10 अक्टूबर: एक क्लिक में पढ़ें दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Wednesday, 10 Oct 2018 04:14:19 PM
10 october top 10 news in hindi

सुप्रीम कोर्ट ने कहा-पुलिसकर्मी हथियार लेकर और जूते पहनकर नहीं करे पुरी के जगन्नाथ मंदिर में प्रवेश

Do not enter Jagannath temple of Puri by taking arms, wear shoes, any policeman: Court

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने पुरी के जगन्नाथ मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए कतार लगाकर दर्शन करने की व्यवस्था लागू करने के दौरान तीन अक्टूबर को हुई हिंसा पर संज्ञान लेते हुए बुधवार को कहा कि कोई भी पुलिसकर्मी हथियार लेकर और जूते पहनकर मंदिर में प्रवेश नहीं करे। ओडिशा सरकार ने न्यायमूर्ति मदन बी. लोकूर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ को बताया कि पुरी के जगन्नाथ मंदिर में हुई हिंसा के सिलसिले में 47 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और वहां स्थिति नियंत्रण में है। राज्य सरकार ने पीठ को बताया कि जगन्नाथ मंदिर परिसर में कोई हिंसा नहीं हुई थी।

हिंसा के दौरान मंदिर प्रशासन के कार्यालय पर हमला कर उसमें तोड़फोड़ की गई थी, जोकि मुख्य मंदिर से करीब 500 मीटर की दूरी पर स्थित है। मामले में हस्तक्षेप की मांग करने वाले संगठन की ओर से पेश हुए वकील ने पीठ के समक्ष दावा किया कि हिंसा के दौरान पुलिसकर्मी हथियारों के साथ जूते पहनकर मंदिर में घुसे थे।

पुलिस ने कहा था कि तीन अक्टूबर को एक सामाजिक-सांस्कृतिक संगठन ने पंक्तिबद्ध दर्शन की व्यवस्था के विरोध में 12 घंटे का बंद रखा था। इस दौरान मंदिर परिसर में हुई हिंसा में नौ पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। मंदिर के एक अधिकारी ने कहा था कि कतार लगाकर दर्शन की व्यवस्था प्रायोग के तौर पर शुरू की गई थी और इसकी समीक्षा की जाएगी क्योंकि स्थानीय लोग और सेवादार इसका विरोध कर रहे हैं।

केंद्र में भाजपा सरकार आने पर बाहर होगा एक-एक घुसपैठिया - शाह

 when the BJP government comes to the center then intruder will come out: shah

ग्वालियर। भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस पर बांग्लादेशी घुसपैठियों को अपना‘वोट बैंक’बनाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वर्ष 2019 में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर सभी घुसपैठियों को देश से बाहर किया जाएगा। शाह कल देर शाम यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा आयोजित युवा समेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 2022 में आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर ऐसा कोई गरीब का घर नहीं होगा, जिसमें चूल्हा ना हो। हर गरीब के लिए शौचालय होगा। घुसपैठिये देश से बाहर होंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे पहले घुसपैठियों को कांग्रेस से लेकर ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस सरकार वोट बैंक समझती थी। घुसपैठियों के मुद्दे पर संसद में भी इन सरकार के नुमांइंदों ने रोना रोया, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आसाम में एनआरसी के बाद घुसपैठियों को पहचान कर बाहर करने का रास्ता मजबूत किया है।

उन्होंने कहा कि 2019 में मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार सत्ता में आने पर सभी घुसपैठियों को बाहर निकाला जाएगा।
कांग्रेस पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि पार्टी में स्वयं में लोकतंत्र नहीं है, ऐसी पार्टी देश में लोकतंत्र की रक्षा कैसे कर सकती है, वह देश का विकास नहीं कर सकती, वह तो केवल अपनी कुर्सी बचाने में लगी रहती है।

मध्यप्रदेश के संदर्भ में उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में शिवराज सिंह चौहान सरकार के 14 साल और केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के साढे चार साल का कार्यकाल पिछली सरकारों के कार्यकाल पर भारी है। इन सरकारों से विकास की गति बढी है। गांवों में 24 घंटे बिजली, गरीबों को गैस चूल्हा, आवासहीनों को मकान देने की योजनाओं पर अमल हुआ है। 

