11 मार्च: बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 11 Mar 2018 04:30:35 PM
11 March top 10 news in hindi

राजस्थान में राज्यसभा की तीन सीटों के लिये कल भरे जायेंगें नामांकन

Nomination will be filled in Rajya Sabha for three seats in Rajasthan

जयपुर। राजस्थान की तीन राज्यसभा सीटों के लिये भारतीय जनता पार्टी की ओर से कल नामांकन भरे जायेगें। भारतीय जनता पार्टी की ओर से अभी तक अधिकृत उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की गयी है लेकिन आज ही पार्टी में शामिल हुये किरोडी लाल मीणा ने पार्टी मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि , वह कल पार्टी की ओर से राज्यसभा के लिये नामांकन भरेगें।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पार्टी उम्मीदवारों के बारे में पूछे गये सवाल पर कहा कि शीघ्र ही आपको पता चल जायगा अभी चर्चा चल रही है।  पार्टी की ओर से निवृतमान सांसद भूपेन्द्र यादव भी कल ही राज्यसभा के लिये अपना नामांकन भरेगें। उनका कहना है कि उन्होंने गत छह वर्षो में राजस्थान से जुड़े अनेक मुद्दों को राज्यसभा में उठाया है और आने वाले समय में भी प्रदेश के मुद्दों को पूरजोर तरीके से राज्यसभा में उठाया जायगा।

यादव इस समय भाजपा की राष्ट्रीय राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है और माना जाता है कि वह राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के कोर ग्रुप में शामिल है। उत्तर प्रदेश और गुजरात के विधानसभा चुनावों में महत्ती भूमिका निभाने वाले यादव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र बनारस के भी प्रभारी रहे हैं।  राजस्थान के तीन सांसद सर्वश्री अभिषेक मनु सिघवी ,नरेन्द्र बुढानिया (दोनों कांग्रेस) और भाजपा के भूपेन्द्र यादव अगले माह सेवानिवृत हो रहे है।

 

जीवन भर के लिए राष्ट्रपति बनें रह सकते हैं शी चिनफिंग

Chi Chinfing can remain president for a lifetime.

बीजिंग। चीन की संसद यदि राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के लिए महज दो कार्यकाल की अनिवार्यता को आज खत्म कर देती है तो देश के मौजूदा राष्ट्रपति शी चिनफिंग जीवन भर शीर्ष पद पर आसीन रह सकेंगे। चीनी संसद नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) के करीब 3,000 सांसद देश के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को महज दो कार्यकाल देने की अनिवार्यता खत्म करने के कानून पर मतदान करेंगे।

गौरतलब है कि सत्तारूढ़ चीनकी कम्युनिस्ट पार्टी के शीर्ष संगठन सात सदस्यीय स्थाई समिति ने इस संशोधन को आम सहमति से मंजूरी दे दी है। एनपीसी के अध्यक्ष झांग देजिआंग ने अपनी कार्य रिपोर्ट में कहा, ‘‘ एनपीसी की स्थाई समिति का प्रत्येक सदस्य संविधान में संशोधन की मंजूरी देता है और उसका समर्थन करता है।’’

एनपीसी को देश के अधिकार विहीन संसद के रूप में देखा जाता है जो हमेशा सीपीसी के सभी प्रस्तावों को मंजूरी दे देता है। इस संविधान संशोधन के भी संसद में बिना किसी रूकावट के ध्वनिमत से पारित होने की पूर्ण संभावना है। पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष माओ त्से तुंग के बाद पिछले दो दशक से पार्टी के नेता दो कार्यकाल की अनिवार्यता का पालन करते रहे हैं ताकि तानाशाही से बचा जा सके और एक दलीय राजनीति वाले देश में सामूहिक नेतृत्व सुनिश्चित किया जा सके।

संविधान संशोधन के बाद 64 वर्षीय शी के जीवन भर चीन का नेता बने रहने के मार्ग का अवरोध समाप्त हो जाएगा। फिलहाल शी का पांच साल का दूसरा कार्यकाल चल रहा है और मौजूदा प्रणाली के तहत वह शासन के 10 साल पूरे होने के बाद 2023 में सेवानिवृत्त होंगे। माओ के बाद शी को देश का सबसे मजबूत नेता माना जाने लगा है क्योंकि वह सीपीसी, सेना दोनों के प्रमुख तथा देश के राष्ट्रपति हैं।

 

