07 जुलाई: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Saturday, 07 Jul 2018 04:12:34 PM
07 july latest top ten news

गुलाबी नगर में नमो-नमो, प्रधानमंत्री ने 2100 करोड की योजनाओं की सौगात दी

PM Modi in Pink City today

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद करने के लिए शनिवार को जयपुर पहुंचे। वायुसेना के विशेष विमान से उनके सांगानेर हवाई अड्डे पहुंचने पर राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने उनकी अगवानी की। हवाई अड्डे पर कुछ क्षण रूकने के बाद प्रधानमंत्री वहां से सेना के एक हेलीकाप्टर से सवाईमान सिंह स्टेडियम रवाना हो गए जहां से वह सडक मार्ग से विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद करने सभा स्थल ‘अमरूदों के बाग’ पहुंच गए है।

सांगानेर हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री के स्वागत के लिये जयपुर के मेयर अशोक लाहोटी, मुख्य सचिव डी बी गुप्ता और पुलिस महानिदेशक ओपी गलहोत्रा भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री के आगमन को देखते हुए शहर में सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। अमरूदों के बाग में प्रधानमंत्री केन्द्र और राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद करेंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे। 

प्रधानमंत्री ने 2100 करोड की योजनाओं की सौगात दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को राजस्थान के एक दर्जन से अधिक शहरों के लिए 2100 करोड रुपए वाली विभिन्न परियोजनाओं की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार जयपुर आए मोदी ने शनिवार को 2100 करोड़ रुपए की जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी उनमें छह शहरों की पेयजल आपूर्ति और सीवरेज योजनाओं समेत एलीवेटेड सडक समेत कई योजनाएं शामिल है।

मोदी द्वारा जिन योजनाओं की सौगात दी उनमें उदयपुर में एकीकृत सरंचना योजना, अजमेर के लिए एलीवेटेड योजना, अजमेर, भीलवाडा, बीकानेर, हनुमानगढ, सीकर और माउंट आबू की जलापूर्ति और सीवरेज योजना, धौलपुर, नागौर, अलवर, जोधपुर एसटीपी का उन्नयन, बूंदी, अजमेर और बीकानेर में प्रधानमंत्री आवास योजना और कोटा के दशहरा मैदान के द्वितीय चरण के निर्माण की परियोजनाएं शामिल है।

जयपुर में पीएम मोदी 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से जिन परियोजनाओं का तोहफा दिया जाएगा, उनमें पुराने उदयपुर के लिए एकीकृत संरचना पैकेज, अजमेर के लिए एलिवेटेड रोड और अजमेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, हनुमानगढ़, सीकर तथा माउंटआबू में जलापूर्ति एवं सीवरेज की परियोजनाएं शामिल हैं। इसके साथ ही धौलपुर, नागौर, अलवर तथा जोधपुर में एसटीपी का उन्नयन और बूंदी, अजमेर और बीकानेर जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएंगी।

इससे पहले

-गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने लाभार्थियों का किया स्वागत, शुरू किया संबोधन
-मुख्यमंत्री राजे और राज्यपाल कल्याण सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का किया स्वागत
- मंच पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
- अमरूदों के बाग पहुंचे पीएम मोदी
-अमरूदों के बाग के लिए रवाना हुआ पीएम मोदी का काफीला
-सवाई मानसिंह स्टेडियम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

ग्राहकों को GST का पक्का बिल जरूर दें, कर चोरी करने वालों का पर्दाफाश करें कारोबारी: गोयल

give a definite bill of GST to customers : Goyal

भोपाल। केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को व्यवसायी समुदाय का आव्हान किया कि वे ग्राहक को अनिवार्य रूप से बिल दें और कर चोरी करने वालों का पर्दाफाश करें। उन्होंने कहा कि माल एवं सेवा कर व्यवस्था ने जीएसटी ने सभी कारोबारियों को बराबरी पर लाकर खड़ा कर दिया है। मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग की विज्ञप्ति के मुताबिक गोयल ने शुक्रवार को यहां व्यवसायियों से संवाद करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नया भारत बनाने का संकल्प लिया है।

