18 फरवरी : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Monday, 18 Feb 2019 05:06:36 PM
18 February top 10 news

पुलवामा हमले के बाद देश में मना रहे थे जश्न, पुलिस ने किया देश के गद्दारों को गिरफ्तार

Celebrating the country after the Pulwama attack, the police arrested the country's traitors

इंटरनेट डेस्क:  जम्मूकश्मीर में हुए सबसे बड़े आंतकी हमले के बाद जहां पूरे देश में गुस्से की लहर देखी गई तो वहीं देश के कई इलाकों में कुछ देश के गुद्दारों ने इसे जायज ठहरा दिया है पुलवामा में अब तक देश के 40 जवानों की शहादत हो गई इसे लेकर एक तरफ  पूरे देश में गम का माहौल है तो दूसरी तरफ  देश के जांबाजों के सर्वोच्च बलिदान को लेकर देशवासियों का सीना भी गर्व से चौड़ा है, क्योंकि पूरे देश को पहले की तरह आज भी यकीन है कि आतंकियों और उनके मददगारों की इस कायराना करतूत का हमारे जांबाज मुंहतोड़ जवाब जरूर देंगे ऐसे में शुक्रवार व शनिवार को देश के कई हिस्सों में आम लोगों ने सडक़ों पर उतरकर प्रदर्शन कर अपने इसी भरोसे को आवाज दी, तो  वहीं कुछ कई ऐसे भी हैं जिन्होंने सोशल मीडिया में पुलवामा हमले को जायज ठहरा दिया है, ऐसे लोगों के खिलाफ  देश के अलग.अलग हिस्सों में पुलिस द्वार रविवार को कार्रवाई की गई है

हिमाचल प्रदेश के बद्दी स्थित एक निजी विश्वविद्यालय में शिक्षा ग्रहण करने आए कश्मीरी युवक तहसीन गुल को पुलिस ने गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है पुलिस ने बताया की छात्र ने सोशल मीडिया पर देश विरोधी टिप्पणी की, जिसके बाद संस्थान में तनाव हो गया है ऐसे मेंं विश्वविद्यालय के डीन ने मामले में बद्दी पुलिस को इसकी शिकायत दर्ज कराईसाथ ही युवक को बर्खास्त कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया है इसी तरह  दिल्ली के जंतर मंतर पर एक प्रदर्शन के दौरान भी ऐसा ही मामला सामने आया है खबरों की माने तो कथित तौर पर भारत.विरोधी नारेबाजी करने को लेकर लोगों ने एक कश्मीरी युवकी की पटाई कर दी, उसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया युवक की पहचान आबिद हुसैन के रूप में की गई है जो कश्मीर का रहना वाला है

पुलवामा हमले के बाद पुलिस ने देश के अलग अलग हिस्सों में कार्रवाई की है, फेसबुक पर राष्ट्रविरोधी टिप्पणी को लेकर की गई गलतबयानी को लेकर देहरादून के दो निजी कॉलेजों ने अपने दो छात्रों को सस्पेंड कर दिया है और जवाब तलब किया है पहले छात्र का नाम कैशर राशिद है, वह श्रीदेव सुमन सुभारती मेडिकल कॉलेज का छात्र है, वहीं, दूसरे छात्र का नाम राबिया अख्तर है जो कश्मीर के सोपोर का बताया जा रहा है राजस्थान से भी पुलिस ने कार्रवाई की है राजधानी जयपुर के ग्रामीण इलाके के चंदवाजी थाना क्षेत्र स्थित एक निजी विश्वविद्यालय के चार कश्मीरी छात्राओं द्वारा पुलवामा में आतंकी हमले के जश्न का संदेश सोशल मीडिया पर वायरल करने पर उनके खिलाफ पुलिस ने देशद्रोह का मामला दर्ज किया है इसी तरह पुलिस ने हरियाण और कर्नाटक में भी कार्रवाई की है 