उन्होंने कहा कि 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाया, उसके बाद 1977 में हुए चुनाव में युवाओं ने बड़ा परिवर्तन कर लोकतंत्र को मजबूत करने का जनादेश दिया। उन्होंने भाजपा की अन्य दलों से तुलना करते हुए कहा कि भाजपा में लोकतंत्र भजदा है, अन्य दलों में परिवार के सदस्य सर्वेसर्वा हैं। 

 शाह कार्यक्रम के पश्चात पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी के निवास स्थान पर पहुंचे। इसके साथ ही राजमाता विजयराजे भसधिया की छतरी व रानी लक्ष्मीबाई की समाधि पर पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की।

बांग्लादेश के 2004 ग्रेनेड हमला मामले में खालिदा जिया के बेटे को उम्रकैद

Khaleda son gets life imprisonment in Bangladesh grenade attack case

ढाका। बांग्लादेश की एक कोर्ट ने बुधवार को 2004 के ग्रेनेड हमला मामले में पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया के भगोड़े बेटे तारिक रहमान को उम्रकैद और 19 अन्य को फांसी की सजा सुनाई। इस हमले में 24 लोग मारे गए थे और उस समय विपक्षी पार्टी की प्रमुख रहीं शेख हसीना समेत करीब 500 लोग घायल हो गए थे।

बांग्लादेश की मौजूदा प्रधानमंत्री हसीना को लक्ष्य बनाते हुए यह हमला 21 अगस्त, 2004 को अवामी लीग की एक रैली पर किया गया था। हसीना इस हमले में  बच गईं थीं लेकिन उनके सुनने की क्षमता को कुछ नुकसान हुआ था। आरोपियों को कोर्ट लाने के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी। रहमान पर उसकी गैरमौजूदगी में मुकदमा चला और कोर्ट ने उसे एक 'भगोड़ा’ करार दिया था। वह फिलहाल लंदन में रह रहा है जहां माना जा रहा है कि उसने शरण मांगी है। हालांकि ब्रिटिश अधिकारियों ने उसकी आव्रजन स्थिति के बारे में बताने से इनकार कर दिया है।

ढाका के फास्ट ट्रैक न्यायाधिकरण के न्यायाधीश शाहिद नुरुद्दीन ने ये फैसला सुनाया जिसमें रहमान को 18 अन्य लोगों के साथ उम्रकैद की सजा सुनाई गई। पूर्व गृह राज्य मं‍त्री लुत्फोजमां बाबर उन 19 लोगों में शामिल है जिन्हें अदालत ने बुधवार को मृत्युदण्ड सुनाया।

जांच में पाया गया कि रहमान समेत बीएनपी नीत सरकार के प्रभावी धड़े ने आतंकवादी संगठन हरकतुल जिहाद अल इस्लामी के आतंकवादियों से यह हमला कराने की योजना बनाई थी और हमले को प्रायोजित किया था। इस मामले में रहमान, बाबर समेत दो पूर्व मंत्रियों और पूर्व पुलिस एवं खुफिया अधिकारियों सहित 49 लोगों को आरोपी बनाया गया था। न्यायाधीश ने हमले की पृष्ठभूमि, मकसद और परिणामों पर गौर करते हुए टिप्पणी की। 

जांच में पता चला कि रहमान समेत बीएनपी नीत सरकार के प्रभावी धड़े ने आतंकवादी संगठन हरकतुल जिहाद अल इस्लामी के आतंकवादियों से यह हमला कराने की योजना बनाई थी और हमले को प्रायोजित किया था। जांचकर्ताओं का कहना है कि हमले का मुख्य लक्ष्य हसीना थी।

हसीना इस हमले में घायल हो गईं थीं जबकि जबकि पार्टी की महिला मोर्चे की प्रमुख एवं पूर्व राष्ट्रपति जिल्लुर रहमान की पत्नी इवी रहमान की मौत हो गई थी। भ्रष्टाचार मामले में फिलहाल पांच साल की सजा काट रही जिया को इस मामले में आरोपी नहीं बनाया गया था।

