......इसलिए मैच्योर महिला की पहचान होती है अलग

Samachar Jagat | Tuesday, 14 Nov 2017 02:37:20 PM
hence the identity of the mature woman is different

लाइफस्टाइल डेस्क। उम्र के हिसाब से मैच्योरिटी सबमे आती है। एक मैच्योर व्यक्ति की पहचान ही अलग होती है, क्योंकि वो हर चीज़ को देख- परख के काम करता है। वहीँ बात करें एक मैच्योर महिला को अपने रिश्ते निभाने के लिए क्या-क्या करने की जरुरत है तो इन बातों पर जरूर ध्यान दे....

ठीक से इलाज ना होने पर जानलेवा हो सकती है टीबी

सबसे पहले तो एक मैच्योर महिला ये तय कर लेती है की उससे जुड़े हर रिश्तें उसके लिए बहुत ही मत्वपूर्ण है। किसी भी तरह की परेशानियों से समझौता नहीं करती है और हर परेशानी से अकेले लड़ने की हिम्मत रखती है। हमेशा मैच्योर महिला जितना सम्मान दुसरो का करती है उसके बदले में वो भी दुसरो से उतने ही सम्मान की उम्मीद करती है। 

रोजाना लिप बाम का इस्तेमाल होठों के लिए हो सकता है हानिकारक

मैच्योर महिला मानती है की उसके रिश्ते दुनिया को दिखाने के लिए नहीं बल्कि अपने रिश्ते में आने वाली परेशानियों को खुद संभाल सकती है। इसलिए वो कभी भी अपने रिश्ते से जुडी परेशानिया पब्लिकली शेयर नहीं करती। मैच्योर महिला के लिए उसका आत्मसम्मान ही उसके लिए सब कुछ है, इसलिए खुद का अनादर करने की इजाजत किसी को नहीं देती। 

sourse google 

इस मौसम में फैशन का तड़का लगाने के लिए आये स्टाइलिश जैकेट्स

सर्दियों में सनसक्रीन की जगह यूज कर सकते है ये तेल

शरीर पर उगे अनचाहे बाल से निजात दिलायेंगे ये टिप्स



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.