12 जूनः एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Jun 2018 04:29:17 PM
12 june latest top ten news

मानहानि मामला: राहुल गांधी के खिलाफ आरोप तय

Defamation case: fix charges against Rahul Gandhi

ठाणे। एक स्थानीय मजिस्ट्रेट अदालत ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता की ओर से दायर मानहानि मामले में आज आरोप तय कर दिए। कांग्रेस अध्यक्ष को अब मानहानि के मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। अदालत में कार्यवाही के दौरान राहुल गांधी ने इस मामले में इकबाल - ए - जुर्म नहीं किया है।

राहुल गांधी सुबह 11 बजकर पांच मिनट पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच भिवंडी में मजिस्ट्रेट की अदालत पहुंचे जहां लोगों ने उनके समर्थन में नारे लगाए। राहुल गांधी दीवानी न्यायाधीश ए आई शेख के समक्ष पेश हुए। इसके बाद न्यायाधीश ने उन पर लगाए गए आरोपों और शिकायतकर्ता राजेश कुंते के बयान को पढ़ कर सुनाया।

न्यायाधीश ने आरोप पढ़ा, ''आरोप के अनुसार आपने (गांधी) छह मार्च 2014 को भिवंडी में चुनाव के लिए आयोजित एक रैली में उस संगठन की छवि खराब की जिससे शिकायतकर्ता जुड़ा हुआ है।’’ उन्होंने कहा , ''आपका भाषण, जो चैनलों में टेलीकास्ट हुआ और समाचारपत्रों में प्रकाशित हुआ, उसने याचिकाकर्ता और उसके संगठान की छवि को खराब किया है और इस तरह आपने भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और 500 के तहत अपराध किया है।’’

इसके बाद न्यायाधीश ने उनसे पूछा , ''क्या आप आरोप स्वीकार करते हैं।’’ इसके जवाब में गांधी ने कहा , '' मै अपना जुर्म कबूल नहीं करता हूं।’’
इसके बाद अदालत ने कांग्रेस नेता के खिलाफ आरोप तय करने की कार्रवाई शुरू की। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 10 अगस्त की तारीख नियत की। गांधी दोपहर 12.15 बजे अदालत से चले गए।

कांग्रेस अध्यक्ष के वकील नारायण अय्यर और कुशल मोर ने कहा, '' अगली सुनवाई में अदालत इस संबंध में कोई आदेश पारित कर सकती है कि याचिकाकर्ता ने जो दस्तावेज अथवा गांधी के भाषण का जो वीडियो सौंपा है उसे साक्ष्य के तौर पर स्वीकार किया जा सकता है अथवा नहीं। ’’उन्होंने कहा कि अगली सुनवाई में गांधी के अदालत में पेश होने की जरूरत नहीं है।

इससे पहले, अदालत ने दो मई को गांधी को आदेश दिया था कि वह आज पेश होकर 2014 में आरएसएस कार्यकर्ता राजेश कुंते की ओर से दायर मानहानि मामले में अपना बयान दर्ज कराएं। गांधी ने एक चुनावी सभा में आरोप लगाया था कि महात्मा गांधी की हत्या के पीछे आरएसएस का हाथ है। इसके बाद कुंते ने उनके खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराया था। एजेंसी

RBI गवर्नर उर्जित पटेल संसदीय समिति के समक्ष पेश, नकदी संकट जैसे मुद्दों पर दिया जवाब

RBI governor Urjit Patel presented before parliamentary committee, answers on issues like cash crisis

नेशनल डेस्क। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल आज संसद की एक समिति के सामने पेश हुए जहां उन्हें बैंकों के वसूली में फंसे कर्ज के ऊंचे स्तर, बैंकों में धोखाधड़ी और नकदी संकट जैसे मुद्दों पर कुछ कड़े सवालों का सामना करना पड़ा। पटेल ने समिति सदस्यों को आश्वासन दिया हैं रिजर्व बैंक अपनी प्रणाली को और अधिक मजबूत बनाने के लिए कदम उठा रहा हैं। 

