10 जुलाई: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Tuesday, 10 Jul 2018 04:47:11 PM
10 july latest top ten news

जापान: मूसलाधार बारिश का कहर, बाढ़ में 112 लोगों की मौत

Japan: 112 people killed in torrential rains, floods

कुराशिकी। जापान में पिछले कई दिनों से जारी मूसलाधार बारिश से बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं में सोमवार तक मरने वालों की संख्या 112 हो गई और अभी कई लोग लापता हैं। बचावकर्ता लापता लोगों को बचाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने 1983 के बाद जापान की सबसे बुरी बाढ़ आपदा से निपटने के लिए अपनी विदेश यात्रा रद्द कर दी है। इस आपदा से लाखों लोग अपने घरों से बेघर होने को मजबूर हो गए हैं।

अधिकारियों ने कहा कि अभी तक आर्थिक नुकसान का पूरा ब्योरा नहीं मिल पाया है। पश्चिमी जापान में सोमवार को हालांकि बारिश थम गई, आसमान साफ हो गया है और तापमान 30 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चला गया है जिससे बिजली और पानी आपूर्ति पर असर पड़ा है और संबंधित क्षेत्रों में तेज गर्मी का खतरा उत्पन्न हो गया है।

मिहारा निवासी यूमेको मत्सुई ने कहा कि हम लोग स्नान नहीं कर सकते, शौचालय दुरुस्त नहीं है और हमारा खाद्य भंडार कम होता जा रहा है। वह गत शनिवार से बगैर पानी के रह रही हैं। आपातकालीन जलापूर्ति स्टेशन में नर्सरी स्कूल कार्यकर्ता 23 वर्षीय एक कर्मी ने कहा कि बोतलों का पानी या चाय किसी भी सुविधा केंद्रों या अन्य दुकानों में उपलब्ध नहीं हो पा रही है।

ऊर्जा कंपनियों ने बताया कि करीब 11 हजार 200 घरों में बिजली आपूर्ति बंद पड़ी हुई है जबकि हजारों घरों में जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। राष्ट्रीय टीवी एनएचके के मुताबिक  मृतकों की संख्या कम से कम 112 हो गई है और बाढ़ की वजह से लाखों लोग बेघर हो गये हैं। टीवी रिपोर्ट में बताया सोमवार को नौ साल एक बच्चा मृत पाया गया और 78 लोग लापता पाए गए। इससे पूर्व 2004 में तूफान के कारण सबसे अधिक 98 लोगों की मौत हो गई थी।

सत्तारूढ़ पार्टी के अधिकारी ने बताया प्रधानमंत्री आबे ने आपदा को देखते हुए चार देशों बेल्जियम, फ्रांस, सऊदी अरब और मिस्र की यात्रा रद्द कर दी है। माकादा मोटर कॉर्प को सोमवार को हिरोशिमा में अपने प्रधान कार्यालय को बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ा, बाढ़ से कई उद्योग परिचालन प्रभावित हुए हैं।

दहात्सु कंपनी ने शुक्रवार को अपने चार संयंत्रों को बंद कर दिया, कंपनी ने कहा कि वह सोमवार को दूसरी शाम की शिफ्ट चलाएगी। इलेक्ट्रोनिक्स का सामान बनाने वाली कंपनी पैनासोनिक कंपनी के पहली मंजिल में बाढ़ का पानी घुस जाने के बाद कंपनी में अपने पहले संयंत्र में कामकाज बंद कर दिया है। 

36000 के पार पहुंचकर बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी में 94 अंक की बढ़त दर्ज

Sensex closes above 36000, Nifty rises 94 points

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और पूरे दिन के कारोबार के दौरान अंत में घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ ही बंद हुआ। बढ़त के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स बढ़त बनाते हुए 304.90 अंक यानि 0.85 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 36,239.62 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त का असर देखने को मिला और ये हरे निशान पर पहुंचकर 94.35 अंक यानि 0.87 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,947.25 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान घरेलू शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और पूरे दिन के कारोबार के बाद घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ ही बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 194.05 अंक यानि 0.54 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,851.91 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 276.86 अंक यानि 0.78 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,934.72 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 55.25 अंक यानि 0.51 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,827.90 के स्तर पर खुला। सेंसेक्स की तरह निफ्टी भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त कायम रखता हुआ हरे निशान पर पहुंचकर 80.25 अंक यानि 0.74 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,852.90 के स्तर पर बंद हुआ।

