बहुत सी बिमारियों से छुटकारा दिला सकता है घास पर चलना

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Dec 2017 03:21:05 PM
Getting rid of many diseases can lead to grass

लाइफस्टाइल डेस्क। अपने शरीर को फिट रखने के लिए और तजा हवा लेने के लिए लोग सुबह वाक पर जाते है। जिससे उन्हें अच्छा फील भी होता है। लेकिन क्या आप जानते है की अगर आप घास पर नंगे पैर चलते है तो आप काफी बीमारियों से बच सकते है। सुबह सुबह नंगे पैर घास पर चलने से आप बहुत सी बिमारियों से छुटकारा पा सकते है। आईये जानते है इसके फायदे.....

प्यार में जब होने लगे ऐसा कंट्रोल, तो ......

• सुबह-सुबह ओस में भीगी घास पर चलने से आंखों की रोशनी भी बहुत तेज होती हैं। कुछ दिन नंगे पैर हरी घास पर चलने से आपका चश्मा भी उतर सकता है।

रोजाना हंसने से दिल से जुड़ी बीमारियों से मिलेगी राहत

• शुगर के मरिजों के लिए गीली घास पर चलना और उस पर बैठना बहुत ही फायदेमंद होता है।डायबिटीज के मरिजों को प्रतिदिन हरे भरे वातावरण में सांस लेनी चाहिए जिस से ऑक्सीजन शरीर के अंदर प्रवेश करती है। जो शरीर के लिए लाभकारी होती है।

• सुबह के समय पूरे वातावरण में ताजी हवा, धूप और शांतिपूर्ण वातावरण होता है जो असंख्य रूपों में मदद करता है। ताजा ऑक्सीजन आपके शरीर काम बेहतर मदद करती है, सूरज की रोशनी आप को गर्म रखने में मदद करती है, अपने विटामिन डी आपके पूरे शरीर और दिमाग को आराम देता है। 

पानी में रख कर काटे प्याज, होगा ये फायदा...

• सुबह ओस में भीगी घास पर चलना बहुत श्रेष्ठ माना जाता है जो पांवों के नीचे की कोमल कोशिकाओं से जुड़ी तंत्रिकाओं द्वारा मस्तिष्क तक राहत पहुंचाता है। घास पर कुछ देर तक बैठने, चलने से एलर्जी और छींक से भी मुक्ति पाई जा सकती है।

त्वचा को ठंड ही नहीं, बल्कि मॉइश्चर भी देता है पुदीना

भरपूर खाना खाने का बाद भी नहीं बढ़ रहा वजन

• हम प्रकृति के पांच तत्वों, जिनमे से एक पृथ्वी भी है , से जुड़े रहते है। हम शायद ही कभी नंगे पैर चलना पसंद करते है ,हम जूते और सैंडल पहन कर ही बाहर जाते है। ये हमारे पृथ्वी के साथ के प्राकृतिक कनेक्शन को दूर करता है।

sourse google 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.