वित्त विषयक संसद की स्थायी समिति की बैठक में मौजूद एक सूत्र ने बताया कि उर्जित पटेल ने विश्वास व्यक्त किया हैं कि फंसे कर्ज यानी गैर-निष्पादित आस्तियों (एनपीए) के संकट से पार पा लिया जाएगा। कांग्रेसी नेता वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली इस समिति के कुछ सदस्यों ने पटेल से जानना चाहा कि एटीएम मशीनों में हाल में पैसे की कमी क्यों आ गयी थी। कुछ सदस्यों ने पूछा कि बैंकिग धोखाधड़ी से निपटने के लिए पर्याप्त कदम क्यों नहीं उठाऐ गए। 

उर्जित पटेल ने समिति से कहा कि बैंकिग व्यवस्था को चाकचौबंद बनाए जाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। हमें विश्वास है कि हम इस संकट से निकल जाएंगे। उर्जित पटेल ने समिति को बताया कि दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता कानून को लागू किए जाने के बाद एनपीए के मामले में हालात सुधरे हैं। बैठक में सदस्यों ने विभिन्न सरकारी बैंकों की खस्ता हालत, फंसे कर्ज और पंजाब नेशनल बैंक में करीब 13,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी को लेकर चिता व्यक्त की। 

बता दें कि समिति के सदस्य और तृणमूल कांग्रेस के नेता दिनेश त्रिवेदी ने सोमवार को कहा था नोटबंदी के बाद कितना पैसा प्रणाली में वापस आया आरबीआई ने अब तक इसकी जानकारी नहीं दी हैं और गवर्नर को इसके बारे में समिति को सूचित करना चाहिए और उन्हें उम्मीद हैं कि वह यह कल करेंगे। समिति की पिछली बैठक में उर्जित पटेल से ऋण पुनर्गठन कार्यक्रम के बारे में भी सवाल किए गए थे। 

भारत ने कहा ब्रिटेन वांछित अपराधियों के लिए पनाहगाह नहीं बने

India said Britain did not become a haven for wanted criminals

नयी दिल्ली। भारत ने आज कहा कि ब्रिटेन को अन्य देशों में वांछित अपराधियों के लिये सुरक्षित पनाहगाह नहीं समझा जाना चाहिए वहीं ब्रिटेन ने भगोड़े भारतीय जौहरी नीरव मोदी के अपने देश में होने की पुष्टि की ब्रिटेन के आतंकवाद रोधी विभाग के मंत्री बैरोन्स विलियम्स को भारत का यह स्पष्ट संदेश केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरेन रिजीजू ने यहां एक बैठक के दौरान दिया है।

गृह मंत्रालय ने बयान में कहा कि रिजीजू ने बैठक में भारत में वांछित नीरव मोदी, शराब व्यवसायी विजय माल्या जैसे भगोड़ों के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि ब्रिटेन को अन्य देश में वांछित अपराधियों के लिये सुरक्षित पनाहगाह नहीं समझा जाना चाहिए। गृह राज्यमंत्री ने विलिम्स से कहा कि भारत अदालतों का सम्मान करता है और वांछित लोगों को वापस लाने के लिये ब्रिटेन में कानूनी प्रक्रियाओं का पालन करेगा बयान के अनुसार जेलों की स्थिति के मुद्दे पर ब्रिटेन की आशंका दूर करते हुए रिजीजू ने कहा कि भारतीय जेलों में मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर पर्याप्त सुरक्षात्मक उपाय किये गये हैं।

उन्होंने कहा कि भारत में लोकतंत्र हैं और अंतरराष्ट्रीय कानून का पूर्ण रूप से पालन करता है। शीर्ष अधिकारियों के अनुसार ब्रिटिश प्रतिनिधिमंडल ने नीरव मोदी के अपने यहां होने की पुष्टि की नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक में 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी मामले में आरोपी है। बैठक से जुड़े एक अधिकारी ने कहा, ''ब्रिटेन के अधिकारियों ने नीरव मोदी के वहां मौजूद होने की सूचना दी है। विलियम्स ने रिजीजू के साथ यहां बैठक में नीरव मोदी, शराब कारोबारी विजय माल्या एवं अन्य के प्रत्यर्पण में तेजी लाने में भारत के प्रयास में पूर्ण सहयोग देने को लेकर आश्वस्त किया है।