भारी बारिश की वजह से मुंबई में हुआ पानी-पानी, जनजीवन प्रभावित

Water-water in Mumbai due to heavy rains

मुंबई। मुंबई में मंगलवार को चौथे दिन भी भारी बारिश हुई, जिससे निचले क्षेत्रों में जल भराव हो गया है और यातायात भी बुरी तरह प्रभावित हुआ है। देश की व्यावसायिक राजधानी में कल रात से हो रही भारी बारिश की वजह से रेल मार्गों पर पानी भर गया है जिसके कारण कुछ ट्रेनों को रद्द कर दिया गया और कुछ लोकल ट्रेन 40-45 मिनट की देरी से चल रही हैं।

मौसम विज्ञान विभाग ने यहां भारी बारिश की चेतावनी जारी की है, भारी बारिश और जलभराव की वजह से मुंबई की पहचान ‘डब्बावाला’ ने मंगलवार को अपनी सेवायें रद्द कर दी हैं। मुंबई में सोमवार को औसत से पांच गुना ज्यादा बारिश हुई। भारी बारिश के कारण विरार और बोरीवली के बीच लोकल ट्रेन सेवा बंद करनी पड़ी।

देर रात हुई भारी बारिश के बावजूद मध्य रेलवे की उपनगरीय सेवाएं सभी मार्गों पर सामान्य रूप से चल रही हैं। महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने मंगलवार को उप निदेशक को निर्देश दिए कि वह सुनिश्चित करें कि ठाणे और पालघर जिले में विद्यालय बंद रहें। मुंबई में, भारी बारिश और जल भराव की वजह से विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को पहले ही स्कूल बंद करने के निर्देश दे दिए गए हैं। भारी बारिश का प्रभाव हवाई यातायात पर भी पड़ा।

जेट एयरवेज ने कहा कि भारी बारिश के कारण मुंबई में हमारी उड़ानों का आगमन और प्रस्थान 30 मिनट की देरी से हो रहा है। विमानन कंपनी ने कहा कि मुम्बई से आज जाने और यहां आने वाले जिन यात्रियों ने टिकट बुक कराए हैं यदि वे यात्रा की तिथि या उड़ान में परिवर्तन कराते हैं तो उनसे कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाएगा।

पालघर जिले से सटे वसई नगर में जल भराव के कारण लगभग 400 लोग सोमवार से अपने घरों में फंसे हुए हैं। एक अधिकारी ने कहा कि फंसे लोगों ने जल स्तर में कमी होने के बावजूद घर से निकलने से मना कर दिया। सोमवार को कोलाबा में सुबह 08:30 बजे और शाम 17:30 तक 104.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई।

इस हॉलीवुड अभिनेता ने लिया प्रियंका चोपड़ा और निक जोनास के रोमांस का क्रेडिट!

Priyanka Chopra and Nick Jonas's romance credited by this Hollywood actor

लॉस एंजिलिस। पिछले काफी समय से बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा अपनी लव लाइफ को लेकर चर्चाओं के बाजार में छाई हुई हैं। बता दें कि कुछ दिनों पहले ही सोशल मीडिया पर निक और प्रियंका की न्यूयॉर्क की सड़कों पर साइकलिंग करते हुए तस्वीरें वायरल हुई थी।

प्रियंका और निक ने अपने रिश्ते को लेकर भले ही कुछ कहा नहीं है लेकिन सोशल मीडिया पर दोनों एक दुसरे के प्रति प्यार दिखाते भी नही चूक रहे हैं। अब हॉलीवुड एक्टर ड्वेव जॉनसन ने दोनों को लेकर एक चौंकाने वाली बात कही हैं। जी हां ड्वेन ने दोनों के रिश्ते पर मजाकिया अंदाज में कहा है कि वह प्रियंका चोपड़ा और निक जोनास के रोमांस का श्रेय लेना चाहेंगे। '