भाजपा नागरिकता संशोधन विधेयक लाने के लिए प्रतिबद्ध: अमित शाह

BJP citizenship committed to bring amendment bill: Amit Shah

गुवाहाटी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने यहां इस बात पर जोर देकर कहा कि अगर केन्द्र में उनकी पार्टी फिर से सत्ता में आई तो एक बार फिर से नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) लाया जाएगा। शाह ने कहा, ‘‘नागरिकता संशोधन विधेयक लोगों के लिए भाजपा की प्रतिबद्धता है और पार्टी इसे 2019 में लोकसभा चुनावों में चुनाव घोषणा पत्र में शामिल करेगी।’’ भाजपा अध्यक्ष यहां असम में भाजपा कार्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आये थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने लोकसभा में विधेयक को पारित करा लिया है क्योंकि लोकसभा में उनके पास बहुमत है, लेकिन असम गण परिषद् (एजीपी) और ममता बनर्जी ने इसे राज्यसभा में पारित नहीं होने दिया। उन्होंने कहा ‘‘ विधेयक लोगों की पहचान को सुरक्षित रखने के लिए है। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि जब हम इस विधयेक को लाएंगे तो क्या वे खुश नहीं होंगे। हम इसे अपने चुनावी घोषणापत्र में शामिल करेंगे, यह हमारी पार्टी की प्रतिबद्धता है। हम आश्वासन देते है कि असम को अकेले अपने कंधो पर यह बोझ नहीं उठाना पड़ेगा। 

शाह ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कि भाजपा में आंतरिक लोकतंत्र है और यह अन्य विपक्षी पार्टियों में नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस को देखो, एक परिवार, नेहरु-गांधी परिवार ने देश में 55 वर्षों तक शासन किया। नेहरु-गांधी परिवार के सदस्य  जवाहरलाल नेहरु, श्रीमती इंदिरा गांधी, श्री संजय गांधी, राजीव गांधी और श्री राहुल गांधी हैं। जिस पार्टी में कोई आंतरिक लोकतंत्र नहीं है, तो वह पार्टी देश में कैसे लोकतंत्र को मजबूत कर सकती है।

इससे पहले शाह ने उत्तरी असम में पार्टी के एक युवा सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि असम को कश्मीर की तरह बनने नहीं दिया जायेगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा सीएबी के लिए प्रतिबद्ध है और जिन्होंने इस विधेयक का विरोध किया था उन्हें हाल ही में असम में पंचायत चुनावों में हार का समाना करना पड़ा था और भाजपा चुनाव में विजयी हुई थी। 

शाह ने वादा किया कि लोकसभा चुनाव में सत्ता में आने के बाद भाजपा उपधारा छह को लागू करेगी, जो असम के लोगों की सांस्कृतिक, सामाजिक, भाषाई पहचान और विरासत की रक्षा के लिए संवैधानिक, विधायी और प्रशासनिक सुरक्षा प्रदान करती है। भाजपा अध्यक्ष ने पुलवामा आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने देगी। 

कुलभूषण जाधव मामले में आईसीजे में आमने सामने होंगे भारत, पाक

India-Pak face off over Kulbhushan Jadhav case at ICJ amid Pulwama tension

द हेग। अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को एक पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्बारा मौत की सजा दिये जाने के मामले में चार दिवसीय सार्वजनिक सुनवाई सोमवार को शुरू होगी। इस दौरान भारत और पाकिस्तान आमने सामने होंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने नयी दिल्ली में पिछले सप्ताह कहा था कि भारत जाधव के अधिकारों की रक्षा के लिए हरसंभव प्रयास करेगा।

दरअसल, पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने सेवानिवृत्त नौसैन्य अधिकारी जाधव को अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी जिसे भारत ने आईसीजे में चुनौती दी है। भारत ने 48 साल के जाधव के खिलाफ पाकिस्तानी सैन्य अदालत के फैसले के खिलाफ मई 2017 में आईसीजे में अपील की थी।

भारत जाधव से राजनयिकों को मिलने की अनुमति नहीं देकर पाकिस्तान द्बारा राजनयिक संबंधों पर वियना संधि, 1963 के प्रावधानों के खुले उल्लंघन के लिए आठ मई 2017 को पहली बार आईसीजे की शरण में गया था। आईसीजे की 10 सदस्यीय पीठ ने 18 मई 2०17 को इस मामले में फैसला आने तक पाकिस्तान को जाधव को फांसी देने से रोक दिया था।