वेदों से सीखे जलवायु परिवर्तन के खतरे से निपटने का रास्ता: मोदी

suggests turning to Vedas to combat climate change

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रों ने आज यहां अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन का औपचारिक उद्घाटन किया और विश्व को जलवायु परिवर्तन के खतरे से बचाने के लिए सौर क्रांति का आह्वान किया। मोदी ने राष्ट्रपति भवन के सभागार में 47 देशों के शीर्ष नेताओं की मौजूदगी में अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) का शुभारंभ किए जाने के बाद समारोह को संबोधित करते हुए विश्व में सौर तकनीक के अंतर को पाटने के लिए सौर तकनीक मिशन के शुभारंभ की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि भारत ही नहीं विश्व के अनेक देश सौर उर्जा में क्रांति चाहते हैं।

भारत सौर तकनीक की उपलब्धता के अंतर को भरने के लिए सौर तकनीक मिशन शुरू करेगा। भारत इस मिशन के माध्यम से शोध एवं विकास के कार्य को बढ़ावा देगा। मोदी ने कहा कि सौर उर्जा मानवीय उर्जा जरूरतों को किफायती एवं प्रभावी ढंग से पूरा करने में सक्षम है। नवंबर 2015 में पेरिस में जो बीज पड़े थे ,आज उनके अंकुर निकल आए हैं। विश्व की हर परंपरा ने सूर्य को महत्व दिया है। भारतीय परंपरा में वेदों में सूर्य को विश्व की आत्मा और जीवन का पोषक माना गया है। आज जब हम जलवायु परिवर्तन के खतरे से जूझ रहे हैं, ऐसे में हमें इस प्राचीन विचार से आगे का मार्ग ढूंढने की जरूरत है।

 

आजम का जयाप्रदा पर पलटवार कहा: 'मै नाचने-गाने वाली के मुंह नहीं लगता'Azam Counter on Jayaprada said: 'I dance to singing Do not mouth '

रामपुर। समाजवादी पार्टी के फायरब्रांड नेता मोहम्मद आजम खान ने अपने जमाने की मशहूर अदाकारा एवं पूर्व सांसद जया प्रदा पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कहा है, मै नाचने-गाने वाली के मुंह नहीं लगता हूं। आजम ने रविवार को एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान कहा कि पद्मावत बनी है। सुना है खिलजी का किरदार काफी बुरा है।

खिलजी के आने से पहले ही पद्मावती इस दुनिया से चली गई थी, लेकिन एक महिला, नाचने वाली ने मेरे बारे में टिप्पणी की है। उन्होंने कहा कि आप ही बताइए मैं नाचने गाने वाली के मुंह लगूंगा तो सियासत कैसे करुंगा। गौरतलब है कि जयाप्रदा ने संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत देखने के बाद कल टिप्पणी की थी कि खिलजी के किरदार ने मुझे आजम खान जी की याद दिला दी। उन्होंने कैसे चुनाव के दौरान मुझे परेशान किया था। आजम खान वही नेता हैं जो उस समय बॉलीवुड अभिनेत्री जया प्रदा को रामपुर लेकर आए थे।

जया प्रदा वर्ष 2004 और 2009 में रामपुर से लोकसभा सदस्य रह चुकी हैं। वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में आजम खान उनका विरोध कर रहे थे। उस समय जयाप्रदा ने आजम पर तमाम आरोप लगाए थे। यहां तक कहा था आजम ने उनके अश्लील चित्र बंटवाए हैं। जयाप्रदा की यह पीड़ा पद्मावत फिल्म देखने के दौरान उभरकर सामने आई।

उन्होंने ट्विटर पर इसे साझा किया और लिखा कि जब मैं पद्मावत फिल्म देख रही थी तो खिलजी के किरदार ने मुझे आजम खान की याद ताजा करा दी। जब मैं चुनाव लड़ रही थी तो उन्होंने उसी तरह मुझे परेशान किया था। वर्ष 2009 में जया प्रदा दूसरी बार रामपुर से लोकसभा चुनाव लड़ रहीं थी। तब आजम खां सपा से बाहर हो गए थे। हालांकि जयाप्रदा यह चुनाव जीत गईं थी लेकिन उन्होंने आजम खां से अपनी जान को खतरा बताया था।

 

सरकार ने साल भर मतदाताओं का नाम दर्ज करने की संभावना को लेकर चुनाव आयोग से पूछा

Government asked the Election Commission about the possibility of registering the names of voters throughout the year

नई दिल्ली। मतदाता के तौर पर खुद को पंजीकृत कराने का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए यह अच्छी खबर हो सकती है। केंद्र ने निर्वाचन आयोग से पूछा है किक्या नागरिक 18 साल उम्र होते ही साल में किसी भी वक्त मतदाता के तौर पर नाम दर्ज करा सकते हैं। फिलहाल कोई व्यक्ति18 साल का होने पर वर्ष के एक जनवरी को मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने योग्य हो जाता है। इसके बाद की जन्म तारीख वालों का नाम अगले साल मतदाता सूची में जुड़ता है। इसे ऐसे भी कहा जा सकता है कि एक जनवरी 2018 के बाद 18 साल उम्र पूरी करने वाला व्यक्ति उस साल चुनाव होने पर वोट नहीं डाल सकता।