एंटरटेनमेंट टुनाइट' की खबर के अनुसार अपनी आने वाली फिल्म 'स्काईस्क्रेपर' का प्रचार कर रहे जॉनसन से जब पूछा गया कि क्या वे जानते हैं कि उनके दोनों सह कलाकार डेट कर रहे हैं तो उन्होंने पलटकर पूछा, ''क्या वे खुश हैं?" जब उन्हें बताया कि ये दोनों बढिय़ा हैं तो उन्होंने कहा, ''तो फिर, मैं इसका श्रेय लेना चाहूंगा। 'बेवॉच' और 'जुमांजी'। मैंने कर दिखाया, जी हां, अगर वे खुश हैं तो।"

गौरतलब है कि जब से निक और प्रियंका की एक साथ कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई है तभी से दोनों के रिश्ते  में होने के कयास लगने शुरु हो गए थे। उसके कुछ दिनों बाद ही प्रियंका निक जोनस के साथ भारत आई। जहां उन्हें एयरपोर्ट पर हाथो में हाथ डाले तस्वीरें सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हुई।

इन तस्वीरों से एक बात तो साफ होती है कि प्रियंका और निक के बीच प्यार पनप रहा हैं। प्रियंका भी निक को अपने परिवार संग दोस्तों से मिलवा रही हैं। बता दें कि हाल ही में प्रियंका और निक को मुकेश अंबानी के बेटे की इंगेजमेंट सेरिमनी में भी साथ स्पॉट किया जा चुका हैं। जिसके बाद से दोनों को लेकर खबरें और तेज हो गई हैं।

लोकसभा अध्यक्ष ने सांसदों को पत्र लिखा, सदन में व्यवधान का चक्र खत्म करने की अपील की

Lok Sabha speaker writes letter to MP

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सांसदों को एक भावुक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर सांसद अतीत में दूसरे दलों के आचरण का हवाला देते हुए व्यवधान को उचित ठहराएंगे, तब संसद में ‘व्यवधान का चक्र’ कभी खत्म नहीं होगा। ‘सांसदों को उनकी नैतिक जिम्मेदारी’ की याद दिलाते हुए सुमित्रा महाजन ने उनसे सदन में सुचारू कामकाज सुनिश्चित करने की अपील की।

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि समय आ गया है कि हम आत्म चिंतन करें और इस बारे में  फैसला करें कि हमारी संसद और लोकतंत्र की छवि के लिये आगे बढऩे का रास्ता क्या है। सुमित्रा महाजन ने दो पन्नों के पत्र में कहा कि लोकतंत्र के पवित्र मंदिर संसद की प्रतिष्ठा और पवित्रता को अक्षुण्ण एवं सुरक्षित रखना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है।

उन्होंने कहा कि अपने अनुभव के आधार पर मैं यह कह सकती हूं कि लोग अपने प्रतिनिधियों के कामकाज पर करीबी नजर रखते हैं और मीडिया भी लोगों के समक्ष संसद और संसदीय क्षेत्र में उनके कामकाज की विस्तृत रिपोर्ट पेश करता है। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि इस सदन का सदस्य बनना विशिष्ट बात है और लोगों को उनसे काफी उम्मीदें हैं और लोगों ने उनमें विश्वास व्यक्त किया है।

सुमित्रा महाजन ने कहा कि इसके बदले में आप न केवल अपने क्षेत्र और देश की उम्मीदों पर खरा उतरें बल्कि देश की प्रगति और लोकतंत्र को मजबूत बनाने में भी योगदान करें। पिछले सत्र के दौरान सदन में सदस्यों के शोर शराबे, तख्तियां दिखाये जाने का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि अलग अलग विचार और असहमति संसदीय मर्यादा एवं मानदंडों के अनुरूप होने चाहिए ताकि लोकतंत्र एवं लोकतांत्रिक संस्थाओं में लोगों का विश्वास कायम रह सके।

उन्होंने कहा कि क्या हम अपने अनुपयुक्त आचरण को अतीत में दूसरे दलों द्वारा कामकाज बाधित करने की दलील देकर उचित ठहरा सकते हैं? अगर इस दलील को स्वीकार कर लिया जाता है तब व्यवधान कभी खत्म नहीं होगा। अध्यक्ष ने कहा कि सांसदों को यह ध्यान रखना चाहिए कि संसद में उनके आचरण और चर्चा की गुणवत्ता का युवाओं के विचारों पर गहरा प्रभाव पड़ता है। 