नीरव मोदी फरार है और अबतक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) एवं अन्य एजेंसियों की जांच में पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हुआ है। करीब एक घंटे चली बैठक के बाद रिजीजू ने संवाददाताओं से कहा, '' ब्रिटेन के मंत्री बैरोन्स विलियम्स के साथ सार्थक बैठक हुई है। हमने आतंकवाद और चरमपंथ से निपटने के लिये भारत-ब्रिटेन के संयुक्त प्रयास पर चर्चा की है।

नीरव मोदी के खिलाफ ईडी, सीबीआई तथा आयकर विभाग ने अनुरोध पत्र 'यूके सेंट्रल आथोरिटी’ (यूकेसीए) को क्रमश: 19 मार्च, 14 अप्रैल तथा 15 अप्रैल को भेजे थे यूकेसीए ने अनुरोध पत्रों पर आगे की कार्रवाई के लिये इसे गंभीर धोखाधड़ी कार्यालय को भेजे ईडी नीरव मोदी तथा उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ पीएनबी के साथ कथित रूप से 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी की जांच कर रहा है। 

वार्ता से पहले ट्रंप ने आबे, दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से की चर्चा

Trump talks about Abe, South Korean President before talks

वाशिंगटन। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ ऐतिहासिक शिखर वार्ता से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जापानी प्रधानमंत्री शिजो आबे और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई - इन से फोन पर बात की थी। इस बता की जानकारी व्हाइट हाउस ने दी है। व्हाइट हाउस ने सिंगापुर वार्ता से पहले दो फोन कॉल्स का विवरण देते हुए कहा कि किम के साथ अपनी वार्ता से पूर्व ट्रंप दोनों देशों के नेताओं से परामर्श पर सहमत थे।

व्हाइट हाउस ने आज कहा , '' दोनों नेताओं (ट्रंप और आबे) ने उत्तर कोरिया के साथ वार्ता से पहले हालिया घटनाक्रम पर चर्चा की और बैठक के बाद भी परामर्श पर सहमति जताई। ’’ट्रंप ने मून से भी शिखर वार्ता से पहले के हालात पर चर्चा की। फोन कॉल के विवरण के मुताबिक , '' दोनों नेताओं ने सिंगापुर में किम के साथ ट्रंप की मुलाकात के बाद अपने करीबी संबंधों को जारी रखने और बेहतर समन्वय पर जोर दिया।’

बात दें ट्रंप और किम जोंग उन ने आज कामकाजी बातचीत करते हुए दोपहर का भोजन किया जिसमें उनके लिए पश्चिमी और एशियाई व्यंजन परोसे गए जिसमें कोरियन स्टफ्ड कुकुंबर और बीफ से लेकर हागेन दाज की आईसक्रीम शामिल थीं। सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप पर कापेला होटल में द्बिपक्षीय बैठक के बाद ट्रंप और किम अपने सहयोगियों के साथ लंच पर मिले। जानकारी के अनुसार दोनों नेता और उनके प्रतिनिधिमंडल एक लंबी सफ़ेद मेज पर एक - दूसरे के सामने बैठ गए। मेज को हरे और सफ़ेद फूलों से सजाया गया था।

भैय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

bhayyuji-maharaj-allegedly-shoots-himself in indore

मध्यप्रदेश। अध्यात्मिक गुरू भैय्यूजी महाराज द्वारा खुद को गोली मारकर आत्महत्या करने का मामाल सामने आया है। उनहोंने मंगलवार को कथित रूप से अपने आप को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। रिपोट्र्स के अनुसार आध्यात्मिक गुरु भैय्यूजी महाराज ने मंगलवार को खुद को सिर में गोली मारी थी।

इसके बाद उन्हे इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। रिपोट्र्स के अनुसार अभी तक इस कारण का पता नहीं चल पाया है कि आखिरकार उन्होंने आत्महत्या क्यों की। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार भय्यू महाराज ने मंगलवार दोपहर को अपने सिल्वर स्प्रिंग स्थित बंगले में खुद को गोली मार ली।

