्छ अगले दिन झील में तैरता दिखाई दिया। मान्यता के अनुसार, इस मगरमच्छ के दर्शन केवल भाग्यशाली लोगों को ही होते हैं। वहीं जिसे भी यहां मगरमच्छ के दर्शन हो जाते हैं उस व्यक्ति की किस्मत चमक जाती है।

(ये सभी जानकारियां शास्त्रों और ग्रंथों में वर्णित हैं, लेकिन इन्हें अपनाने से पहले किसी विशेष पंडित या ज्योतिषी की सलाह अवश्य ले लें।)

कहीं आपकी तरक्की की राह में भी तो बाधाएं उत्पन्न नहीं कर रहीं राशि अनुसार आपके अंदर की ये कमियां

भूत-प्रेत का साया होने पर व्यक्ति को अपने हाथ में रखनी चाहिए ये चीज, आत्माएं नहीं पहुंचा सकती नुकसान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.