11 जूनः एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 04:30:24 PM
11 june latest top ten news

शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज पर शिष्‍या से बलात्कार का लगा आरोप

Shantham temple founder Dati Maharaj charged with rape accused

नई दिल्‍ली। नई दिल्‍ली के फतेहपुर बेरी इलाके में स्थित मशहूर शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज पर एक महिला ने रेप का सनसनीखेज आरोप लगाया है। इस ये साबित होता है की इन दिनों बाबाओं की बुरे दिन चल रहे हैं। इसे पहले बाबा आसाराम, बाबा राम रहीम पर लगे थे ये आरोप। अौर वह आज बलात्‍कार के आरोप में सलाखों के पीछे हैं।

अब इसी लिस्‍ट में में एक और बाबा का नाम शामिल हो गया है। जी हां इस मशहूर शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज पर एक महिला शिष्य से कथित तौर पर यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार मामला संबंधित थाने र्द किया गया है। बाबा के खिलाफ उनकी एक महिला शिष्य की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने सोमवार को यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया है।

महिला शिष्य का आरोप है कि दो साल पहले शनि धाम मंदिर के भीतर उसका यौन उत्पीड़न किया गया है। दाती महाराज के विरुद्ध भारतीय दंड विधान की धारा 376.377.354 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि दो वर्ष पूर्व दाती महाराज ने मंदिर के भीतर ही उसके साथ बलात्कार किया और किसी को इस बारे में नहीं बताने की धमकी भी दी। जानकारी के अनुसार पुलिस का कहना है कि इस मामले में दाती महाराज को भी पूछताछ के लिए समन किया जाएगा।

देश भाजपा और आरएसएस का गुलाम बनता जा रहा हैं : राहुल गांधी

The country is becoming the slave of BJP and RSS: Rahul Gandhi

नेशनल डेस्क। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज तालकटोरा स्‍टेडियम में ओबीसी सम्‍मेलन को संबोधित किया। इस दौरान राहुल गांधी ने भाजपा, आरएसएस और पीएम मोदी पर काफी तंज कसे। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया, साथ रोजगार, विकास जैसे कई मुद्दों पर भाजपा सरकार को घेरने की कोशिश की। राहुल ने ओबीसी मतदाताओं को भी लुभाने की कोशिश की। 

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को भाजपा को घेरते हुए कहा कि किसान देश के लिए काम करता है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके लिए कुछ नहीं किया। पीएम मोदी ने सिर्फ 15 उद्योगपतियों का 2.5 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया हैं। पीएम मोदी ने 2 करोड़ युवाओं को रोजगार का वादा किया था लेकिन 8 साल से सबसे ज्यादा बेरोजगारी भारत में हैं फिर भी पीएम मोदी रोजगार, स्किल की बात नहीं करते। 

भाजपा को घेरते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आज पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा है, कुछ दिनों बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को देश की शक्ति समझ में आ जाएगी। आज पूरा देश भाजपा और संघ का गुलाम हो गया है। 

राहुल गांधी ने कहा कि दुनिया में जितनी भी बड़ी कंपनी चल रही हैं, वो छोटे लोगों ने ही शुरू की हैं। 70 सालों तक कांग्रेस पार्टी ओबीसी समुदाय के साथ खड़ी है और आगे भी कांग्रेस पार्टी ओबीसी के अधिकारों के लिए प्रयास जारी रखेगी। बता दें, इस सम्मेलन में देशभर से ओबीसी समुदाय के लोग शामिल हुए। 

नवाज शरीफ मामले की सुनवाई एक माह में पूरी करने के आदेश

Nawaz Sharif case hearing to complete in one month

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय जवाबदेही अदालत को अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों की सुनवाई एक माह में पूरी कर लिए जाने के आदेश दिए हैं। मुख्य न्यायाधीश मियां साकिब निसार की अगुवाई वाली दो सदस्यीय पीठ ने रविवार को यह आदेश दिए है।