बताया जा रहा है कि वह पिछले कई दिनों से पारिवारिक विवाद की वजह से वह काफी परेशान थे। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार इस संबंध में पुलिस ने बताया है कि भैय्यू महाराज ने यहां खुद को गोली मार ली। इसके बाद उन्हे इंदौर के बॉम्बे हॉस्पिटल के लाया गया जहंा उन्होंने दम तोड़ दिया। भैय्यूजी महाराज का असली नाम उदय सिंह देशमुख था और वह अपने अनुयायियों में भय्यू महाराज के नाम से जाने जाते थे। वह अपने आध्यात्मिक एवं सामाजिक कार्यों के लिए महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में काफी लोकप्रिय थे।

उनके बहुत सारे समर्थक अस्पताल के बाहर जमा हो गए। अध्यात्म गुरू का आश्रम इंदौर शहर में स्थित है और उनके अनुयायियों में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सहित कई शीर्ष नेता, लता मंगेशकर सहित कई मशहूर हस्तियां शामिल थीं। उल्लेखनीय है कि भैय्यूजी महाराज ने अन्ना हजारे के नेतृत्व में इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आईएसी) जब अपने चरम पर था तब उन्होंने मध्यस्थ की भूमिका भी निभाई थी।

उल्लेखनीय है कि भैय्यूजी महाराज चर्चा में तब आए जब अन्ना हजारे के अनशन को खत्म करवाने के लिए तत्कालीन केंद्र सरकार ने अपना दूत बनाकर भेजा था। बाद में अन्ना ने उनके हाथ से जूस पीकर अनशन तोड़ा था। इसके अलावा पीएम बनने के पहले गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी सद्भावना उपवास पर बैठे थे। तब उपवास खुलवाने के लिए उन्होंने भय्यू महाराज आमंत्रित किया था। उल्लेखनीय है कि भैय्यूजी राजनीति में उनकी गहरी पैठ थी। हाल ही में शिवराज सरकार ने उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा भी दिया था। हालांकि उन्होंने मध्य प्रदेश सरकार के इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया था।

पहली बार इस किरदार में नजर आएंगे प्रभुदेवा, शूटिंग शुरू

Prabhudeva will play police officer

मुंबई। बॉलीवुड के जाने माने कोरियाग्राफर- फिल्ममेकर और अभिनेता प्रभुदेवा अपनी आने वाली फिल्म में पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाते नजर आयेंगे। प्रभुदेवा ने देवा ने बॉलीवुड की कई सुपरहिट फिल्‍मों में काम किया है। और वे जल्‍द ही एक और फिल्‍म में नजर आने वाले है। प्रभुदेवा ने अपनी अगली फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है। इस फिल्म का नाम अभी तक तय नहीं हुआ है।

प्रभुदेवा फिल्म में पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाते नजर आयेंगे। प्रभुदेवा ने ट्विटर पर फिल्म से जुड़ी स्टारकास्ट का फोटो शेयर करते हुए लिखा 'प्रभुदेवा इन खाकी'। इस फिल्म को ए सी मुगिल निर्देशित कर रहे हैं। इसके साथ ही प्रभुदेवा तमिल फिल्म 'चार्ली चैपलिन 2’ में अदा शर्मा के साथ नजर आएंगे। साथ ही वह 'यंग मंग संग', 'गुलेभकावली’ और 'खामोशी’ में भी दिखाई देंगे। प्रभुदेवा सलमान खान की सुपरहिट फ्रेंचाइजी 'दबंग’ के तीसरे भाग 'दबंग 3 ’को भी डायरेक्ट करेंगे।

बता दें सलमान की पिछली दोनों फिल्‍मों को को उनके भाई अरबाज़ ने डायरेक्ट किया था। लेकिन इस बार दबंग का निर्देशक बदल दिया गया है। फिल्‍म 'दबंग’ के तीसरे भाग प्रभुदेवा डायरेक्ट करेंगे। इस फिल्म की शूटिंग 14 सितंबर से शुरू होगी। बताया जा रहा है कि 'दबंग 3’ को अगले साल 15 अगस्त के मौके पर रिलीज़ किया जा सकता है। बात दें प्रभुदेवा ने साल 2009 में सलमान को फिल्म वांटेड में डायरेक्ट किया था।