संगठित व्यापार के माध्यम से प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने में अपना सहयोग दें। जीएसटी लागू करने में मध्यप्रदेश की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि जीएसटी लागू करने में मध्यप्रदेश ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और व्यापार-मित्र व्यवस्थाएं स्थापित की हैं। गोयल ने कहा कि एक वर्ष के भीतर जीएसटी से जुड़े ज्यादातर मुद्दों का समाधान हो गया है तथा एक वर्ष में जीएसटी के संबंध में व्यापार जगत में जितनी स्पष्टता आई है वह भी अपने आप में उपलब्धि है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गंभीरता से हर पहलू पर विचार -विमर्श कर रात दिन मेहनत कर साहस के साथ इसे लागू करवाने का काम किया था। इसे लागू करने में विभिन्न विचारधाराओं, राजनीतिक दलों की सहमति और व्यापार जगत के सुझावों को शामिल किया गया।

चर्चा में व्यवसायियों ने जीएसटी के बारे में अपने सुझाव भी रखे। वित्त मंत्री में गोयल ने उन पर उदार मन से विचार करने का आश्वास दिया। इस मौकेे पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, वित्त मंत्री जयंत मलैया, राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, और प्रदेश के विभिन्न व्यापारी संघो के प्रतिनिधि उपस्थित थे। 

सेवानिवृत्त न्यायाधीश संतोष हेगड़े ने कहा, वेश्यावृत्ति को कानूनी रूप दिया जाए 

Retired judge Santosh Hegde said, prostitution should be given legal form

हैदराबाद। जुए और खेलों में सट्टेबाजी की इजाजत देने की विधि आयोग की सिफारिश का समर्थन करते हुए सुप्रीम कोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश एन संतोष हेगड़े ने वेश्यावृत्ति की भी पैरवी करते हुए शुक्रवार को कहा कि सरकार बुराइयों को खत्म नहीं कर सकती। उन्होंने यह भी कहा कि वेश्यावृत्ति में शामिल लोगों को लाइसेंस दिया जाना चाहिए।

पूर्व सॉलीसीटर जनरल हेगड़े ने कहा कि यदि किसी व्यक्ति को लगता है कि कानून बुराइयों को खत्म कर सकता है तो यह खुशफहमी में रहने जैसा है। हेगड़े ने पीटीआई से कहा कि यह एक बहुत अच्छी सिफारिश है। कुछ खास तरह की बुराइयां हैं , जिन्हें कानून नियंत्रित नहीं कर सकता और इस तरह की बुराइयों को नियंत्रित करने की कोई कोशिश अवैध प्रणाली बनाने का मार्ग प्रशस्त करेगी।

उन्होंने कहा कि हम पहले भी यह अनुभव कर चुके हैं , जब शराबबंदी थी। जहां शराबबंदी थी , वहंा शराब का अवैध उत्पादन किया जाता था। सरकार को आबकारी शुल्क का नुकसान होता था , लेकिन बुराई जारी रही। आप इसे नियंत्रित नहीं कर सकते। कुछ खास चीजें हैं , जिन्हें कानून नियंत्रित नहीं कर सकता।

कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्त ने कहा कि इसी तरह से देश में अवैध रूप से जुआ खेला जा रहा है। इसे कानूनी रूप देने से और इसे नियंत्रण में लाने से इसके तहत होने वाली 70 से 75 फीसदी अवैध गतिविधियां बंद हो जाएंगी। लेकिन इसके लिए एक खास मात्रा में नियंत्रण लगाने की बिल्कुल जरूरत है। यह पूछे जाने पर कि क्या वेश्यावृत्ति को कानूनी रूप दिया जाना चाहिए , हेगड़े ने कहा कि इसे कानूनी रूप देना होगा।

यह हर जगह हो रही है। इसे कानूनी रूप देना होगा। हेगड़े ने कहा कि वेश्यावृत्ति अब एक नियमित पेशा बन गया है। इसे कानूनी रूप देना चाहिए और इसमें शामिल लोगों को लाइसेंस प्रदान करना चाहिए। तभी जाकर इस पर नियंत्रण स्थापित हो सकेगा। उन्होंने कहा कि ये कुछ ऐसी बुराइयां हैं, जिन्हें सरकार खत्म नहीं कर सकती।