किम के साथ शिखर बैठक की तैयारी आगे बढ़ी : ट्रंप

Preparations for the summit with Kim moving forward: Trump

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ उनके अगले शिखर बैठक की तैयारी चल रही है और इसके लिए स्थान के रूप में तीन से चार नाम पर विचार किया जा रहा है। ट्रंप ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में कहा कि बैठक संभवत: सिंगापुर में नहीं होगी।

गौरतलब है जून में उनके बीच पहली ऐतिहासिक वार्ता वहीं पर हुई थी। इस वार्ता में उन्होंने उत्तर कोरिया के परिमाणु हथियार कार्यक्रम को बंद करने और वॉभशगटन तथा प्योंगयांग के बीच बैर को खत्म करने के बारे में बात की थी। ट्रंप ने कहा कि सम्मेलन होने में अब ज्यादा वक्त नहीं है और यह छह नवंबर के मध्यावधि चुनाव के बाद हो सकता है। उन्होंने कहा कि यह मुलाकात अमेरिका या फिर उत्तर कोरिया में हो सकती है।

अगले सम्मेलन के बारे में विचार विमर्श करने के लिए अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सोमवार को प्योंगयांग में किम से मुलाकात की थी। वहां से लौटकर, व्हाइट हाउस में पोम्पिओ ने संवाददाताओं को बताया था कि वह कल देर रात ही उत्तर कोरिया दौरे लौटे हैं और यह दौरा काम का रहा है।

दिलीप कुमार को गुरुवार को मिल सकती है अस्पताल से छुट्टी

Dilip Kumar may get leave from hospital on Thursday

मुंबई। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार की सेहत को लेकर ताजा जानकारी सामने आई हैं। बताते चलें कि निमोनिया के इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराए गए अभिनेता दिलीप कुमार पर उपचार का असर हो रहा हैं। उनकी सेहत को देखते हुए उन्हें जल्द ही अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है।

बताते चलें कि दिलीप कुमार को लीलावती अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। 95 वर्षीय अभिनेता दिलीप कुमार बार-बार निमोनिया से ग्रसित हो रहे थे। उनके पारिवारिक दोस्त फैसल फारुकी ने अभिनेता के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी यह जानकारी साझा की थी। इसमें कहा गया कि दिलीप कुमार को गुरुवार को अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है।

ट्वीट में लिखा गया, '' ऊपर वाले का शुक्रिया। दिलीप कुमार साहब पर उपचार का असर हो रहा है और अब उनकी सेहत बेहतर है। चिकित्सकों के मुताबिक सबकुछ ठीकठाक चलता रहा तो उन्हें अस्पताल से कल छुट्टी मिल सकती है। इंशाल्लाह।" गौरतलब है कि पिछले महीने मामूली निमोनिया के उपचार के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

इस वजह के चलते मामी के बोर्ड से हटे अनुराग कश्यप

For this reason, Anurag Kashyap, who left to the MAMI Board

मुंबई। फिल्मकार अनुराग कश्यप ने बुधवार को कहा कि उन्होंने मुंबई एकेडमी ऑफ मूविंग इमेज (मामी) के बोर्ड के सदस्य पद से हटने का फैसला किया है। 46 वर्षीय कश्यप मामी के गठन के बाद से ही इसके सदस्य रहे हैं। एक महिला के कथित यौन उत्पीडऩ के मामले में फिल्म निर्देशक विकास बहल को बचाने के आरोपों से घिरे कश्यप ने कहा कि वह अपना नाम पाक-साफ साबित होने के बाद ही लौटेंगे।

उन्होंने ट्वीट किया, ''मौजूदा घटनाक्रम के मद्देनजर मैंने मामी के बोर्ड के सदस्य पद से तब तक के लिए हटने का फैसला किया है, जब तक चुप्पी साधे रहने में हमारी कथित मिली भगत और इस बारे में कुछ नहीं करने का संदेह दूर नहीं हो जाता।" फैंटम फिल्म्स की एक कर्मचारी ने पिछले साल बहल पर 2015 में गोवा यात्रा के दौरान बदसलूकी करने का आरोप लगाया था।

