हार्ट ब्लॉकेज खोलने में मदददगार साबित होती है काली चाय, जानिए इसके अचूक फायदे

Samachar Jagat | Tuesday, 03 Sep 2019 11:43:22 AM
Black tea proves helpful in opening heart blockages, know its sure benefits

इंटरनेट डेस्क। भारत में चाय का सेवन करने वाले बड़ी तादाद में पाए जाते हैं। दार्जिलिंग मे अंग्रेजों द्वारा शुरु किए गए चाय के बागान आज दुनिया भर में अपनी पहचान बना चुके हैं। भारत मे सबसे ज्यादा पेय पदार्थ पीने के रूप में चाय ने अपनी पहचान बनाई है। भारत में चाय के बागानों की शुरुआत अंग्रेजों ने की थी। इंग्लिश लोगों में चाय एक शौकियाना तौर पर पिया जाने वाला पेय था।


loading...

हाई प्रोफाइल लोगों में चाय एक लोकप्रिय पेय पदार्थ था, लेकिन बहुत चुनिंदा और कम लोग ही इसका उपयोग करते थे। लेकिन भारत में आने के बाद यह आम हो गई और आज भारत के हर घर की शुरुआत चाय से होती है। भारत में सुबह हो या शाम, चाहे खुशी हो या गम, आॅिफस हो या घर, सब जगह चाय से शुरुआत होती है।

इंग्लिश और भारतीय चाय :-

लेकिन इंग्लिश और भारतीय चाय में काफी फर्क है, इंग्लिश लोग काली चाय पीते थे, जबकि भारत में ज्यादतर चाय में दूध का प्रयोग किया जाता है। लेकिन अगर हम दोनों चाय में फर्क की बात करें तो काली चाय के बहुत फायदे हैं। काली चाय से ऐसे कई फायदे हैं जिनको जानकर आप भी चौंक जाएंगे।

दिल की बीमारी :-

दिल की बीमारी वालों के लिए काली चाय बहुत फायदेमंद होती है। काली चाय हार्ट ब्लॉकेज को खोलती है और नॉर्मल लोगों के लिए भी फायदेमंद है। काली चाय दिल पर खून जमने से रोकती है और हार्ट ब्लड सर्कुलेशन को बैलेंस में रखती है। इससे दिल पर खून नहीं जमता है और हार्ट अटैक जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है।

महिलाओं के लिए फायदेमंद :-

महिलाओं के लिए भी काली चाय बहुत फायदेमंद होती है। महिलाओं  के शरीर की बनावट और हार्मोन पुरुषों के शरीर से भिन्न होने की वजह से उनकी क्रियाओं में भी बहुत फर्क होता है। महिलाओ में कई बीमारियों ऐसी होती हैं जो आमतौर पर पाई जाती हैं। महिलाओं में  कई प्रकार के कैंसर पाए जाते हैं, महिलाओं में स्तन कैंसर, बच्चेदानी में कैंसर, माहवारी के दौरान या बाद होने वाली कई गंभीर बीमारियां, जैसे रोगों पर काबू पाने के लिए चाय बहुत फायदेमेंद होती है।

चिकनाई से बचाती है :-

ज्यादातर यह देखा गया है कि लोग चाय में दूध मिलाकर पीते हैं, दूध में चिकनाई की अच्छी खासी मात्रा होती है, यह चिकनाई सीधे दिल पर असर करती है ओर ब्लड सर्कुलेशन में अवरोधक होती है, ब्लड सर्कुलेशन की गति धीमी होेने से हार्ट अटैक का खतरा होता है, जबकि काली चाय ब्लॉक नसों को खोलने का काम करती है और खून को गाड़ा होने से रोकती है, और कई बीमोरियो के खतरे से बचाती है।

घरेलू इलाज के लिए भी रामबाण :-

काली चाय घरेलू इलाज के लिए भी रामबाण नुस्खा है। काली चाय घरेलू डॉक्टर का काम भी करती है। खांसी, जुकाम, सर्दी जैसे रोगों में काली चाय पीने से फौरन लाभ मिलता है और यह शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाती हैै

डायबिटीज के लिए अचूक नुस्खा :-

डायबिटीज के मरीजों के लिए भी काली चाय अचूक नुस्खा है। काली चाय डायबिटीज मरीजों के गाड़े और शर्करा बढ़े खून मे पतलापन लाती है और चाय के हल्के कड़वे जींंस खून में बढ़ती शर्करा को रोकते हैं और इंसुलिन को भी बढ़ाते हैं।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.