इन्हें कानूनी रूप नहीं दिए जाने पर ये अवैध तरीके से चलती रहेंगी। बेहतर होगा कि इस पर नियंत्रण रखा जाए। उन्होंने पूछा कि ऐसा कौन सा शहर या राज्य है जहंा वेश्वयावृत्ति नहीं है? हम अपनी आंखें मूंदे हुए हैं और कह रहे हैं कि यह नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि नैतिकता को कानून द्वारा नियंत्रित नहीं किया जा सकता। इसे सिर्फ धर्म और धर्मगुरू ही नियंत्रित कर सकते हैं। 

थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने के लिए बचा ‘सीमित समय‘

Limited time left to save children trapped in Thailand cave

चियांग राई। थाईलैंड के उत्तरी प्रांत चियांग राई की गुफा में पिछले 2 सप्ताह से फंसे 12 बच्चों और उनके कोच को निकालने के लिए बचाव दल के पास भारी बारिश आने से पहले‘सीमित समय’ बचा है। बचाव अभियान के प्रमुख ने शनिवार को यह जानकारी दी। बचाव अभियान के प्रमुख चियांग राई के पूर्व गर्वनर नारोंगसक ओसातानाकोर्न ने मध्यरात्रि मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बिंदु यह है बारिश न जान कब फिर से शुरू हो जाए।

इसलिए हमारे पास सीमित समय है। उन्होंने कहा कि वह खतरे को कम करना चाहते हैं। गुफा के अंदर आक्सीजन का गिरता स्तर भी ‘बड़ी चिंता’का विषय है। शुक्रवार को बचाव अभियान के दौरान थाईलैंड के गोताखोर की मौत के बाद अभियान दल के प्रमुख ने यह चेतावनी जारी की है।

बचाव अभियान में थाईलैंड की नौसेना, सेना, पुलिस और स्वयंसेवक दिन-रात बारिश के बाद गुफा में भरा पानी निकालने में जुटे हुए हैं। गुफा में फंसे फुटबॉल टीम के सदस्य बच्चों की आयु 11 से 16 बीच है। ये सभी तैरना नहीं जानते, इसलिए इन्हें गुफा के तंग, गहरे और कीचड़ भरे रास्ते में तैरना सीखाया जा रहा है।

बचाव दल के पास गुफा में फंसे बच्चों को सुरक्षित निकालने के लिए सीमित विकल्प हैं या तो बचाव दल बच्चों का आक्सीजन की आपूर्ति जारी रखते हुए 4 महीने तक मानसून खत्म होने का इंतजार करे या फिर पहाड़ को सैंकड़ों मीटर तक काटकर उसमें सुराग बनाकर बच्चों को बाहर निकालने का प्रयास करे। बच्चे 23 जून को फुटबॉल का मैच खेलने के बाद कोच के साथ गुफा देखने गए थे और बारिश के बाद गुफा में पानी भरने और प्रवेश द्वार बंद होने के बाद बच्चे गुफा में फंस गए थे। 

बॉक्स ऑफिस क्लैश से जॉन के साथ दोस्ती में फर्क नहीं: अक्षय

Box office clash does not make any difference to friendship with John: Akshay

मुंबई। बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार का कहना है कि जॉन अब्राहम से बॉक्स ऑफिस पर क्लैश होने से उनकी दोस्ती में कोई फर्क नही पड़ेगा। अक्षय कुमार की फिल्म गोल्ड और जॉन अब्राहम की फिल्म सत्यमेव जयते 15 अगस्त को रिलीज़ होने जा रही हैं। दोनों फिल्म की बॉक्स ऑफिस की क्लैश को लेकर काफी बातें हो रही हैं। इस बारे में पूछे जाने पर अक्षय ने कहा कि जैसा की जॉन ने भी कहा है कि हम एक दूसरे के दोस्त हैं और जॉन मेरा दोस्त है। मैं उसे उसकी फिल्म के लिए ऑल द बेस्ट ही कहना चाहूंगा। 