पिता की बायोपिक में काम करना चाहते हैं वरुण धवन

Varun Dhawan wants to work in father's biopic

मुंबई। जैसे ऐसा लग रहा की आजकल बॉलीवुड में बायॉपिक का सीजन ही चल रहा है, बता दें जल्‍द ही बॉलीवुड ऐक्टर संजय दत्त की बायॉपिक 'संजू' रिलीज होने वाली है। फिल्‍म में रणबीर कपूर, परेश रावल, मनीषा कोइराला, अनुष्का शर्मा, दीया मिर्जा, सोनम कपूर, विक्की कौशल नजर आने वाले है। यह फिल्‍म 29 जून को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है।

बॉलीवुड में इन दिनों बायोपिक फिल्मों का चलन जोरों पर है। बॉलीवुड अभिनेता वरूण धवन अपने पिता डेविड धवन की बायोपिक में काम करना चाहते हैं। वरुण को बायॉपिक करने से डर लगता है, लेकिन कभी उन्हें ऐसा मौका मिला तो वह अपने पिता डेविड धवन की जिंदगी बड़े पर्दे पर जीना चाहेंगे।

वरुण धवन ने कहा, यदि मुझे किसी शख्स की बायॉग्रफी प्ले करने का मौका दिया गया तो मैं अपने पिता पर बनी फिल्म में काम करना चाहूंगा। मेरे ख्याल से उनकी जिंदगी के शुरुआती दौर से लेकर जब तक मेरा जन्म नहीं हुआ था, उस समय को बड़े पर्दे पर लाना यादगार रहेगा। जब कभी भी मुझे कोई बायॉपिक ऑफर होती है तो मैं डर जाता हूं। आमतौर पर मैं इन्हें करने से बचता हूं, क्योंकि अपनी फिल्मों में निभाए हर काल्पनिक किरदार को भी मैं बायॉपिक किरदारों की तरह हमेशा जीता हूं।' वरूण इन दिनों 'कलंक', 'रणभूमि’ जैसी बड़े बजट की फिल्मों के अलावा कैटरीना कैफ के साथ एक अनाम फिल्म में काम कर रहे हैं।

महिला एशिया कप टी-20 टूर्नामेंट के फाइनल में भारत को हराने के बाद बीसीबी बांग्लादेशी टीम को देगा ये पुरस्कार

bangladesh-cricket-board-announced-cash-reward  to Bangladesh Women's Team

खेल डेस्क। महिला एशिया कप टी 20 टूर्नामेंट के फाइनल में में बांग्लादेश को भारत को हराकर जो उलटफेर किया है इसके लिए बीसीबी ने टीम को पुरस्कार देने की घोषणा की है। मीडिया रिपोट्र्स  के अनुसार बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) अपनी महिला क्रिकेट टीम को यह पुरस्कार नकद रुप से देगा। बांग्लादेश की महिला टीम ने कुआलालंपुर में रविवार को हुए फाइनल में छह बार के चैंपियन भारत को तीन विकेट से हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया।

इस टूर्नामेंट में बांग्लादेश की महिला टीम ने टूर्नामेंट के ग्रुप चरण में भारत को पहले भी हराकर वह भारत को हराने वाली पहली टीम बनी थी और उसके बाद भी बांग्लादेशी टीम ने उसे फाइनल में एक बार ओर हराकतर इस उपलब्धि को दोहराया। उधर फाइनल जीतकर बुधवार को अपने देश लौटी बांग्लोदशी टीम का जोरदार स्वागत किया गया।