न्यायालय ने नवाज शरीफ और उनकी पुत्री मरियम को लंदन जाने की भी अनुमति दी है, जहां श्रीमती शरीफ का इलाज चल रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने गत वर्ष जुलाई में शरीफ को प्रधानमंत्री पद के लिए अयोग्य ठहरा दिया था। इसके बाद सितम्बर में राष्ट्रीय जवाबदेही अदालत में शरीफ एवं उनके परिवार के खिलाफ मुकदमा दायर किया गया था।

अदालत ने मामले की सुनवाई पूरी करने के लिए छह माह की समय-सीमा निर्धारित की थी, लेकिन यह अवधि मार्च में दो माह और मई में एक माह के लिए बढ़ा दी गयी, जिसकी मियाद भी रविवार को समाप्त हो गयी। बहरहाल अदालत ने सुनवाई पूरी करने के लिए और समय दिये जाने की मांग की है। पाकिस्तान के समाचारपत्र'डान’की रिपोर्ट के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई पूरी किये जाने के संदर्भ में छह सप्ताह का समय दिये जाने संबंधी  शरीफ के वकील ख्वाजा हरीश की याचिका खारिज कर दी और एक माह के भीतर अंतिम फैसला सुनाये जाने के आदेश दिये हैं।

भारत का बीआरआई में शामिल होने से इनकार, मोदी ने कहा क्षेत्र को सुरक्षित रखने के लिए साझा प्रयास की जरूरत

India refuses to join BRI, Modi says need for common effort to keep the area safe

चिगदाओ (चीन)। चीन की महत्वाकांक्षी ' एक क्षेत्र एक सड़क ’ (ओबीओआर) पहल का भारत द्बारा निरंतर विरोध किए जाने का स्पष्ट संदेश देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि बड़ी सम्पर्क सुविधा परियोजनाओं में सदस्य देशों की संप्रभुता और अखंडता का सम्मान किया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि समावेशिता सुनिश्चित करने वाली सभी पहलों के लिए भारत की ओर से पूरा सहयोग मिलेगा। मोदी यहां शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के 18 वें शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए दो दिन की यात्रा पर आए हैं। मोदी ने आज यहां संक्षिप्त नाम ' सिक्योर ’ के रुप में एक नयी अवधारणा रखी। इसमें ' एस ’ से आशय नागरिकों की सुरक्षा  ' ई ’ से इकोनामिक डेवलपमेंट (आर्थिक विकास), ' सी ’ से क्षेत्र में कनेक्टिविटी (संपर्क), ' यू ’ से यूनिटी (एकता), ' आर ’ से रेसपेक्ट फॉर सोवरनिटी एंड इंटेग्रिटी (संप्रभुता और अखंडता का सम्मान) और ' ई ’ से तात्पर्य एनवायर्मेंटल प्रोटेक्शन (पर्यावरण सुरक्षा) है।

अफगानिस्तान को आतंकवाद के प्रभावों का ' दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण ’ बताते हुए मोदी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश में शांति के लिए जो साहसिक कदम उठाए हैं , क्षेत्र में सभी लोग इसका सम्मान करेंगे उन्होंने इसी क्रम में ईद के मौके पर अफगानी नेता द्बारा संघर्ष विराम की घोषणा का भी उल्लेख किया। अधिकारियों ने कहा कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिग सहित सभी एससीओ सदस्यों ने आतंकवाद एवं अतिवाद के खतरों के बारे में चर्चा की और इसके समाधान के लिए ठोस कार्रवाई योजना शामिल करने की बात कही।

मोदी ने क्षेत्र के आर्थिक विकास के लिए संपर्क सुविधाओं को एक महत्वपूर्ण कारक बताया चीनी राष्ट्रपति चिनफिग की मौजूदगी में मोदी ने कहा कि भारत चाबहार बंदरगाह और अशगाबाद (तुर्कमेनिस्तान) समझौते के साथ - साथ अंतरराष्ट्रीय उत्तर - दक्षिण परिवहन गलियारा परियोजना में शामिल है। यह सम्पर्क सुविधा के विकास की परियोजनाओं में भारत की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। ओबीओआर के संदर्भ मोदी ने कहा , '' भारत ऐसी परियोजना का स्वागत करता है जो समावेशी , मजबूत और पारदर्शी हो और जो सदस्य देशों की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करती हो। ’’ उल्लेखनीय है कि भारत ओबीओआर का लगातार कड़ा विरोध करता रहा है क्योंकि यह पाकिस्तान के कब्जे वाले विवादित कश्मीर से होकर गुजरती है। भारत को छोड़कर एससीओ के सभी देशों ने चीन की इस योजना का समर्थन किया है।

