18 मई : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Saturday, 18 May 2019 04:39:46 PM
18 May top 10 news

2563 वीं भगवान बुद्ध जयंती: आज का दिन बौद्ध धर्मावलंबियों के लिए सबसे पवित्र दिन  

Lord Buddha Jayanti

गया। बिहार में भगवान बुद्ध की पावन ज्ञान भूमि बोधगया में आज 2563 वीं बुद्ध जयंती मनाई गई। अखिल भारतीय बौद्ध भिक्षु संघ के सचिव भंते प्रज्ञादीप ने यहां बताया कि बुद्ध जयंती को लेकर बोधगया स्थित भगवान बुद्ध की 80 फीट की विशाल प्रतिमा के निकट से एक भव्य शोभायात्रा निकाली गई जो बोधगया के विभिन्न मार्गो से होते हुए विश्व धरोहर महाबोधि मंदिर तक पहुंची।

शोभायात्रा में शामिल श्रद्धालुओं ने मंदिर के गर्भ गृह में विशेष पूजा-अर्चना की और पवित्र बोधिवृक्ष के नीचे ध्यान लगाया। 
प्रज्ञादीप ने बताया कि इस शोभायात्रा में विश्व के कई देशों के धर्मगुरु, लामा और स्कूली बच्चें शामिल हुए। शोभायात्रा में नेपाल, श्रीलंका, जापान, भूटान और भारत समेत विश्व के कई देशों के बौद्ध धर्म गुरु एवं श्रद्धालु शामिल हुए।

उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में शामिल श्रद्धालु आज भगवान बुद्ध की 2563वी त्रिविध जयंती मना रहे हैं। सचिव ने बताया कि त्रिविध जयंती का मतलब है कि आज ही के दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था और आज ही के दिन उन्हें ज्ञान की प्राप्ति हुई एवं आज ही के दिन उनका महापरिनिर्वाण अर्थात मृत्यु हुई थी। ऐसा संयोग सिर्फ केवल महापुरुषों के साथ होता है।

प्रज्ञादीप ने बताया कि भगवान बुद्ध के जीवन काल पर आधारित कई घटनाओं को आज के दिन कार्यक्रम के माध्यम से दिखाया जाएगा। इसके साथ ही धर्म गुरुओं द्बारा साधना की जाएगी। उन्होंने कहा कि आज भी भगवान बुद्ध के उपदेश प्रासंगिक है। भगवान बुद्ध ने बोधगया में ज्ञान की प्राप्ति कर पूरी दुनिया को सत्य, अहिंसा, प्रेम, करुणा , मैत्री और भाईचारा का संदेश दिया था। उन्होंने कहा कि आज का दिन बौद्ध धर्मावलंबियों ने के लिए सबसे पवित्र दिन है।

सत्यार्थी बोले, प्रज्ञा ने गांधी की आत्मा की हत्या की, पार्टी से निकाले BJP

Satyarthi says, Pragya slays Gandhi's soul

नई दिल्ली। नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित बाल अधिकार कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाली साध्वी प्रज्ञा सिंह के बयान की आलोचना करते हुए शनिवार को कहा कि प्रज्ञा ने महात्मा गांधी की आत्मा की हत्या की है और भाजपा को उन्हें पार्टी से तत्काल बाहर निकलकर राजधर्म निभाना चाहिए।

सत्यार्थी ने ट्वीट किया, गोडसे ने गांधी के शरीर की हत्या की थी, परंतु प्रज्ञा जैसे लोग उनकी आत्मा की हत्या के साथ, अहिंसा,शांति, सहिष्णुता और भारत की आत्मा की हत्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गांधी हर सत्ता और राजनीति से ऊपर हैं। भाजपा नेतृत्व छोटे से फ़ायदे का मोह छोड़ कर उन्हें तत्काल पार्टी से निकाल कर राजधर्म निभाए।

गौरतलब है कि भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ने कुछ दिन पहले एक सवाल के जवाब में कहा था कि महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे और जो लोग उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे अपने गिरेबां में झांककर देखें। हालांकि उनके बयान से भाजपा ने पल्ला झाड़ लिया था और विवाद बढ़ता देख प्रज्ञा ठाकुर ने अपने बयान पर माफी मांग ली थी।

मोदी का पहाड़ी परिधान बना आकर्षण का केंद्र

Center of attraction of Modi's hill dress

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पारंपरिक पहाड़ी परिधान में विश्वप्रसिद्ध केदारनाथ धाम पहुंचे और उनका परिधान लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र रहा। उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र में 11755 फीट की उंचाई पर स्थित केदारनाथ में मोदी स्लेटी रंग का चोगा, पहाड़ी टोपी और कमर में केसरिया गमछे में नजर आये और हैलीपैड से केदारनाथ मंदिर तक का पैदल रास्ता उन्होंने पहाड़ी अंदाज में छड़ी लेकर तय किया। 

संभवत: पहली बार पहने ऐसे लिबास में वह पूरी तरह से आध्यात्मिक रंग में रंगे नजर आये । पिछले दो साल में चौथी बार भोले के धाम केदारनाथ पहुंचे मोदी ने भगवान शिव की पूजा अर्चना और रूद्राभिषेक करने के बाद मंदिर की परिक्रमा की और बर्फ से ढंके सफेद पर्वत की चोटियों को भी निहारा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने केदारनाथ में मौजूद श्रद्धालुओं और स्थानीय जनता का प्रसन्न भाव से हाथ हिलाकर अभिवादन भी किया। 

