कूलर में पाया गया डेंगू मच्छर का सबसे ज्यादा लार्वा

Samachar Jagat | Thursday, 06 Sep 2018 09:43:31 AM
Dengue mosquito larvae found in most coolers

जालंधर। 'तंदरूस्त पंजाब मिशन’ के तहत पानी से पैदा होने वाली बीमारियों के खिलाफ चलाए गए अभियान के तहत जालंधर जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जांच दौरान 48 स्थानों से डेंगू मच्छर का लार्वा पाया जिनमें से सर्वाधिक लारवा कूलरों में पाया गया।

निष्क्रियता के कारण 1.4 अरब से अधिक वयस्कों के स्वास्थ्य को खतरा : डब्ल्यूएचओ

सुखजींदर सिंह, कमलदीप सिंह, मनजीत सिंह, संजीव कुमार, सरबजीत सिंह और अन्य के नेतृत्व में लारवा रोधी विग की पांच टीमों ने ओल्ड बेअंत नगर, शीतल नगर, दाकोहा, समरावा और भूर मंडी इलाकों में निरीक्षण किया। जांच के दौरान, टीमों ने 359 घरों का दौरा कर 123 एयर कूलर, 133 अपशिष्ट कंटेनर और 10 पूराने टायरों की जांच की गई। टीम ने 205 कमरों में दवा का छिड़काव भी किया। टीम ने दाकोहा में लारवा के 17 मामले, भूर मंडी में 15, शीतल नगर में 12 और ओल्ड बेअंत नगर में चार मामलों का पता लगाया।

अल्जाइमर के इलाज में कारगर हो सकती है लीवर की बीमारी की दवा

आपको बता दें कि मच्छर काटने से डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया के अलावा लिम्फेटिक फाइलेरिया (हाथीपांव) जैसी गंभीर बीमारियां फैलती है। मच्छर के काटने पर मनुष्य के खून में पतले धागे जैसे कीटाणु तैरने लगते हैं और परजीवी की तरह वर्षो तक पलते रहते हैं।

मच्छर के काटने से बचाव रक्षा का सबसे अच्छा तरीका है, जब वाहक अधिक सक्रिय होते हैं, तब सुबह-शाम बाहर जाने से बचें। एक कीटनाशक छिड़की हुई मच्छरदानी के अंदर सोएं, लंबी आस्तीन वाली शर्ट और पतलून पहनें और खुद को कवर करके रखें, तीव्र खुशबू वाला सेंट न लगायें, वह मच्छरों को आकर्षित कर सकता है।"-

नोट- कुछ अंश एजेंसी से लिए गए हैं।

अवसाद के शिकार बच्चों में सामाजिक, अकादमिक कौशल की कमी की छह गुना ज्यादा आशंका

मोटापे से बचना है तो समय पर करें नाश्ता और रात का भोजन



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.