मोदी ने कहा कि संपर्क का मतलब सिर्फ भौगोलिक जुड़ाव से नहीं है बल्कि लोगों का लोगों से जुड़ाव भी होना चाहिए। भारत खुले द्बार की नीति का स्वागत करता है।  उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय उत्तर - दक्षिण परिवहन गलियारा 7,200 किलोमीटर लंबी कई देशों से होकर गुजरने वाली परियोजना है। यह परियोजना भारत , ईरान , अफगानिस्तान , आर्मेनिया , अजरबेजान , रूस , मध्य एशिया और यूरोप को एक मालवहन गलियारे के रुप में जोड़ेगी। अशगाबाद समझौता कई खाड़ी और मध्य एशियाई देशों के बीच परिवहन सुविधाओं के विस्तार और निवेश का समझौता है। मोदी ने कहा , '' हम एक बार फिर उस पड़ाव पर पहुंच गए है जहां भौतिक और डिजिटल संपर्क भूगोल की परिभाषा बदल रहा है। इसलिए हमारे पड़ोसियों और एससीओ क्षेत्र में संपर्क हमारी प्राथमिकता है। ’’

उन्होंने कहा कि भारत एससीओ के लिए हर तरह का सहयोग देना पसंद करेगा , क्योंकि यह समूह भारत को संसाधनों से परिपूर्ण मध्य एशियाई देशों से दोस्ती बढ़ाने का अवसर प्रदान करता है। पाकिस्तानी राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने यहां अपने संबोधन में ओबीओआर का खुल कर समर्थन किया। साथ ही कहा कि चीन - पाकिस्तान आर्थिक गलियारा पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को मजबूती देगा। भारत और पाकिस्तान के इस संगठन का पूर्ण सदस्य बनने के बाद यह पहला मौका है जब भारतीय प्रधानमंत्री इस शिखर सम्मेलन में भाग लेने आए हैं। इस संगठन में चीन और रूस का दबदबा है। मोदी ने कहा कि इस शिखर सम्मेलन का जो भी सफल निष्कर्ष होगा , भारत उसके लिए अपना पूर्ण सहयोग देने के लिए प्रतिबद्ध है।

सम्मेलन के दौरान अपने संबोधन में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिग ने संयुक्त परियोजनाओं के लिए एससीओ को 3० अरब युआन यानी 4.7 अरब डॉलर का ऋण देने की भी घोषणा की। एससीओ में अभी आठ सदस्य देश है जो दुनिया की करीब 42% आबादी और वैश्विक जीडीपी के 20% का प्रतिनिधित्व करता है। मोदी के अलावा इस शिखर सम्मेलन में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिग , रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन , ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी और पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन भी शामिल हुए हैं। वर्ष 2001 में स्थापित इस संगठन के भारत के अलावा रूस , चीन , किर्गीज गणराज्य , कजाकिस्तान , ताजिकिस्तान , उज्बेकिस्तान और पाकिस्तान सदस्य हैं। 

अजय की यह अगली फिल्म 'बिग बजट' में होगी, धमाका फाइनल है!