चुनाव आयोग सत्तर के दशक से जोर देता रहा है कि18 साल उम्र पूरी करने वालों का नाम मतदाता के तौर पर दर्ज करने के लिए अलग- अलग कट ऑफ तारीख होनी चाहिए। चुनाव आयोग ने एक जनवरी, एक अप्रैल, एक जुलाई और एक अक्तूबर की कट- ऑफ तारीख का प्रस्ताव दिया था लेकिन विधि मंत्रालय ने2016 में कहा था कि एक जनवरी और एक जुलाई- दो कट- ऑफ तारीख ठीक रहेंगी।

चुनाव कानून में संशोधन के लिए एक विधेयक भी तैयार किया गया। वरिष्ठ सरकारी और चुनाव आयोग के पदाधिकारियों का कहना है कि हालांकि केंद्र ने अब यह परखने का फैसला किया है कि 18 साल उम्र होते ही क्या व्यक्ति को स्वत: ही साल भर मतदाता के तौर पर जोड़ा जा सकता है। इसके लिए चुनाव आयोग को सॉफ्टवेयर को फिर से इसके अनुरूप बनाने और व्यवहारिक दिक्कतों को दूर करने को कहा गया।

वरिष्ठ सरकारी पदाधिकारी ने कहा, '' निर्वाचन आयोग के पास विशेषज्ञ हैं। साथ ही वे मतदाता को पंजीकृत कर सकते हैं। इसलिए उनको गौर करना होगा कि क्या प्रस्ताव को लागू किया जाना संभव है।’’ देश में18-19 साल के उम्र समूह में औसतन एक करोड़ से ज्यादा नये मतदाता हर साल पंजीकृत होते हैं । 

 

अगले चुनाव के लिए ट्रंप का नया नारा : 'अमेरिका को महान बनाए रखना है’

Trump new slogan for the next election: 'America has to maintain great'

मून टाउनशिप( अमेरिका)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 'अमेरिका को महान बनाए रखें’ के नए नारे से 2020 के आगामी चुनाव अभियान की आहट अभी से सुनायी देने लगी है। अपने राजनीतिक भविष्य का अभियान शुरू करने के पहले पिट्सबर्ग के उपनगर में रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने अमेरिकी कांग्रेस के आगामी विशेष चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार का समर्थन किया और अपने समर्थकों के सामने यह नया नारा दिया।

ट्रंप ने कहा कि जब हम शुरूआत कर रहे हैं, क्या आप विश्वास करेंगे, अब से दो साल में हमारा नया नारा होगा- अमेरिका को महान बनाए रखना है। वर्ष 2016 के चुनाव अभियान में ट्रंप का नारा ''अमेरिका को फिर से महान बनाना है’’ छाया हुआ था। रैली के दौरान उनके कई समर्थक हैट लगाए हुए थे जिसपर नारा लिखा हुआ था।

 

बैंक शाखाओं में कम आधार नामांकन को लेकर UIDAI ने जताई चिंता

UIDAI has expressed concern about low base enrollment in bank branches

नई दिल्ली। आधार संख्या जारी करने वाले भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण( यूआईडीएआई) ने बैंक शाखाओं में आधार नामांकन और अद्यतन में कमी को लेकर चिंता जताई है। आधार नामांकन के लिए अधिकृत 7,000 से अधिक बैंक शाखाओं में से 2,500 में नामांकन कम होने पर प्राधिकरण ने स्थिति में सुधार के लिए बैंकों को तुरंत कदम उठाने को कहा है।

प्राधिकरण का मानना है कि इन शाखाओं में प्रतिदिन कम से कम 16 नामांकन और अपडेशन से जुड़ी गतिविधियां होनी चाहिए। इसके अतिरिक्त उन्हें सभी ग्राहकों को आधार नामांकन और अद्यतन की सेवा प्रदान करनी चाहिए, चाहे वो उस शाखा का ग्राहकहै अथवा नहीं ।
यूआईडीएआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडे ने हाल ही में कहा, ’’ एक शाखा में एक दिन में कुल 40 से 50 नामांकन याआधार अद्यतन संबंधी कार्य किए जा सकते हैं।

यह संख्या कुछ ज्यादा या कम हो सकती है लेकिन एक शाखा में कम से कम 16 नामांकन या अद्यतन कार्य के साथ इसकी शुरुआत की जा सकती है।’’उन्होंने कहा कि एक दिन में 16 से कम नामांकन होने का मतलब है कि लोग आधार संबंधी गतिविधियों के लिए ऐसी शाखाओं तक नहीं पहुंच रहे हैं। इस स्थिति में बैंकों को अधिक प्रयास करने चाहिए और आधार सुविधा को लेकर जागरुकता पैदा करनी चाहिए। निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की 7,000 से अधिक शाखाओं ने अपने परिसर में आधार नामांकन और अद्यतन केंद्र खोले हैं।