फेडरर 16वीं बार विंबलडन क्वार्टर फाइनल में, महिला वर्ग में उलटफेर जारी

Federer 16th time in Wimbledon quarter final

लंदन। मौजूदा चैंपियन रोजर फेडरर ने सोमवार को यहां सीधे सेटों में जीत दर्ज करके विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट में 16वीं बार क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया, लेकिन महिला वर्ग में उलटफेर का दौर जारी रहा और कैरोलिना पिलिसकोवा की हार के साथ सभी दस शीर्ष वरीय खिलाड़ी बाहर हो गई। 8 बार के चैंपियन फेडरर ने पहला सेट केवल 16 मिनट में जीता और आखिर में फ्रांस के गैरवरीयता प्राप्त एड्रियन मन्नारिनो को एक घंटे 45 मिनट तक चले मैच में 6-0, 7-5, 6-4 से हराया।

इस स्विस दिग्गज ने अब तक एक भी सेट नहीं गंवाया है। वह किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में 53 वीं बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचे हैं जहां उनका मुकाबला फ्रांस के गेल मोनफिल्स या दक्षिण अफ्रीका क आठवीं वरीय केविन एंडरसन से होगा। शीर्ष वरीयता प्राप्त फेडरर ने एंडरसन के खिलाफ सभी चार मैच जीते हैं जबकि मोनफिल्स के खिलाफ उनका रिकार्ड 9-4 है।

फेडरर ने धमाकेदार शुरुआत की और पहला सेट केवल 16 मिनट में अपने नाम किया। इसके बाद 22 वर्षीय मन्नारिनो इस बार टूर्नामेंट में फेडरर के खिलाफ ब्रेक प्वाइंट हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बने लेकिन वह ऐसे चार मौकों में से किसी को भी नहीं भुना पाए। $फेडरर विंबलडन में लगातार 32 सेट जीत चुके हैं। इससे वह 2005 और 2006 के बीच लगातार 34 सेट जीतने के अपने ही रिकार्ड को तोडऩे के करीब पहुंच गए हैं।

महिला वर्ग में हालांकि उलटफेर का दौर जारी रहा। पिलिसकोवा के सोमवार को यहां किर्की बर्टन्स के हाथों हारने के साथ ही महिला एकल में दस शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाड़ी क्वार्टर फाइनल से पहले ही बाहर हो गई। वीनस विलियम्स को हराने वाली बर्टन्स ने सातवीं वरीयता प्राप्त पिलिसकोवा के खिलाफ सात ऐस जमाये और दस में से आठ ब्रेक प्वाइंट बचाकर 6-3, 7-6 (2) से जीत दर्ज की। उन्होंने तीसरे दौर में नौवीं वरीयता प्राप्त वीनस को हराया था।

बर्टन्स क्वार्टर फाइनल में जर्मनी की 13 वीं वरीयता प्राप्त जुलिया जार्ज से भिड़ेगी जिन्होंने क्रोएशिया की डोना वेकिच को 6-3, 6-2 से हराकर पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के अंतिम आठ में प्रवेश किया। एंजलिक कर्बर भी क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं। जर्मनी की यह 11वीं वरीयता प्राप्त खिलाड़ी ने स्विट्जरलैंड की बेलिंडा बेनिच को 6-3, 7-6 से हराया। कर्बर अब ड्रा में बची सबसे अधिक वरीयता की खिलाड़ी हैं।

एक अन्य मैच में इटली की कासिला जियोर्जी ने रूस की एकटेरिना मकारोवा को 6-3, 6-4 से पराजित किया। लाटविया की 12वीं वरीय येलेना ओस्टोपेंको और स्लोवाकिया की गैरवरीय डोमिनिका सिबुलकोवा भी क्वार्टर फाइनल में एक दूसरे से भिड़ेंगी। ओस्टोपेंको ने आलियासांद्रा सैसनोविच 7-6 (4), 6-0 से जबकि सिबुलकोवा ने सीह सु वेई को 6-4, 6-1 से हराया। 

