श्रावण मास में भूलकर भी नहीं करने चाहिए ये काम, भोलेनाथ हो जाते हैं रुष्ठ

Samachar Jagat | Thursday, 02 Aug 2018 05:16:03 PM
This work should not be done by forgetting in the month of Shravan,  Bholenath becomes angry

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

धर्म डेस्क। सावन का महीना भोलेनाथ को प्रसन्न करने और उनकी पूजा-अर्चना करने का महीना है। कुछ काम ऐसे होते हैं जो सावन माह में करने चाहिए इनसे भोलेनाथ प्रसन्न होते हैं जैसे भगवान शिव की नित्य पूजा करना, पूजा में बेलपत्र का प्रयोग करना आदि। वहीं कुछ काम ऐसे होते हैं जिन्हें सावन के महीने में नहीं करना चाहिए। इन कामों को करने से भोलेनाथ के साथ ही माता पार्वती भी क्रोधित होती है। आइए आपको बताते हैं सावन के महीने में किन कामों को करने से बचना चाहिए .........

अगर व्यक्ति के हाथ की ये रेखा पहुंचती है भाग्य रेखा तक तो वह बनता है धनवान

सावन के महीने में पूजा के समय कच्चे दूध से भगवान शिव का अभिषेक किया जाता है। इस माह में दूध भगवान शिव को समर्पित होता है अतः जो लोग नित्य भगवान शिव की पूजा करते हों और पूजा में कच्चे दूध का इस्तेमाल करते हों उन्हें दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आपको दूध पीना ही है तो आप इसमें थोड़ा सा केसर या चाय की पत्ती मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं।

19 साल बाद श्रावण मास में बन रहा है ये विशेष संयोग

If you want to fulfill the desire, then give it to Bholenath in the Sawan Month

जो भक्त भगवान शिव की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें इस माह में किसी भी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए, इसी के साथ उन्हें सात्विक जीवन जीना चाहिए। किसी से झगड़ा करने या अपशब्द कहने से भी बचना चाहिए।

जो लोग मदिरा पान या मांसाहार का सेवन करते हैं उन्हें इस माह में इसका त्याग कर देना चाहिए।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

अगर आप भी चाहते हैं कि आपका नया प्लॉट वास्तुदोष से मुक्त हो तो इन चीजों का रखें ध्यान

अगर चाहते हैं कि माता लक्ष्मी आप पर रहें मेहरबान तो इस तरह से अपनी झाडू का रखें ध्यान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.