आईसीजे ने नीदरलैंड के द हेग स्थित 'पीस पैलेस’ में 18 से 21 फरवरी तक इस बहुचर्चित मामले में सार्वजनिक सुनवाई के लिए समयसीमा तय की है। भारत को 18 फरवरी को अपना पक्ष रखने का मौका मिलेगा जबकि पाकिस्तान 19 फरवरी को अपना पक्ष रखेगा। इसके बाद भारत 20 फरवरी को जवाब देगा जबकि इस्लामाबाद 21 फरवरी को अपनी अंतिम दलीलें देगा। आईसीजे का फैसला आगामी कुछ महीनों में आने की संभावना है।

ISIS में शामिल होने के लिए घर से भाग गई थी जिहादी दुल्हन, अब बेटे को दिया जन्म, तो फिर से लौटना चाहती है ब्रिटेन

Jihadi bride escaped from home to join ISIS

लंदन। सीरिया में इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) में शामिल होने के लिए 2015 में ब्रिटेन से भागी, बांग्लादेशी मूल की एक गर्भवती युवती ने सीरिया में बेटे को जन्म दिया लेकिन बच्चे की सुरक्षा के खातिर अब वह वहां से ब्रिटेन लौटना चाहती है। 2015 में वह 15 साल की, स्कूल छात्रा थी जब वह ब्रिटेन से भाग कर सीरिया में आईएसआईएस में शामिल होने चली गई थी। शमीमा बेगम अब 19 साल की हो गई है।

युद्ध की खबर देने वाले एक संवाददाता ने शरणार्थी शिविर में उसका पता लगाया था और देखा था कि वह गर्भवती है और अपने अजन्मे बच्चे की सुरक्षा के लिए युद्ध क्षेत्र से बाहर निकलने के लिए परेशान है। उसके परिवार ने रविवार को बताया कि उन्हें सूचना दी गई कि बच्चे ने जन्म ले लिया है। उनके परिवार के वकील ने बयान जारी कर बताया कि शमीमा बेगम ने शनिवार को बच्चे को जन्म दिया और मां-बच्चा दोनों ठीक हैं।

परिवार के वकील मोहम्मद तस्नीम अकुन्जी ने बीबीसी को बताया कि इससे पहले बेगम के दो बच्चों की मौत की वजह से उनका परिवार इस बच्चे की सेहत को लेकर “बहुत चिंतिंत” था और चाहता था कि दोनों ब्रिटेन लौट आएं। उन्होंने बताया कि बच्चे से कोई खतरा नहीं है और कानूनी रूप से शमीमा बेगम को ब्रिटिश नागरिक के तौर पर लौटने की इजाजत दी जानी चाहिए।

ब्रिटेन के संस्कृति मंत्री जेरेमी राइट ने मामले के संबंध में कहा कि उसका वापस आना ठीक होगा लेकिन अगर वह वापस आई तो उसे यह समझना होगा कि उसे अब तक किए गए अपनी कार्यों की जिम्मेदारी लेनी होगी। जिहादी दुल्हन उन महिलाओं को कहा जाता है जो इस्लामी चरमपंथियों से शादी करने का फैसला करती हैं ताकि उनसे पैदा हुए बच्चे इस लड़ाई को आगे ले जा सकें।

आतिफ असलम और राहत फतेह अली खान के गाने T-Series ने हटाए, यह है बडी वजह

Atif Aslam and Relief Fateh Ali Khan's songs removed by T-Series, this is the big reason

एंटरटेनमेंट डेस्क। टी—सीरीज ने अपने यूट्यूब चैनल से पाकिस्तानी कलाकारों की छुट्टी कर दी है। इसका आशय है कि T-Series के यूट्यूब चैनल से आतिफ असलम और राहत फतेह अली खान के गाने हटा लिए गए है। कुछ दिन पहले ही इन दोनों सिंगरों ने T-Series के साथ मिलकर काम किया था। गुरूवार को हुए आतंकी हमले के कारण इन दोनों कलाकरों के गाने हटा दिए है। 