Ajay Devgan will work in Tanaji

मुंबई। बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन के पास फिलहाल फिल्मों की लाइन लगी है। जल्‍द ही अजय फिल्म तानाजी में काम करते नजर आ सकते हैं। इस के अलावा अजय फिल्‍म टोटल धमाल में नजर आएंगे। और फिल्म तानाजी में काम करने वाले थे।

फस्र्ट लुक रिलीज के बाद फिल्म कहीं ठंडे बस्ते में चली गई थी। लेकिन अब कहा जा रहा है कि तानाजी पर पूरी तेजी के साथ काम चल रहा है। फिलहाल तानाजी की रिलीज डेट फिलहाल सामने नहीं आई है। उम्मीद जताई जा रही है कि अजय की यह फिल्म 2019 के दशहरा या दिवाली के मौके पर रिलीज की जाएगी।

बता दें, कुछ ही दिनों पहले तानाजी के डिब्बाबंद होने की खबरें भी आ रही थी। लेकिन खबरों की माने तो फिल्म के प्री- प्रोडक्शन पर काम चल रहा है। जबकि फिल्म की शूटिग सितंबर 2018 से शुरु हो सकती है। अजय देवगन की यह दमदार बॉयोपिक 150 करोड़ के भारी भरकम बजट पर तैयार होने वाली है। फिल्म के वीएफएक्स पर काफी खर्च किया जाने वाला है। अजय की अपनी वीएफएक्स कंपनी इस फिल्म पर काम कर रही है।

साथ ही फिल्म की कास्टिंग पर भी काम चल रही है। फिलहाल, फिल्म में सिर्फ अजय का नाम फाइनल है। जबकि बाकी कास्ट के नाम की घोषणा भा जल्द ही कर दी जाएगी। अगले महीने तक फिल्म के रिलीज डेट और कास्ट की ऑफिशियल घोषणा कर दी जाएगी।

धड़क की रिलीज से पहले अर्जुन कपूर ने जाह्नवी कही ये बात, कहां - मैं हमेशा...

Before the dhadak released Arjun Kapoor said this to Jahnavi

मुंबई। बॉलीवुड के जाने माने अभिनेता अर्जुन कपूर ने अपनी सौतेली बहन अभिनेत्री जाह्नवी कपूर को उसकी पहली बॉलीवुड फिल्म 'धड़क’ के ट्रेलर लॉन्च से पहले कहा कि वह अभिनेत्री जाह्नवी के साथ हमेशा इस नए सफर में मौजूद रहेंगे, इंस्टाग्राम पर अभिनेता ने फिल्मों की दुनिया में डेब्यू कर रही जाह्ववी के लिए दिल छु जाने वाला संदेश शेयर किया है। फिल्म ' धड़क’ में जाह्नवी के साथ अभिनेता ईशान खट्टर नजर आएंगे। इस पोस्ट में अर्जुन कपूर ने अपनी बहन को फिल्म इंडस्ट्री के बारे में सलाह दी है।

उन्होंने इंस्टाग्राम पर लिखा था, “धड़क के ट्रेलर रिलीज होने के बाद तुम हमेशा के लिए दर्शक वर्ग का हिस्सा हो जाओगी। सबसे पहले तो माफी कि मैं मुंबई में नहीं हूं लेकिन मैं तुम्हारे साथ हूं। मैं चाहता हूं कि तुम यह जानो कि अगर तुम कड़ी मेहनत करती हो और ईमानदार रहती हो तो यह पेशा बेहद मजेदार है। यह आसान नहीं होने जा रहा है लेकिन मैं जानता हूं कि तुम सारे पागलपन के लिए तैयार हो।” इस पर जाह्नवी ने जवाब दिया, “मैं वादा करती हूं कि आपको मुझ पर गर्व होगा।” बात दें इस फिल्म का निर्देशन शशांक खेतान ने किया है। इस फिल्म की कहानी मराठी फिल्म ' सैराट ’ पर आधारित है। धड़क सिनेमाघरों में 20 जुलाई को रिलीज होने जा रही है।