बहल इस निर्माण कंपनी में अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवाने और मधु मेंटेना के साथ साझेदार थे। कश्यप ने एक अन्य ट्वीट में मामले में चुप रहने की बात को खारिज कर दिया और कहा कि वह अपने रास्ते में आने वाले आरोपों का मुकाबला करेंगे।

अपनी खराब फॉर्म से निजात पाने के लिए धोनी ले सकते हैं इस टूर्नामेंट का सहारा

Mahendra Singh Dhoni can play in Vijay Hazare Trophy

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान और मौजूदा विकेट कीपर महेंद्र सिंह धोनी घरेलू विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय टूर्नामेंट में क्वार्टरफाइनल के लिए क्वालीफाई कर चुके झारखंड क्रिकेट टीम के लिए खेल सकते हैं। झारखंड क्रिकेट टीम के क्वार्टरफाइनल में क्वालीफाई करने के बाद महेन्द्र सिंह धोनी के घरेलू टीम में खेलने की संभावना बनी है।

वह झारखंड की टीम के साथ ट्रेनिंग कर रहे हैं लेकिन ग्रुप लीग में उसकी तरफ से खेलने नहीं उतरे थे। वह हाल ही में एशिया कप में भी भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे। विकेट कीपर बल्लेबाज महेन्द्र सिंह धोनी पिछले कुछ समय से खराब फार्म से गुजर रहे हैं जो उनके लिए परेशानी का सबब बनी हुई है।

उनकी इस खराब फॉर्म के कारण ही उनकी बल्लेबाजी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। महेन्द्र सिंह धोनी के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद से ही वह सिर्फ वनडे और टी20 मैचों में ही खेल रहे हैं। उन्होंने मौजूदा वर्ष में 15 वनडे और सात ट्वेंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में ही हिस्सा लिया है जबकि घरेलू क्रिकेट में भी वह हिस्सा नहीं लेते हैं। विजय हजारे ट्रॉफी के सभी नॉकआउट मैच बेंगलुरू में खेले जाने हैं। इस मैच का हिस्सा होने के बाद महेन्द्र सिंह धोनी के पास अपनी फॉर्म को वापस लाने का एक अच्छा मौका है और मौके को धोनी भी भुनाना चाहेंगे।

श्रीलंका के खिलाफ इस बात को सुनकर खुश है इंग्लैंड खिलाड़ी

Jos buttler said england is happy to hear claimant against Sri Lanka

दांबुला। इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने बुधवार से श्रीलंका के खिलाफ यहां शुरू हो रहे पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में जीत का दावेदार माने जाने पर खुशी जताते हुए कहा उन्हें पता है कि इस देश का दौरा चुनौती भरा होगा। श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल ने हालांकि इंग्लैंड को चेतावनी दी कि यहां के हालात उनके लिए बिल्कुल अलग होंगे और टीम में कुछ अबूझ स्पिनर है जो इयोन मोर्गन के बल्लेबाजों को परेशानी में डालेंगे। बटलर ने कहा है कि जीत का दावेदार होने पर खुश हूं।

इससे यह पता चलता है कि हम अच्छा कर रहे हैं और मुझे जीत का दावेदार होना पसंद है। उन्होंने हालांकि कहा है कि श्रीलंका में हालत मुश्किल होंगे और एकदिवसीय रैंकिंग में पहले स्थान पर होने से खुद को साबित करने का भी दबाव होगा। बटलर ने कहा है कि हमें इन परिस्थितियों में श्रीलंका की चुनौती के बारे में पता है। उनकी टीम में कुछ अनुभवी खिलाड़ी है।