अक्षय कुमार ने कहा हम और जॉन ही क्यों हम सब पूरी इंडस्ट्री ही एक दूसरे की दोस्त हैं। जॉन से भी जब फिल्म की क्लैश को लेकर बात की गई तो उन्होंने इस बारे स्पष्ट बात करते हुए यही राय रखी कि वह और अक्षय दोस्त हैं और बॉक्स ऑफिस क्लैश से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। जॉन ने इस पूरे टकराव को गलत बताया है और उन्होंने ट्वीट के माध्यम से स्पष्ट किया कि वह अक्षय से किसी तरह की प्रतियोगिता नहीं कर रहे हैं और उनके और अक्षय के बीच किसी तरह का मनमुटाव नहीं है। 

जॉन अब्राहम ने कहा कि अक्षय मेरे दोस्त हैं और हमेशा रहेंगे। मैं उन्हें गोल्ड के लिए खूब बधाई देना चाहूँगा, उनकी फिल्म भी अच्छी रहे और हमारी भी। अभी के सिचुएशन के अनुसार स्क्रीन की संख्या काफी है कि आप इसमें दो फिल्में रिलीज़ कर सकते हो, तो मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई परेशानी होनी चाहिए।- 

करण जौहर की अगली फिल्म में एक साथ काम करेंगे किंग खान और रणबीर कपूर

King Khan and Ranbir Kapoor will work together in Karan Johar's next film

मुंबई। बॉलीवुड के जाने-माने फिल्मकार करण जौहर किंग खान शाहरूख खान और रॉकस्टार रणबीर कपूर को लेकर फिल्म बना सकते हैं। रणबीर कपूर ने हाल ही में संजू से काफी पॉपुलरिटी हासिल कर ली है। यह फिल्म रणबीर के करियर को उज्ज्वल बनाने में मदद करेगी। यह रणबीर के करियर की पहली ऐसी फिल्म है जिसने कमाई के मामले में कई सारे रिकॉर्ड बनाए है।

करण जौहर की अगली फिल्म को लेकर काफी कयास लगाए जा रहे हैं। माना जा रहा था कि उनकी फिल्म में रणवीर सिंह है। फिर कभी कहा गया कि उनकी अगली फिल्म में कार्तिक आर्यन हैं लेकिन करण जौहर ने सारी अफवाहों को दरकिनार करते हुए लिखा था कि मेरी अगली फिल्म की कहानी अभी तक किसी एक्टर ने नहीं सुनी है। कहा जा रहा है कि करण जौहर की अगली फिल्म की कास्ट फाइनल हो गई है। शाहरूख खान, काजोल और रणबीर कपूर फिल्म में काम करते नजर आ सकते हैं।

बॉलीवुड के गलियारों में ऐसी चर्चा है कि करण जौहर को शाहरूख खान और रणबीर कपूर के लिए एक अच्छी स्क्रिप्ट तो ऐ दिल है मुश्किल के बाद ही मिल गई थी। अब बस इस फिल्म की आधिकारिक घोषणा होना बाकी है। करण जौहर इन दिनों मल्टीस्टारर फिल्म कलंक बना रहे हैं। फिल्म में आलिया भट्ट, वरूण धवन, सोनाक्षी सिन्हा, आदित्य रॉय कपूर, संजय दत्त, माधुरी दीक्षित, कुणाल खेमू की अहम भूमिकाएं है। यह संजय दत्त के करियर की अहम फिल्म है। यह फिल्म 19 अप्रैल 2019 को रिलीज होगी। इस फिल्म की जो खास बात है वो यह है कि इसमें माधुरी दीक्षित भी अहम किरदार में होंगी। संजय दत्त और माधुरी लंबे समय बाद एक साथ किसी फिल्म में नजर आएंगे।