संजू सैमसन इंग्लैंड ए दौरे से हुए बाहर, जानिए क्यो

Sanju Samson out of England A tour

खेल डेस्क। युवा विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन की मुश्किले कम होती नजर नहीं आ रही है। अब संजू फिटनेस के लिए जरूरी टेस्ट में फैल हो गए हैं, जिसकी कीमत उन्हे इंग्लैंड दौरे से बाहर होकर चुकाई है। जानकारी के अनुसार युवा बल्लेबजा और विकेट कीपर संजू सैमसन को फिटनेस के लिए जरूरी यो-यो टेस्ट में फेल होने के बाद भारत ए टीम के इंग्लैंड दौरे से बाहर कर दिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केरल के खिलाड़ी सैमसन का यो यो टेस्ट में स्तर मानकों से कम पाया गया था। उनकी जगह वैकल्पिक खिलाड़ी के नाम की घोषणा नहीं हुई है लेकिन रविवार को लंदन के लिए रवाना हुई भारतीय ए टीम में सैमसन को नहीं ले जाया गया है। इससे पहले सैमसन को भारत ए दौरे के लिए टीम में शामिल किया गया था जो इंग्लैंड लायंस की मेजबानी में त्रिकोणीय सीरीका खेलने उतरेगी।

सीरीज की तीसरी टीम वेस्टइंडीज ए है। भारत ए का इंग्लैंड दौरा 22 जून से शुरू होगा। श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली भारत ए टीम अपने दौरे में इंग्लैंड ए के खिलाफ 16 से 19 जुलाई तक चार दिवसीय टेस्ट भी खेलेगी। इसके अलावा भारतीय टीम काउंटी टीम के साथ तीन दिवसीय मैच भी खेलेगी।

भारत ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ के पसंदीदा माने जाने वाले सैमसन का हालांकि इस वर्ष इंडियन प्रीमियर लीग में प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था। राजस्थान रायल्स के लिए उन्होंने तीन अर्धशतकों सहित 441 रन बनाए थे। अपने आईपीएल कॅरियर के 81 मैचों में सैमसन ने 26.67 के औसत से 1867 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं। विकेटकीपर बल्लेबाका ने साथ ही तीन स्टंपिंग और 39 कैच भी लिए है।

न्यूजीलैंड महिला टीम ने एक बार फिर रचा इतिहास, किया ये कारनामा

New Zealand women team beat Ireland by 306 runs

खेल डेस्क। न्यूजीलैंड की महिला क्रिकेट टीम ने एक बार और 400 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर करीब 300 रनों से अधिक के अंतर से जीत दर्ज की है। न्यूजीलैंड की महिला क्रिकेट टीम ने ये आंकड़ा आयरलैंड के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच रखा जहां पर उसने 306 रनों के अंतर से आयरलैंड को हराया।

न्यूजीलैंड की महिला टीम ने तीन मैचों की श्रृंखला के दूसरे मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 418 रनों का भारी भरकम स्कोर खड़ा किया। उधर इस पहाड़ जैसे स्कोर का पीछा करने उतरी आयरलैंड की महिला टीम 35 .3 ओवर में 112 रन पर बनाकर ऑलआउट हो गई। इसी के साथ न्यूजीलैंड ने यह मैच 306 रन से अपने नाम किया। उधर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड टीम की ओर से सलामी बल्लेबाज सोफी डेवाइन ने 61 गेंदों पर 108 रनों की शानदार पारी खेली।

सोफी ने अपना शतक मात्र 59 गेंद में पूरा किया। इसके अलावा न्यूजीलैंड की ओर से मैडी ग्रीन (50), एमी सैटरथ्वेट (48), बर्नाडाइन बेज़ूआइडेनहौट (43) एना पीटरसन (46) रनों का योगदान दिया। उधर आयरलैंड की ओर से लारा मोरिट्ज़ ने चार विकेट अपने नाम किए। तो वहीं एमी कैनिएली और कैरा मुरे को दो-दो विकेट मिले। उधर रेचल डेलाने और गैबी लुइस ने एक-एक विकेट अपने नाम किया। उधर 419 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी आयरलैंड की टीम शुरू से ही दबाब में दिखी।

आयरलैंड की कोई भी बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाई। कप्तान लारा डेलानी (33) 30 रन के आंकड़े को पार करने वाली एकमात्र बल्लेबाजी रहीं। उनके अलावा सेसेलिया जायस (26) और शाना कवानाग (18) ही दोहरे अंक में पहुंच सकी। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी न्यूजीलैंड ने पहले वनडे में भी चार विकेट पर 490 रन बनाए थे जो पुरुष और महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सर्वाधिक स्कोर है। न्यूजीलैंड की टीम ने इसके बाद 346 रन से जीत दर्ज की थी।