इससे पहले इंग्लैंड के लिए श्रीलंका का दौरा बेहद ही चुनौतीपुर्ण रहा है। जब आप शीर्ष रैंकिंग की टीम होते है तो हमेशा दबाव होता है। मुझे लगता है यहां से हमें और मेहनत करने की जरूरत है। पिछले 40 एकदिवसीय मैचों में 30 में हार का सामना करने वाली श्रीलंकाई टीम इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला से एशिया कप की कड़वी यादों को पीछे छोडऩा चाहेगी जहां टीम बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भी हार गई थी।

टीम को एंजेलो मैथ्यूज की सेवाएं भी नहीं मिलेगी जिन्हें एशिया कप में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद बाहर कर दिया गया है। चोटिल होने और निलंबन के कारण एशिया कप से बाहर रहे चांदीमल ने कहा है कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों के लिया यहां खेलना आसान नहीं होगा। हमारी टीम में कुछ अबूझ स्पिनर है। पिछले कुछ दिनों में हमने काफी मेहनत की है।

सोना 200 रुपए चमका, चांदी 50 रुपए टूटी

today Gold and silver price

नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर दोनों कीमती धातुओं में गिरावट के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में ग्राहकी आने से बुधवार को सोना 200 रुपए चढकर 31,850 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुँच गया। वहीं, चाँदी 50 रुपए फिसलकर करीब एक सप्ताह के निचले स्तर 39,200 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई।

विदेशों से मिली जानकारी के मुताबिक सोना हाजिर 2.45 डॉलर की गिरावट में 1,186.50 डॉलर प्रति औंस रह गया। दिसंबर का अमेरिकी सोना वायदा भी 1.70 डॉलर की गिरावट में 1,189.80 डॉलर प्रति औंस बोला गया। बाजार विश्लेषकों ने बताया कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्बारा दिसंबर में एक बार फिर ब्याज दरें बढ़ाने की संभावना बढ़ने से आज सोने पर दबाव रहा।  सोना ब्याज दरों के प्रति संवेदनशील है और दरें बढ़ने से इसकी माँग कम होती है और निवेशक पूँजी बाजार में पैसा लगाना ज्यादा पसंद करते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में चाँदी हाजिर भी 0.04 डॉलर की गिरावट में 14.33 डॉलर प्रति औंस पर आ गई। स्थानीय बाजार में सोने की त्योहारी मांग आनी शुरू हो गई है। इस बीच विदेशी बाजारों का ज्यादा दबाव नहीं होने से सोना स्टैंडर्ड 200 रुपए चमककर 31,850 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुँच गया।

सोना बिटुर भी इतना ही चढकर 31,700 रुपए प्रति दस ग्राम के भाव बिका। 8 ग्राम वाली गिन्नी 24,600 रुपए पर टिकी रही। चांदी की औद्योगिक ग्राहकी उतरने से इसमें लगातार तीसरे दिन गिरावट रही। चांदी हाजिर 50 रुपए टूटकर 39,200 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गयी। जो 4 अक्टूबर के बाद का इसका निचला स्तर है। चाँदी वायदा 85 रुपए की गिरावट में 38,650 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। सिक्का लिवाली और बिकवाली गत दिवस के क्रमश: 74 हजार और 75 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर अपरिवर्तित रहे। 

461 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes 461 points up

मुंबई। आज सुबह जब शेयर बाजार खुला तो उसमें बढ़त देखी गई। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने ही बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत की और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त कायम रही और दोनों प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुए। बढ़त के माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 461.42 अंक यानि 1.35 प्रतिशत की बढ़त के साथ 34,760.89 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त देखने को मिली और ये 159.05 अंक यानि 1.54 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,460.10 के स्तर पर बंद हुआ। 

गौरतलब है कि कल सुबह जब सुबह शेयर बाजार में कारोबार शुरू हुआ तो इसमें गिरावट देखने को मिली और कारोबार की समाप्ति पर ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 6.79 अंक यानि 0.020 प्रतिशत की गिरावट के साथ 34,467.59  के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये  174.91 अंक यानि 0.51 प्रतिशत की गिरावट के साथ 34,299.47 के स्तर पर बंद हुआ। 

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 8.50 अंक यानि 0.082 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,339.55 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 47.00 अंक यानि 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,301.05 के स्तर पर बंद हुआ । 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.