शरीर की एनर्जी को कम थायरॉइड

Samachar Jagat | Friday, 08 Dec 2017 07:57:03 AM
Bodys-Lower -thyroid-energy

लाइफस्टाइल डेस्क। थायरॉइड एक किस्म का हारमोन है। हमारे थायरॉइड ग्लैंड्स शरीर से आयोडीन लेकर इन्हें बनाते हैं। ये हारमोन हमारे मेटाबॉलिज्म को बनाए रखने के लिए जरूरी होते हैं। जब ग्लैंड्स किसी वजह से ज्यादा हारमोन बनाने लगते हैं, तो उसे हम कहते हैं कि थायरॉइड बढ़ गया है। थायरॉइड का बढ़ा होना बड़ी दिक्कत देता है। इसके लक्षणो को अगर शुरुआत में ही पहचान लिया जाए तो बढ़ रही परेशानी को समय पर कंट्रोल किया जा सकता है। 

हॉलीवुड फैशन डिजाइनर डेनियल पीटी INIFD जयपुर में

थाइराइड में शरीर की एनर्जी कम होने लगती है और काम करने में आलस आता है। शरीर में प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने पर बिना दवाइयों के छोटे-छोटे रोगों से निजात पाना मुश्किल हो जाता है। थाइराइड में प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होनी शुरू हो जाती है। 

इस तरह नुकसान पहुंचाते हैं शरीर को ये आहार

वजन एकदम से घटना या बढ़ाना शुरू हो जाता है। इसमें खाना आसानी से पचाने में भी परेशानी होती है। जिससे पेट से संबंधित परेशानियां भी आनी शुरू हो जाती हैं, कब्ज इस रोग में होने वाली आम दिक्कतों में से एक है। लगातार कब्ज हो रही है तो थाइराइड का चेकअप जरूर करवाएं। 

जानिए सचाई की उस ताकत के बारे में, जिसे लोग मानना नहीं चाहते.....

थाइराइड में हाथ पैर ठंड़े रहने लगते हैं। शरीर का तापमान सामान्य होने पर भी हाथ-पैरों में ठंड़क महसूस होती है। थाइराइड होने पर त्वचा में रूखापन आना शुरू हो जाता है। इस परेशानी में स्किन के ऊपरी हिस्से के सैल्स डैमेज होने लगते हैं।

google sourse 

स्किन के अनुसार जाने मेकअप करने के कुछ टिप्‍स.....

लड़किया अपने लाइफ पार्टनर में ढूंढती है ये खूबियां



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.