fifa world cup: ब्राजील को बाहर कर बेल्जियम 32 साल बाद सेमीफाइनल में

fifa world cup: Belgium eliminates Brazil, advances to World Cup semifinals

कजान। जायंट किलर बेल्जियम ने 5 बार की चैंपियन ब्राजील को बेहद रोमांचक मुकाबले में शुक्रवार को 2-1 से हराकर 32 वर्ष के लम्बे अंतराल के बाद फीफा विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। बेल्जियम ने इससे पहले एकमात्र बार वर्ष 1986 में सेमीफाइनल में जगह बनाई थी और तब वह चौथे स्थान पर रहा था। बेल्जियम ने 1986 के बाद अब 2018 में जाकर अंतिम चार में जगह बनाई है और पांच बार की चैंपियन ब्राजील को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

32 साल बाद सेमीफाइनल में पहुंचे बेल्जियम का अब अंतिम चार में 1998 के विजेता फ्रांस से मुकाबला होगा जिसने इससे पहले क्वार्टरफाइनल में उरुग्वे को 2-0 से हराया था। ब्राजील पिछले विश्व कप में अपनी मेजबानी में जर्मनी से सेमीफाइनल में 1-7 से हारकर बाहर हुआ था और इस बार क्वार्टरफाइनल में बेल्जियम ने उसकी छुट्टी कर दी।

बेल्जियम ने ब्राजील के पहले हाफ के आत्मघाती गोल का फायदा उठाकर बढ़त बनायी और फिर डी ब्र्यून ने दूसरा गोल कर टीम की बढ़त दोगुनी कर दी। फर्नांडिन्हो ने 13 वें मिनट में आत्मघाती गोल किया जबकि ब्र्यून ने 31 वें मिनट में बढ़त को 2-0 कर दिया। ब्राजील ने दूसरे हाफ के 76 वें मिनट में रेनाटो अगस्तो के गोल से हार का अंतर घटाया लेकिन उसे बराबरी का गोल नहीं मिल पाया और एक और चैंपियन टीम इस विश्व कप से बाहर हो गई।

4 बार का चैंपियन जर्मनी, दो-दो बार के चैंपियन अर्जेंटीना और उरुग्वे और  एक बार का चैंपियन स्पेन पहले ही बाहर हो चुके हैं। पूर्व विजेताओं में फ्रांस सेमीफाइनल में पहुंच चुका है जबकि 1966 में विजेता रहे इंग्लैंड का शनिवार को स्वीडन से मुकाबला होना है। इस मुकाबले में भाग्य जैसे ब्राजील के साथ नहीं था।

तियागो सिल्वा का शॉट पोस्ट से टकरा गया, ब्राजील ने आत्मघाती गोल भी किया और उसके सबसे बड़े स्ट्राइकर नेमार गोल के सामने सामने बार बार चूकते रहे और बार बार पेनल्टी मांगते रहे जो उन्हें नहीं मिली। ब्राजील ने दूसरे हाफ में खास तौर पर अंतिम 20 मिनट में दबदबा बनाया लेकिन उसे बराबरी नहीं मिल पाई। बेल्जियम की जीत में उसके गोलकीपर तिबौत कोर्टियस की खास तौर पर तारी$फ करनी होगी जिन्होंने दूसरे हाफ में कई अच्छे बचाव किए।

 

ब्राजील की हार के साथ दुनिया के 3 करिश्माई स्ट्राइकरों की तिकड़ी के तीसरे सदस्य नेमार का भी विश्व कप में सफर समाप्त हो गया। अर्जेंटीना और लियोनल मैसी तथा पुर्तगाल और क्रिस्टियानो रोनाल्डो पहले ही बाहर हो गए थे। मैन ऑफ द मैच केविन डी ब्र्यून ने मैच के बाद कहा कि हमने रणनीतिक रूप से अच्छा प्रदर्शन किया और पहले हाफ में हम ज्यादा अच्छा खेले। ब्राजील ने दूसरे हाफ में रणनीति बदली और हमसे बेहतर रहे लेकिन हमने भी मौके बनाए।