टाटा मोटर्स अपनी वित्तीय इकाई में हिस्सेदारी बेचने को तैयार

Tata Motors ready to sell stake in its financial entity

नई दिल्ली। टाटा मोटर्स अपनी वित्तपोषण इकाई टाटा मोटर्स फाइनेंस लिमिटेड की हिस्सेदारी बेचने को तैयार है पर वह कंपनी को अपने नियंत्रण में ही रखना चाहेगी । कंपनी के अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। ऐसा अनुमान है कि वर्ष 2020 तक इसके द्बारा प्रबंधित संपत्ति 50 हजार करोड़ रुपए को पार कर जाएंगी। हालांकि टाटा मोटर्स इस वित्तीय कंपनी पर अपना नियंत्रण बनाए रखना चाहेगी क्यों की यह भविष्य में उसकी वृद्धि में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।

टाटा मोटर्स ग्रुप के मुख्य वित्तीय अधिकारी पी. बी. बालाजी ने विश्लेषकों से कहा, '' निश्चित इस बारे में हम स्पष्ट हैं कि हम निवेश जारी रखेंगे। जहां तक टाटा मोटर्स फाइनेंस का सवाल है , हम इसपर अपना नियंत्रण बनाए रखेंगे। लेकिन नीयत यह नहीं है कि हम 00 प्रतिशत हिस्सेदारी अपने पास ही रखें। ’’

उन्होंने कहा कि कंपनी काफी मजबूत पुनर्सुधार की उम्मीद करती है। प्रबंधित संपत्ति के वित्त वर्ष 2016-17 के 22,517 करोड़ रुपए से 24 प्रतिशत बढ़कर 2017-18 में 27,932 करोड़ रुपए पर पहुंच जाने का अनुमान है। बालाजी ने कहा, '' संभवत: सबसे खुशी की बात है कि गैर - निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) 2016-17 के 18 प्रतिशत से कम होकर 2017-18 में चार प्रतिशत पर आ गई है। ’’

टाटा मोटर्स फाइनेंस लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सम्राट गुप्ता ने रणनीतिक लक्ष्यों को स्पष्ट करते हुए कहा कि कंपनी का लक्ष्य 2020 तक 50 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति प्रबंधित करने वाली कंपनी बनने का है। विस्तार योजना के तहत कंपनी का लक्ष्य शाखाओं की संख्या मौजूदा 270 से बढ़ाकर 2020 तक 500 पर पहुंचाने की है।

बालाजी ने कहा कि टाटा मोटर्स टाटा टेक्नोलॉजीज और टाटा हिताची के साथ ही टाटा स्टील जैसी अन्य कंपनियों में भी छोटी हिस्सेदारीयां बेच रही हैं। उन्होंने कहा, '' हम अपना स्पेन कारोबार (टाटा हिस्पानो) बंद कर रहे हैं। सिगापुर में टाटा प्रीसिजन को पहले ही बंद किया जा चुका है।’’ एजेंसी

40 अंक की बढ़त लेकर बंद हुआ Sensex

Sensex closes 40 points up

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त बनाता हुआ हरे निशान पर ही बंद हुआ। बढ़त के माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 39.80 अंक यानि 0.11 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,483.47 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 19.30 अंक यानि 0.18 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,786.95 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार में काराबोर की शुरुआत गिरावट के साथ हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये लाल निशान पर बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 59.53 अंक यानि 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,403.55 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 19.41 अंक यानि 0.055 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,443.67 के स्तर पर बंद हुआ। 

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 20.35 अंक यानि 0.19 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,748.00 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 0.70 अंक यानि 0.0065 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,767.65 के स्तर पर बंद हुआ। 

आपको बता दें कि सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बीते सप्ताह 60,207.86 करोड़ रुपए बढ़ गया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण सर्वाधिक बढ़ा। समीक्षावधि में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 34,378.16 करोड़ रुपए बढ़कर 6,23,070.31 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.