आपको बता दें कि हाल ही में वैलेेंटाइन डे पर आतिफ असलम का 'बारिशें' रिलीज हुआ था। अब यह यूट्यूब पर नहीं दिख रहा है। यह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना की की धमकी के बाद हुआ है। एमएनएस ने सभी म्यूजिक कंपनियों से कहा था कि वह पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करना बंद दे। इस मामले में एमएनएव चित्रपट सेना के अध्यक्ष अमेय खोपकर ने कहा कि हमने T-Series, सोनी म्यूजिक, वनीस, टिप्स जैसी कं​पनियों से बात की कि वह पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम न करें। ये कंपनियां तुरंत ऐसा नहीं करके तो हम अपने अंदाज में कदम उठाएंगे। 

गौरतलब है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद शबाना आजमी और जावेद अख्तर ने पाकिस्तान में अपने शो को रद्द कर दिया। दरअसल, पुलवामा में हुए आतंकी हमला कश्मीर का सबसे बडा हमला है। इस हमले में 44 जवान शहीद हुए और कई घायल हुए। दरअसल, इससे पहले 2016 में उरी में हमला हुआ था। इसके बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों का विरोध हुआ था। उस समय फवाद खान और माहिरा खान को लेकर काफी तेज हंगामा हुआ था। ये दोनों सितारे फिल्म का प्रमोशन छोड अपने देश लौट गए थे। 

वेब सीरीज में काम करेंगी करिश्मा कपूर

Karishma Kapoor to work in the web series

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर वेब सीरीज में अपनी नयी पारी शुरू करने जा रही है। करिश्मा काफी लंबे अरसे से सिल्वर स्क्रीन से दूर है। करिश्मा एक्टिंग की नयी पारी शुरू करने जा रही हैं। करिश्मा वेब की दुनिया में कदम रखने जा रही हैं। करिश्मा एकता कपूर की ऑल्ट बालाजी की अगली वेब सीरीज में काम करने जा रही हैं। यह वेब सीरीज अमेरिकन टीवी सीरीज प्रेटी लिटिल लायर्स पर पर आधारित होगी। उस शो की कहानी पांच लड़कियों की थी लेकिन एकता की ये वेब सीरीज पांच मम्मियों की होगी। करिश्मा कपूर उन्हीं में से एक मां होंगी। एकता बाकी की कास्ट को लॉक करने के बाद इसकी घोषणा करेंगी।

करिश्मा ने अपने पति से तलाक लेने के बाद अपने दोनों बच्चों की परवरिश पर ज्यादा ध्यान दिया। आखिरी बार वह वर्ष 2012 में प्रदर्शित फिल्म डेंजरस इश्क में नजर आई थीं। करिश्मा से जब यह पूछा गया कि क्या वह आगे आने वाली दिनों में फिल्मों में काम करती दिखाई देंगी? इस सवाल के जवाब में करिश्मा ने कहा कि उन्हें पता नहीं है कि आगे वह कभी फिल्मों में काम करेंगी भी या नहीं। वह खुद को व्यस्त रखने के लिए इन दिनों ढेरों विज्ञापन करती हैं।

करिश्मा से जब पूछा गया कि एक्टिंग के शिखर से इंडस्ट्री से दूर चले जाना, कितना सही था? इस पर करिश्मा ने कहा हां, मेरे अनुसार बिल्कुल सही था। क्योंकि मैं एक्टिंग में कामयाबी पा चुकी थी, अपने बच्चों के साथ टाइम बिताना चाहती थी। जब लगेगा कि दोबारा इंडस्ट्री में आना है तो जरूर आऊंगी। अपनों के साथ समय बीते ये सबसे कीमती अनुभव होता है। आज भी मैं अपने बच्चों के लिए पूरी तरह समर्पित हूं। आज भी अपने परिवार को पहले और फिर अन्य कार्यों में व्यस्त रहती हूं।

पुलवामा हमले के बाद आईसीसी विश्व कप में होने वाले भारत-पाक मैच पर मंडराने लगे संकट के बादल!