अंतिम 15 मिनट में दोनों टीमों के धैर्य और संयम की परीक्षा थी जिसमें हम पास होकर विजेता बन गए। फ्रांस से सेमीफाइनल के लिए डी ब्र्यून ने कहा कि अब हमारा फ्रांस जैसी असाधारण टीम के साथ मुकाबला है लेकिन जब भी आप विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचते हैं तो आपको पता होता है कि आपका सामना किसी कमजोर टीम से नहीं होगा। हम सेमीफाइनल जीतने और पहली बार फाइनल में पहुंचने के लिए तैयार हैं।

क्वार्टरफाइनल में ब्राजील और उरुग्वे की हार का मतलब है कि दोनों दक्षिण अमेरिकी टीमें बाहर हो गई हैं और सेमीफाइनल में चार यूरोपियन टीमें आमने सामने होंगी और विश्व कप का ताज किसी यूरोपियन टीम के सिर पर सजेगा। इससे पहले 2006 के विश्व कप में आल यूरोपियन सेमीफाइनल लाइन उप (इटली, फ्रांस, जर्मनी, पुर्तगाल)थी।

बल्लेबाज़ी संतोषजनक नहीं रही: विराट

Batting was not satisfactory: Virat

कार्डिफ। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे मैच में हार के बाद निराशा जताते हुए कहा है कि टीम की बल्लेबाज़ी संतोषजनक नहीं रही और बोर्ड पर कुछ और रन होते तो वह जीत सकते थे। भारत के लिए कार्डिफ में दूसरा मैच जीतकर ट्वंटी 20 सीरीज़ कब्जाने का अच्छा मौका था लेकिन इंग्लैंड ने पांच विकेट से मैच जीतकर तीन मैचों की सीरीज़ में 1-1 की बराबरी कर ली है। मेहमान टीम को अब सीरीज़ पर कब्जा करने के लिए तीसरा और अंतिम मैच जीतना अनिवार्य होगा। विराट ने मैच के बाद कहा तीन विकेट शुरूआत में ही गंवाने के बाद वापसी करना हमेशा मुश्किल होता है।

इंग्लैंड ने मैच में सही दिशा में रन बनाए तो हमें गलत दिशा में शॉट्स लगाने के लिए मजबूर किया। हमारे लिए बोर्ड पर 10 से 15 रन और जोड़ना फायदेमंद रहता। मेरे हिसाब से 149 रन लड़ने लायक स्कोर था लेकिन विपक्षी टीम को जीतना जरूरी था और उन्होंने आखिरी मैच जीत लिया। कप्तान ने पिछले मैच के मैन ऑफ द मैच चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव को लेकर कहा कि इस बार इंग्लैंड ने भारतीय स्पिनर के खिलाफ अधिक बेहतर प्रदर्शन किया।

उन्होंने कहा इंग्लैंड ने कुलदीप को खेलने का अच्छा होमवर्क किया था। हमें अगले मैच में वापसी का प्रयास करना होगा। उन्होंने कहा यह प्रारूप ही ऐसा है। उमेश यादव ने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन आखिरी बाल बाउंड्री ने सब कुछ बदल कर रख दिया। छोटी छोटी चीजों की मैच में बहुत अहमियत होती है। हमें लेकिन अब इसे पीछे छोड़ना होगा। लेकिन यह भी मानना होगा कि मैच में इंग्लैंड ने हमसे बेहतर प्रदर्शन किया।

ग्रेटर नोएडा में आवासीय परियोजना में 500 करोड़ रुपए निवेश करेगी मिगसन

Migration to invest 500 crores in housing project in Greater Noida

नई दिल्ली। रियल्टी क्षेत्र की कंपनी मिगसन उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में सस्ती आवासीय परियोजना विकसित करने में 500 करोड़ रुपए निवेश करेगी। कंपनी पांच एकड़ की इस भूमि में 1250 आवासीय फ्लैट विकसित करेगी। इसमें बनने वाले फ्लैट की कीमत 16 से 26 लाख रुपए होगी। मिगसन के प्रबंध निदेशक यश मिगलानी ने कहा , हमने हाल ही में बहुत ही प्रतिस्पर्धी दाम पर ग्रेटर नोएडा में मिगसन विलासा परियोजना शुरू की है। इस परियोजना में हमने पहले ही 900 फ्लैट बेच दिए हैं। परियोजना में निवेश के बारे में जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जमीन की कीमत सहित इसमें कुल मिलाकर 500 करोड़ रुपए का निवेश होगा। 