इस दौरान बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने टीम केा दो करोड़ टका यानी करीब 236000 डॉलर का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की और वेतन की समीक्षा करने का भी वादा किया है। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के प्रवक्ता जलाल यूनिस ने बताया कि प्रत्येक खिलाड़ी को नकद पुरस्कार के रूप में 10 लाख टका यानी 14800 डॉलर मिलेंगे जबकि कोचिंग और प्रबंधन स्टाफ के बीच लगभग 75000 डॉलर बांटे जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि बांग्लादेश और भारत के बीच रविवार को खेले गए महिला एशिया कप टी 20 टूर्नामेंट के फाइनल में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मात्र 112 रन ही बना सकी थी। उधर भारत से मिली महज 113 रनों के मामूली से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश की टीम ने मैच की आखिरी गेंद पर इस लक्ष्य को हासिल कर भारत को 3 विकेट से हाराकर फाइनल ट्रॉफी को अपने नाम किया था। 

जोस बटलर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज को बताया अहम

Jos Buttler told the series against Australia

खेल डेस्क। इंग्लैंड टीम को स्कॉटलैंड के खिलाफ आखिर करीबी हार का सामना करना पड़ा लेकिन अब उनकी टीम का मुकाबला अनुभवहीन ऑस्ट्रेलिया की टीम से होना है इस मुकाबले से पहले इंग्लैंड के विस्फोटक बल्लेबाज जोस बटलर कहना है कि इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को  पहले रॉयल लंदन वनडे इंटरनेशनल कप में पुरानी यादो को नवीनीकृत करने के लिए तैयार है।लेकिन इस बल्लेबाज ने कई मैचों में अपनी टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। बटलर ने विश्व रैंकिंग में नंबर 1 टीम बनाने में कई बेहतरीन पारिया का नज़ारे का प्रदर्शन किया है। 

इस 27 वर्षीय बल्लेबाज ने कहा, "ऑस्ट्रेलियाई लोगों के साथ ऐसा सब कुछ है  एक अर्थ में वे वहां लेने के लिए हैं लेकिन वे घायल जानवरों का भी थोड़ा सा हिस्सा होंगे।"वे निश्चित रूप से एक नए कोच जस्टिन लैंगर और एक नए कप्तान टिम पेन की कप्तानी में है" ऑस्ट्रेलियाई इतिहास ने हमेशा अच्छे क्रिकेटरों का उत्पादन किया है, इसलिए यह वास्तव में एक कठिन श्रृंखला होगी।"लेकिन हमें विश्वास है - पिछले कुछ वर्षों में हम अपनी स्थितियों में वास्तव में अच्छी तरह से खेल रहे हैं। हम दुनिया में नंबर 1 पर हैं, जिससे हमें बड़ी मात्रा में आत्मविश्वास मिलता है"।

बटलर ने आगे कहा कि "हमें जारी रखने की जरूरत है कि हम क्या कर रहे हैं और हालांकि सुधार जारी रखना चाहेंगे। "मुझे लगता है कि सर्दियों की वजह से हमारे पास मनोवैज्ञानिक लाभ है यह निश्चित रूप से हमें विश्वास दिलाता है कि हम उन्हें हरा सकते हैं। हम पिछले कुछ सालों से कुछ अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं, इसलिए यह हमेशा एक अच्छा समय होता है जब हम टीम में वापस आते है और व्हाइट-बॉल क्रिकेट का उत्साह होता है"।"मैं एक अच्छी जगह में हूं, खेलने के लिए उत्साहित हूं और कुछ अच्छे गेम की प्रतीक्षा कर रहा हूं।"

209.05 अंक की बढ़त बनाकर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes by 209.05 points

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त बनाता हुआ हरे निशान पर ही बंद हुआ। बढ़त के माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 209.05 अंक यानि 0.59 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,692.52 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 55.90 अंक यानि 0.52 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,842.85 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल शेयर बाजार में काराबोर की शुरुआत बढ़त के साथ हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये हरे निशान पर बंद हुआ। काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 135.07 अंक यानि 0.38 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,578.74 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 39.80 अंक यानि 0.11 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,483.47 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 41.55 अंक यानि 0.39 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,809.20 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 19.30 अंक यानि 0.18 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,786.95 के स्तर पर बंद हुआ।

आपको बता दें कि सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बीते सप्ताह 60,207.86 करोड़ रुपए बढ़ गया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण सर्वाधिक बढ़ा। समीक्षावधि में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 34,378.16 करोड़ रुपए बढ़कर 6,23,070.31 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.