धूम्रपान जानलेवा..! यहां पर धूम्रपान से प्रतिदिन हो रही है 17 लोगों की मौत

Samachar Jagat | Thursday, 04 Jul 2019 01:45:28 PM
17 people die every day from smoking

कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया में धूम्रपान के कारण होने वाले हृदयाघात और दिल की अन्य बीमारियों की वजह से प्रतिदिन 17 लोगों की मौत हो जाती है। ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी (एएनयू) की एक टीम ने गुरुवार को जारी अपने अध्ययन में बताया कि धूम्रपान करने वाले लोगों के हृदयवाहिनी संबंधित बीमारी से मरने का खतरा तीन गुना और हृदयाघात का खतरा दोगुना अधिक रहता है।

Rawat Public School

एएनयू के नेशनल सेंटर फॉर एपिडेमियोलॉजी एंड पापुलेशन हेल्थ की एमिली बैंक्स के नेतृत्व शोध टीम ने हृदयवाहिनी से संबंधित 36 प्रकार की बीमारियों के लिए 190000 ऑस्ट्रेलिया लोगों पर सात वर्ष तक अध्ययन किया। उन्हें पता चला कि धूम्रपान के कारण प्रतिवर्ष हृदयवाहिनी की बीमारियों से 6400 से अधिक लोगों की मौत हो जाती है जिन्हें रोका जा सकता था।

बैंक्स ने बताया कि अध्ययन के दौरान गरीब-अमीर, महिला-पुरुष, शहर-गांव आदि का भेद किए बगैर हर वर्ग के लोगों में धूम्रपान के कारण दिल का दौरा, आघात, दिल का काम करना बंद कर देना, दिल की मांस-पेशियों की बीमारी, धड़कनों से संबंधित बीमारी और गैंग्रीन जैसी बीमारियों के खतरों की जांच की गयी। उन्होंने कहा कि धूम्रपान के खतरे से कोई नहीं बचा है।

इससे हर वर्ग के लोगों के स्वास्थ्य को भारी नुकसान पहुंचता है। उन्होंने बताया कि धूम्रपान के कारण प्रतिवर्ष 114000 यानी प्रतिदिन 31 लोगों को कोरोनरी धमनी से संबंधित बीमारियों के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जाता है। ऑस्ट्रेलिया में फिलहाल लगभग 27 लाख लोग धूम्रपान करते हैं।

उन्होंने बताया कि अगर धूम्रपान करने वाले किसी व्यक्ति को दिल का दौरा या आघात पड़ता है तो ज्यादातर मामलों में यह धूम्रपान के कारण ही होता है। बैंक्स ने स्थिति को बहुत चिताजनक बताते हुए कहा कि प्रतिदिन पांच सिगरेट पीने वाले लोगों के हृदयवाहिनी की बीमारियों से मरने का खतरा दोगुना होता है। वहीं धूम्रपान छोड़ने से यह खतरा काफी कम हो जाता है।

धूम्रपान की लत छोड़ने में मदद करने वाले एक संगठन क्विट विक्टोरिया की साराह व्हाइट ने बताया कि किसी भी उम्र में धूम्रपान छोड़ना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक ही होता है। उन्होंने बताया कि 45 की उम्र तक धूम्रपान छोड़ देने से दिल की बीमारी का खतरा 90 प्रतिशत तक कम हो जाता है। उन्होंने कहा कि अगर आप कभी-कभी या दोस्तों के साथ सिगरेट पीते हैं और मानते हैं कि इतने से नुकसान नहीं होगा तो यह अध्ययन आपको बतायेगा कि आप खुद के साथ मजाक कर रहे हैं। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.