न्यूयॉर्क में इलाज के दौरान सोनाली बेंद्रे का बड़ा बयान आया सामने

Sonali Bendre's big statement came in front of cancer treatment in New York

न्यूयॉर्क। बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे को हाल ही में 'हाई ग्रेड कैंसर' होने का पता चला था। अपने फैंस से साझा करते हुए उन्होंने पिछले सप्ताह ही अपने कैंसर होने की जानकारी सोशल मीडिया पर साझा दी। अभी उनका न्यूयॉर्क में इलाज जारी है। कैंसर की बीमारी से लड़ाई लड़ रही बॉलीवुड अदाकारा सोनाली बेंद्रे का कहना है कि वह भविष्य में सामने आने वाली मुश्किलों से निपटने के लिए खुद को तैयार कर रही हैं। 

सोनाली बेंद्रे ने इंस्टाग्राम पर अपने प्रशंसकों और फिल्म जगत के सदस्यों का उन्हें प्यार एवं सहयोग देने के लिए शुक्रिया अदा किया। सोनाली ने लिखा, ''हर दिन एक नई चुनौती तथा एक नई जीत के साथ आता है और इसलिए मैं हर दिन की चुनौती से हर दिन निपट रही हूं। एक चीज जिसे में लगातार कायम रखने की कोशिश कर रही हूं, वह है साकारात्मक दृष्टिकोण।" उन्होंने आगे लिखा, वास्तव में इससे निपटने का यह मेरा तरीका है। बेंद्रे ने कहा कि वह खुश हैं कि इस मुश्किल समय में अकेली नहीं हैं।

खबरों की मानें तो डॉक्टर्स का कहना है कि सोनाली की लापरवाही के कारण वे कैंसर की आखिरी स्टेज पर पहुंच गई। उनके शरीर में लगातार दर्द होता रहा जिसे वे नजर अंदाज करती रही। यदि वे समय रहते दिखा पाती तो यह इतना नहीं बढ़ता। आपको बता दें कि सोनाली को शरीर में दर्द होता रहा जब यह असहनीय हो गया तब सोनाली ने टेस्ट कराए जिसके बाद उनके कैंसर होने का पता चला।

आत्मघाती हमले में दस लोगों की मौत

Ten people died in suicide attack

जलालाबाद। आतंकवादियों को कैसी पढ़ाई कराई जा रही है कि आतंकी कार्रवाई में मौत को गले लगाएगा उस पर अल्लाह नूर बरसाएगा। इसका प्रभाव यह रहता है कि स्वयं अपने आप को उड़ा लेने से भी आतंकी पीछे नहीं रहते हैं।

ऐसी ही घटना अफगान सुरक्षा बलों के वाहन के पास  एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया। इस हमले में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि देश को हिला देने वाले इस बेहद हिंसक हमले में मारे गए लोगों में से ज्यादातर असैन्य नागरिक हैं। 

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता अताउल्लाह खोग्यानी ने बताया कि पूर्वी शहर जलालाबाद में हुए इस विस्फोट में कम से कम चार लोग घायल भी हुए हैं। मारे गए लोगों में आठ आम नागरिक हैं। स्वास्थ्य निदेशक नजीबुल्लाह कामावाल ने मरने वालों के आंकड़े की पुष्टि की और कहा कि अस्पताल लाए गए कुछ पीडि़त गंभीर रूप से झुलसे थे।

घटना के प्रत्यक्षदर्शी इस्मतुल्लाह ने बताया कि  यह घटना का मंजर बहुत ही भयानक था। मैंने देखा कि आग का एक बड़ा सा गोला लोगों को दूर फेंक रहा था। लोग जल रहे थे।पाकिस्तान से सटे अशांत नानगरहर प्रांत में हुए इस हमले की जिम्मेदारी किसी भी आतंकी गुट ने नहीं ली है।

प्रांत में हाल में हुए कई अन्य आत्मघाती हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट आतंकी समूह ने ली थी। उन हमलों में बड़ी संख्या में लोग मारे गए थे। दूसरी ओर, अमेरिका तथा अफगान बल इस आतंकी समूह के खिलाफ अभियान जारी रखे हुए हैं।

यह  हमला अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ के यह उम्मीद जताने के सिर्फ एक दिन बाद हुआ है कि अफगान सरकार और तालिबान के बीच शांति वार्ता सफल रहेगी । उल्लेख है कि जलालाबाद में एक जुलाई को हुए हमले में 19 लोग मारे गए थे जबकि 21 घायल हो गए थे।