After the Pulwama attack, the ICC World Cup is going to hit the India-Pakistan match cloud of crisis!

स्पोटर्स डेस्क। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हाल ही में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ के जवानों पर हमला किया था। इस हमले में 44 जवान शहीद हो गए और कई घायल हो गए। इसको लेकर देशभर में जबर्दस्त आक्रोश और गुस्सा देखा जा रहा है। इस हमले के बाद भारत सरकार ने कई अहम कदम उठाए है। तो वहीं अब 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले विश्व कप में भारतीय टीम की पाकिस्तान से ना खेलने की बात जोर पकडने लग गई है। तो वहीं यदि सूत्रों के अनुसार इस समय बीसीसीआई मौजूदा हालातों के अनुसार 16 जून को विश्व कप मुकबाबले में पाक ​टीम के साथ खेलने से मना कर सकती है। 

आपको बता दें कि पाकिस्तान से ना खेलने की यह बात शुरूआती क्रिकेट क्लब आफ इंडिया से शुरू हुई है। इसके सचिव सुरेश बाफना ने पुलवामा में हुए हमले के बाद कहा कि टीम इंडिया को आगामी विश्व कप में पाकिस्तान के साथ नहीं खेलना चाहिए। वहीं इससे पहले क्रिकेट क्लब आफ इंडिया ने इस हमले का विरोध जताते हुए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का पोस्टर ढक दिया है। इसके साथ ही मोहाली क्रिकेट स्टेडियम से भी पाकिस्तानी क्रिकेटरों के पोस्टर हटा लिए गए है। 

गौरतलब है कि आगामी विश्व कप शुरू होने में महज कुछ ही महीने का समय बाकी है। तो ऐसे में क्या भारत इस विश्व कप में पाकिस्तान के साथ खेलने से इनकार कर सकता है? लेकिन यह संभव है तो वहीं सीधे—सीधे पाकिस्तान के अंक मिल जाएंगे और इसका असर अंक तालिका के साथ भारतीय टीम की हार—जीत पर भी पडेगा। तो वहीं आईसीसी टीम इंडिया पर जुर्माना भी लगा सकती है। इतना ही नहीं टीम इंडिया पर बैन की तलवार लटक सकती है। लेकिन क्रिकेट में बीसीसीआई के दबदबे के कारण ऐसा नहीं हो सकता है। 

टीम इंडिया इस विश्व कप में 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलकर शुरूआत करेगी। टीम इंडिया साउथेम्पटन में साउथ अफ्रीका और अफगानिस्तान से, बर्मिंघम में इंग्लैंड और बांग्लादेश और मैनचेस्टर पाकिस्तान और विंडीज से दो—दो मैच खेलेगी। तो इनके अलावा टीम इंडिया ओवल में आस्ट्रेलिया, नॉटिंघम में न्यूजीलैंड और लीड्स में श्रीलंका से एक—एक मैच खेलेगी।

ICC Test Ranking: कोहली टॉप पर बरकरार, कुशल परेरा ने लगाई लंबी छलांग

ICC Test Ranking: Virat Kohli tops the list with a long leap

स्पोटर्स डेस्क। आईसीसी ने हाल ही में अपनी टेस्ट रैंकिंग जारी की है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी की टेस्ट बल्लेबाजी रैंकिंग में शीर्ष स्थान बरकरार रखा है। तो वहीं उनके साथी चेतेश्वर पुजारा ने तीसरा स्थान बरकरार रखा है। तो वहीं श्रीलंका के कुशल परेरा ने 58 पायदानों की लंबी छलांग लगाई है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली 922 रेंटिंग अंको के साथ पहले पायदान पर है। 

कोहली के बाद न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन 897 अंकों के साथ दूसरे नंबर है। इसके बाद टीम इंडिया के चेतेश्वर पुजारा 881 अंको के साथ तीसरे नंबर पर है। तो वहीं कोहली और पुजारा के अलावा कोई भी भारतीय बल्लेबाज टॉप टेन में शामिल नहीं है। 

आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डरबन टेस्ट में जीत के हीरो रहे श्रीलंका के कुशल परेरा ने 58 स्थानों की लंबी छलांग लगाई है। वे अपनी सर्वश्रेष्ठ 40वीं रैंकिंग पर आ गए है। कुशल परेरा ने डरबन टेस्ट में 51 और नाबाद 153 रन की शानदार पारी खेली। तो वहीं कुशल परेरा ने विश्व फर्नांडो के साथ आखिरी विकेट के लिए 78 रन की शानदार साझेदारी करके 83 साल का पुराना रिकॉर्ड को तोडा। 

गौरतलब है कि आईसीसी की टेस्ट गेंदबाजों की सूची में आस्ट्रेलिया के पैट कमिंस पहले पायदान पर है। कमिंस ने साउथ अफ्रीका के कैगिसो रबाडा को पीछे छोडा है। तो वहीं मैक्ग्राथ के बाद कमिंस पहले आस्ट्रेलिया के गेंदबाज है। जो कि नंबर वन पर पहुंचे है। कमिंस के बाद जेम्स एंडरसन दूसरे और कैगिसो रबाडा तीसरे नंबर पर है। तो वहीं यदि बात की जाए भारतीय गेंदबाजों की तो रविंद्र जडेजा 794 अंको के साथ पाचवे नंबर है। हालांकि जडेजा आलराउंडरों की सूची में तीसरे स्थान पर है। इस सूची में जैसन होल्डर पहले और शाकिब अल हसन दूसरे पायदान पर है।

जेटली बोले, देश को गिने-चुने, बड़े आकार के बैंकों की जरूरत 

Jaitley says, country needs to be counted, large-sized banks

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने सोमवार को कहा कि बैंक क्षेत्र में मितव्ययिता के साथ काम करने के लिए देश को गिने चुने लेकिन बड़े बैंकों की आवश्यकता है। भारतीय स्टेट बैंक के साथ उसके पांच सहयोगी बैंकों और भारतीय महिला बैंक के 2017 में विलय के बाद सरकार ने इस साल देना बैंक, विजया बैंक का बैंक आफ बड़ौदा में विलय को मंजूरी दी है।

आम बजट के बाद आरबीआई निदेशक मंडल के साथ होने वाली परंपरागत बैठक को संबोधित करते हुये जेटली ने कहा कि एसबीआई विलय का हमारे पास अनुभव है और अब इस क्षेत्र में दूसरा विलय हो रहा है। उन्होंने कहा कि जहां तक बैंक क्षेत्र की बात है, भारत को गिने-चुने बड़े बैंकों की जरूरत है जो हर मायने में मजबूत हो।

कर्ज की दर से लेकर बड़े पैमाने की मितव्ययिता के अनुकूलतम उपयोग तक में इसका लाभ उठाने में मदद मिलेगी। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने तीन बैंकों के विलय को मंजूरी दे दी । इससे देश में एसबीआई और आईसीआईसीआई बैंक के बाद तीसरा सबसे बड़ा बैंक सृजित होगा। इन तीनों बैंका का विलय एक अप्रैल 2019 से प्रभाव में आएगा। इस विलय के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या घटकर 18 रह जाएगी।

कारोबार की समाप्ति पर 311 अंक की भारी गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes with a huge 311 point fall at the end of business  

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सप्ताह के पहले दिन कारोबार की शुरूआत गिरावट के साथ लाल​ निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये लाल निशान पर ही बंद हुआ। गिरावट के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 310.51 अंक यानि 0.87 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,498.44 अंक के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर गिरावट हावी रही और ये 83.45 अंक यानि 0.78 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,640.95 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार गिरावट के साथ लाल निशान पर खुला और ​लाल निशान पर ही बंद हुआ। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 70.55 अंक यानि 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,805.67 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 67.27 अंक यानि 0.19 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,808.95 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 30.55 अंक यानि 0.28 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,715.50 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 21.65 अंक यानि 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,724.40 अंक के स्तर पर बंद हुआ।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.