मोबाइल का आप भी करते है ऐसे उपयोग, तो जाएं सावधान, वरना...

Samachar Jagat | Friday, 11 Jan 2019 04:43:53 PM
You also use mobile such use, so be careful, or else ...

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लाइफस्टाइल डेस्क। मोबाइल हमारे दैनिक जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन गया है। इसके एक पल भी हम दूर नहीं रह सकते है। क्योंकि इसके दूर होने से सूना—सूना सा लगता है। इतना ही नहीं कुछ लोग तो सोते समय भी मोबाइल को अपने सिरहाने के पास रखते है। यदि आप भी इस तरह से मोबाइल का उपयोग करते है तो सावधान हो जाएं। एक रिसर्च के मुताबिक मोबाइल से निकलने वाली विकिरणों को कैंसर से लेकर नपुंसकता तक का खतरा हो सकता है। 



आपको बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय कैंसर रिसर्च एजेंसी ने मोबाइल से निकलने वाली इलेक्ट्रोमैग्नेटिक विकिरणों को संभावित कैंसरकारी तत्वों की श्रेणी में रखा है। ऐजेंसी ने बताया है कि मोबाइल का ज्यादा उपयोग करने से मस्तिष्क और कान में ट्यूमर की वजह बन सकता है। जिससे कैंसर होने का खतरा रहता है। 

गौरतलब है कि 2014 में पब्लिश ब्रिटेन के ​एक्जिटर युनिवर्सिटी की रिसर्च में Mobile  से निकलने वाली इलेक्ट्रोमैग्नेटिक विकिरणों के कारण नपुंसकता का खतरा भी रह सकता है। रिसर्चर ने बताया ​है कि पैंट की जेब में Smartphone  रखने से पुरूषों में न सिर्फ स्पर्म का उत्पादन घटता है। साथ ही अंडाणुओं को निषेचित करने की गति भी धीमी पड़ जाती है। 


दरअसल, एक रिसर्च के मुताबिक सोने से तीस मिन्ट पहले ही MOBILE  का इस्तमाल बंद कर देना ​चाहिए। क्योंकि इनसे निकलने वाली नीली रोशनी स्लीप हार्मोन मेलाटोनिन का उत्पादन बाधित करती है। इससे व्यक्ति को सोने में परेशानी आती है।  इसके अलावा मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल करने से मोबाइल का फटने और जलने का भी खतरा बना रहता है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.