 

रेस 3 में कैमियो करेंगी सोनाक्षी

Sonoakshi will do a cameo in Race 3

मुंबई। बॉलीवुड की दबंग गर्ल सोनाक्षी सिन्हा फिल्म रेस 3 में कैमियो करती नजर आ सकती हैं। सलमान खान और सोनाक्षी की जोड़ी को दर्शक बेहद पसंद करते रहे हैं। सोनाक्षी की पिछली फिल्म 'वेलकम टू न्यूयॉर्क’ में सलमान खान ने कैमियो किया था। यह जोड़ी 'रेस 3’ में एकसाथ नजर आ सकती है। चर्चा है कि सोनाक्षी से 'रेस 3’ में कैमियो के लिए बातचीत चल रही है। बताया जा रहा है कि फिल्म के मिडिल ईस्ट में शुरू होने वाले दूसरे शेड्यूल में सोनाक्षी 'रेस 3’ की यूनिट को जॉइन करेंगी और सलमान के साथ अपने पार्ट को शूट करेंगी। सोनाक्षी के हिस्से का शूट अगले महीने तक होगा। वहीं, यदि 'दबंग 3’ की बात करें तो इसका निर्देशन प्रभुदेवा करेंगे और इसमें सलमान एवं सोनाक्षी लीड रोल में नजर आएंगे।  

 

मेरी अगली फिल्म यात्रा पर आधारित नहीं होगी : इम्तियाज अली

Will not be based on my next film journey: Imtiaz Ali

मुंबई। इम्तियाज अली की फिल्मों के चरित्र में यात्रा के माध्यम से जीवन के अनुभवों को मुख्यत: दर्शाया जाता है लेकिन निर्देशक का कहना है कि उनकी अगली फिल्म यात्रा पर आधारित नहीं होगी, जो उनके लिए बदलाव होगा। उनकी पहली फिल्म‘‘ सोचा ना था’’ में वीरेन और अदिति गोवा की यात्रा करते हैं और प्यार में पड़ जाते हैं जबकि उनकी हालिया फिल्म हैरी एंड सेजल यूरोप में एक अंगूठी को खोजते हुए महसूस करते हैं कि वे एक- दूजे के लिए बने हैं।

इम्तियाज की फिल्मों में यात्रा महत्वपूर्ण कारक होता है। उनकी अगली फिल्म में‘‘ जब वी मेट’’ के अभिनेता शाहिद कपूर भी होंगे लेकिन निर्देशक ने इसके बारे में विस्तार से नहीं बताया। इम्तियाज ने कहा, ‘‘ यह फिल्म मानव कहानी है। यह एक स्थान की है। मैं आपको एक बात बताऊं, यह यात्रा पर आधारित फिल्म नहीं है, यह मेरे लिए अलग तरह की फिल्म है।’’

इम्तियाज ने कहा कि फिल्म के बारे में उन्होंने शाहिद से चर्चा की है, लेकिन कुछ भी आधिकारिक नहीं है। उनकी फिल्म‘‘ जब वी मेट’’ राजस्थान पर आधारित हो सकती थी लेकिन निर्देशक का कहना है कि इसको पंजाब में फिल्माया जाना स्वाभाविक था। हाल में संपन्न हुए फिक्की फ्रेम्स में इम्तियाज ने एक स्क्रिप्ट का जिक्र किया था जिसे उन्होंने दो देशों के बारे में लिखा था।

 

विदेश दौरों पर टेस्ट से पहले सीमित ओवरों की श्रृंखला खेलेगा भारत

India will play a limited overs series before the Tests on foreign tours

मुंबई। दक्षिण अफ्रीका दौरे से कड़े सबक सीखते हुए भारतीय टीम अब विदेश दौरों पर हालात के अनुकूल ढलने के लिये टेस्ट श्रृंखला से पहले सीमित ओवरों की श्रृंखलायें खेलेगी। भारतीय टीम की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में 1-2 से हार के बाद बीसीसीआई ने यह फैसला किया। बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी ने कहा कि जब टीम इस साल इंग्लैंड और आॅस्ट्रेलिया जायेगी तो पहले सीमित ओवरों की श्रृंखलायें खेली जायेगी। उन्होंने कहा कि टीम प्रबंधन से मिले फीडबैक के बाद हमने इस पर गंभीर विचार विमर्श किया। अब इंग्लैंड दौरे पर भारत पहले सीमित ओवरों की श्रृंखला खेलेगा और फिर टेस्ट मैच। अगली बार आस्ट्रेलिया में भी ऐसा ही होगा।

 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.