यात्री वाहनों की बिक्री में 2009 के बाद की सबसे बड़ी तेजी

The biggest boom in passenger vehicles sales since 2009

नई दिल्ली। सातवां वेतन आयोग लागू होने की वजह से लोगों की व्यय शक्ति में वृद्धि तथा अच्छे मानसून की उम्मीद से बनी बेहतर ग्राहक धारणा के दम पर जून महीने में देश में यात्री वाहनों की बिक्री 37.54 प्रतिशत बढ़ी जो वर्ष 2009 के बाद की सबसे बड़ी तेजी है।

पटेल बनने के वर्चस्व में खूनी संघर्ष, एक मृत 3 जख्मी, सात गिरफ्तार

Samachar Jagat | Tuesday, 10 Jul 2018 04:07:06 PM

crime in Madhya Pradesh

बड़वानी। मध्यप्रदेश के बडवानी जिले के निवाली थाना क्षेत्र के नानीझिरी ग्राम में पटेल बनने के वर्चस्व को लेकर दो चचेरे भाइयों के बीच हुए विवाद में एक की मौत हो गई और 3 अन्य घायल हो गए हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक ग्राम पटेल के गुलाब और उसके चचेरे भाई धन सिंह के मध्य पटेल पद के लिए विवाद होता रहता था। कल जब धन सिंह अपने पुत्र नूरजा के साथ निवाली से वापस नानीझिरी आ रहा था, तब गांव के बाहर उसके चचेरे भाई और ग्राम पटेल के गुलाब उसके पुत्रों , पौत्रों तथा रिश्तेदारों ने उन्हें घेर लिया। धन सिंह और नूरजा ने कुछ देर तक संघर्ष किया, लेकिन घायल होने पर नूरजा छिप गया, इस बीच धन सिंह ने भी एक घर में छिपकर अपनी जान बचाने की कोशिश की, लेकिन आरोपियों ने उसका पीछा कर उसे बाहर निकाला और पत्थरों और लाठियों से उसकी हत्या कर दी।

घटना के बाद गुलाब और उसके पुत्र थाने पहुंच गए और उन्होंने धन सिंह और उसके पुत्र नूरजा के विरुद्ध मारपीट की शिकायत की जिस पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया। बाद में नूरजा वहां उपस्थित हुआ और उसने बताया कि आरोपियों की पिटाई के चलते उसका पिता घायल है। इस पर 108 एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंचाई गई और धन सिंह को निवाली के शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि ग्राम पटेल के गुलाब उसके दो पुत्रों काशीराम और केसरिया पौत्र रामलाल, सुनील व कालिया तथा एक अन्य दिनेश को गिरफ्तार कर लिया गया है। वाहन निर्माता कंपनियों के संगठन सियाम द्वारा मंगलवार को यहां जारी आँकड़ों के मुताबिक इस वर्ष जून में घरेलू बाजार में 2,73,759 यात्री वाहन बिके जबकि पिछले साल इसी महीने में 1,99,036 यात्री वाहन बिके थे। यात्री वाहनों में कार, उपयोगी वाहन और वैन को शामिल किया जाता है। 

गत वर्ष एक जुलाई से लागू हुआ था वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) 
सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर और उपमहानिदेशक सुगातो सेन ने बताया कि इस महीने वाहनों की बिक्री का फीसदी मजबूत रहने का एक कारक पिछले साल जून में इसमेंं आई गिरावट भी रहा है। गत वर्ष एक जुलाई से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू हुआ था।

जीएसटी के बाद कीमतों में कमी की उम्मीद में ग्राहकों में खरीद स्थगित कर दी थी और इसीलिए जून 2017 में बिक्री बेहद कम रही थी। इस साल जून में यात्री कारों की बिक्री 34.21 प्रतिशत बढक़र 1,83,885 पर पहुंच गई। ये अक्टूबर 2010 के बाद की सबसे बड़ी तेजी है। उपयोगी वाहनों की बिक्री 47.11 प्रतिशत बढक़र 73,654 इकाई और वैनों की बिक्री 35.64 प्रतिशत बढक़र 16,220 इकाई हो गई। 

 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.