उन्होंने कहा कि निवेश के लिये राशि कंपनी के आंतरिक स्रोतों से और फ्लैट के ग्राहकों से अग्रिम राशि लेकर पूरी की जाएगी। परियोजन को अगले दो से तीन साल में पूरा कर लिया जाएगा। सरकार सस्ते मकान लेने वालों को अपनी तरफ से ब्याज सब्सिडी उपलब्ध करा रही है। इसके अलावा इस श्रेणी की परियोजनाओं को ढांचागत सुविधा क्षेत्र का दर्ज़ा भी मिला हुआ है। निम्न एवं मध्यम श्रेणी की इन वहनीय आवासीय परियोजनाओं के लिए माल एवं सेवाकर (जीएसटी) की दर को भी कम किया गया है।

यही वजह है कि इस श्रेणी के मकानों में मांग एवं आपूर्ति में वृद्धि हुई है। मिगसन ने इस साल अप्रैल में गाजियाबाद में भी 1,000 करोड़ रुपए की लागत से सस्ती अवासीय परियोजना शुरू की थी। कंपनी ने केन्द्र सरकार की सस्ते मकान उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3,000 आवासीय इकाइयां उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। 

जानिए आज के सोने और चांदी के दाम, गोल्ड की तेजी पर लगा ब्रेक

Know today prices of gold and silver

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमती धातुओं पर बने दबाव के बीच घरेलू स्तर पर मांग कमजोर रहने से शनिवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना के 40 रुपए फिसलकर 31650 रुपये प्रति दस ग्राम पर आने से लगातार तीन दिनों से जारी तेजी पर ब्रेक लग गया। इस दौरान चांदी पिछले सत्र के 40500 रुपए प्रति किलोग्राम पर टिके रहने में सफल रही।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में पीली धातु मे उतार चढ़ाव का रूख रहा है। सप्ताहांत पर कारोबार बंद पर सोना हाजिर 0.21 फीसदी टूटकर 1254.20 डॉलर प्रति औंस पर रहा। इसी तरह से अमेरिका सोना वायदा 0.23 फीसदी उतरकर 1254.40 डॉलर प्रति औंस पर रहा। इस दौरान सफेद धातु की चमक भी फीकी पड़ गई और यह 0.17 फीसदी गिरकर 15.98 डॉलर प्रति औंस बोली गयी। वैश्विक स्तर से मिले नरमी के संकेतों से स्थानीय बाजार में पीली धातु 40 रुपए उतर गई।

सोना स्टैंडर्ड 40 रुपए गिरकर 31650 रुपए प्रति दस ग्राम पर रहा। सोना बिटुर भी 40 रुपए टूटकर 31500 रुपए प्रति दस ग्राम पर रहा जबकि गिन्नी में कोई बदलाव नहीं हुआ और यह 24800 रुपए प्रति आठ ग्राम पर टिकी रही। हालांकि सफेद

चांदी हाजिर 40500 रुपए प्रति किलोग्राम स्थिर रही। इस दौरान चांदी वायदा 39791 रुपए प्रति किलोग्राम पर रही जबकि सिक्का लिवाली और बिकवाली में कोई बदलाव नहीं हुआ और यह क्रमश: 75 हजार रुपए और 76 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर टिके रहे। दिल्ली सर्राफा बाजार में दोनों कीमती धातुओं के दाम (रुपए में) इस प्रकार रहे:-

सोना स्टैंडर्ड प्रति 10 ग्राम 31,650
सोना बिटुर प्रति 10 ग्राम 31,500
चांदी हाजिर प्रति किलोग्राम 40,500
चांदी वायदा प्रति किलोग्राम 39,791
सिक्का लिवाली प्रति सैकड़ा 75,000
सिक्का बिकवाली प्रति सैकड़ा 76,000
गिन्नी प्रति आठ ग्राम 24,800

 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.