इन कारणों से फायदेमंद है सर्दियों में योग-व्यायाम करना, जानिए !

Samachar Jagat | Tuesday, 15 Nov 2016 10:04:15 AM
इन कारणों से फायदेमंद है सर्दियों में योग-व्यायाम करना, जानिए !

वैसे तो व्यायाम और प्राणायाम हर मौसम में सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन सर्दी में  व्यायाम और प्राणायाम करने से कई और फायदे होते हैं। ठंडे मौसम में जोड़ों की तकलीफ, सूजन, दर्द , गठिया, सायटि‍का, दमा, माइग्रेन एवं अन्य बीमारियों ज़्यादा तकलीफ देती है। ऐसे में व्यायाम और प्राणायाम  कर इन परेशानियों से बचा जा सकता है। इसके अलावा शरीर में गर्माहट पैदा करने के लिए भी यह उत्तम हैं। 

विंटर्स में ऐसे बचाए अपनें गुलाबी होंठों को फटनें से

जाने सर्दियों में योग-व्यायाम के कुछ खास फायदे -

1. ठंड के दिनों में, उच्च रक्तचाप के अलावा हृदय रोगियों को रात में अधिक कष्ट होता है। इसके लिए सुबह और शाम के समय पैदल चलना या सैर पर जाना फायदेमंद होता है। चि‍कित्सक इसके लि‍ए दिन में कम से कम एक बार दिल खोलकर हंसने की भी सलाह देते हैं।  

कॉफी एक फायदे अनेक, जानें कैसे लाभकारी है कॉफी

2. सामान्य तौर पर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का कम होना, मानसिक व शारीरिक समस्याएं होना, आलस्य का बना रहना, मन की एकाग्रता कम होना या फिर याददाश्त कमजोर होने पर ध्यान, प्राणायाम, शवासन, योगनिद्रा आदि आदि क्रियाएं फायदेमंद होती हैं।   

3. हाथ, पैर व शरीर के कुछ विशेष अंगों में खिंचाव, जिसे स्ट्रेचिंग कहा जाता है, सर्दी के दिनों में अनिवार्य तौर पर करें। पैर के पंजे, हाथों में, कमर, कंधा, गर्दन और कलाई के व्यायाम विशेष तौर पर करें,...ताकि इनका संचालन बेहतर हो सके। इससे आपके शरीर के अंग सुचारू रूप से कार्य करते हैं।  

4. सर्दियों में दमा की समस्या होना सामान्य है, जिसके लिए सायको सोमेटिक और न्यूरोसोमेटिक यौगिक क्रियाओं के अलावा, भुजंगासन, स्ट्रेच मकरासन, पवनमुक्तासन और शशांक आसन लाभदायक हैं।  

5. अगर आप स्वस्थ हैं और आपको किसी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या नहीं है, तो आप ताड़ासन और त्रिकोणासन कर सकते हैं इसके अलावा कमर के लिए व्यायाम करना हमेशा लाभदायक होता है।   

 

 

स्किन ही नहीं बल्कि ऊनी कपड़ों की भी सर्दियों में ऐसे करें देखभाल

परफेक्ट लुक पाने के लिए आज़माएं यह टिप्स...

ये है कुछ ऐसे चाय जिसे पीने के लिए आपकेा बेचना पड़ सकता है अपना घर

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.