ट्रंप ने वाहन आयात शुल्क पर फैसला छह महीने के लिए टाला

Trump decides on import duty duty for six months

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वाहनों के आयात पर शुल्कों में भारी वृद्धि के फैसले को छह महीने के लिए टाल दिया है। ट्रंप के इस कदम का मकसद व्यापार में रियायतों को लेकर यूरोप और जापान को बातचीत की मेज पर लाने का दबाव बनाना है। इस फैसले से अस्थायी रूप से ट्रंप के कई मोर्चों पर चल रहे व्यापार युद्ध के बढ़ने की आशंका कुछ कम हुई है।

ट्रंप ने यह शुल्क लगाने की जो चेतावनी दी थी उससे वैश्विक स्तर पर आर्थिक गतिविधियों में काफी उथलपुथल आने की आशंका थी। हर साल सैकड़ों अरब डॉलर के वाहनों का विनिर्माण और निर्यात होता है। ट्रंप ने अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर को यूरोपीय संघ, जापान और किसी अन्य देश के साथ वार्ता के नतीजों के बारे में 180 दिन में सूचित करने को कहा है।

ट्रंप के इस कदम से अमेरिका द्बारा पिछले साल इस्पात और एल्युमीनियम पर लगाए गए शुल्कों को लेकर पहले से नाराज चल रहे यूरोपीय देशों का तनाव और बढ़ने लगा था। अब ट्रंप ने वाहन पर शुल्क वृद्धि के फैसले को छह महीने के लिए टाल दिया है। हालांकि, इस फैसले के बावजूद ट्रंप ने यूरोपीय संघ की व्यापार नीति पर हमला जारी रखते हुए कहा कि यूरोपीय संघ हमारे लिए खतरा हैं।

शिकागो में शर्मनाक घटना! पहले की गर्भवती किशोरी की हत्या, फिर गर्भ से निकाला बच्चा

America Chicago crime

शिकागो। अमेरिका के शिकागो में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। पुलिस ने तीन लोगों पर एक गर्भवती किशोरी की हत्या का आरोप लगाया है जिसकी मौत के बाद उसके गर्भ से उसका अजन्मा बच्चा निकाल लिया गया। पुलिस ने बताया कि मार्लेना ओचाओ लोपेज (19) को 23 अप्रैल को एक परिचित के घर इस वादे से बुलाया गया कि उसे बच्चे के काम आने वाला सामान मुफ्त में दिए जाएगा लेकिन वहां पहुंचने पर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई और उसके बच्चे को गर्भ से निकाल लिया गया।

क्लारिसा फिग्युरोआ (46) और उसकी बेटी डेसीरी (24) पर फर्स्ट डिग्री हत्या का आरोप लगाया गया है। फिग्युरोआ के प्रेमी पिओट्र बोबाक (40) पर पुलिस ने हत्या की बात छिपाने का आरोप लगाया है। शिकागो पुलिस प्रमुख एडी जॉनसन ने एक संवाददाता सम्मेलन में अपराध को जघन्य और बेहद व्यथित करने वाला बताया।

जॉनसन ने कहा कि मैं कल्पना भी नहीं कर सकता कि इस समय परिवार पर क्या बीत रही होगी। इस समय उनके घर में खुशियां मनाई जानी चाहिए थीं लेकिन इसके बजाय वे मां और संभवत: बच्चे के जाने का शोक मना रहे हैं। ओचाओ लोपेज को आखिरी बार जिस समय देखा गया उसके चार घंटे के भीतर फिग्युरोआ ने आपात सेवाओं को फोन करते हुए दावा किया कि उसने एक बच्चे को जन्म दिया है जो सांस नहीं ले रहा है।

नवजात को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने बच्चे की चिकित्सीय स्थिति के बारे में बताने से इनकार कर दिया। पुलिस ने बताया कि लापता लोपेज के मामले के अहम मोड़ तब आया जब उन्हें फिग्युरोआ के साथ सात मई को फ़ेसबुक पर उसकी बातचीत का पता चला।

पुलिस ने कथित रूप से मंगलवार की रात को फिग्युरोआ के घर की तलाशी लेने के दौरान कूड़े के डिब्बे में लोपेज का शव पाया जिसे वहां छुपा कर रखा गया था। डीएनए जांच में यह साबित हो गया कि बच्चा ओचाओ लोपेज का है जिसके बाद पुलिस ने तलाशी वारंट निकलवाया। 

नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म, एक आरोपी की हत्या

Gangrape with minor, assassination of an accused

अलवर। राजस्थान के अलवर जिले में फिर सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है वहीं इसमें एक आरोपी की पीट पीटकर हत्या कर दी गई। प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिले के हरसौरा थाना क्षेत्र में एक शादी समारोह में शामिल होने आई नाबालिग लड़की के साथ तीन युवकों के सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आने के बाद इसकी जानकारी मिलने पर लोगों ने आरोपियों का पीछा किया और एक आरोपी राहुल गुर्जर के पकड़ में आ जाने पर उसे पीट पीटकर हत्या कर दी गई।

इसके बाद शव को भूपसेड़ा गांव के जंगल मे पटक दिया गया। बुधवार दोपहर बाद पुलिस को मृतक का शव मिला। इसके बाद मृतक के परिजनों ने पीड़िता के परिजनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया वहीं नाबालिग के परिजनों ने शादी समारोह से नाबालिग का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला राहुल एवं उसके दो साथियों पर दर्ज कराया।

पुलिस ने मृतक का शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। सामूहिक दूष्कर्म मामले में पीड़तिा की मेडिकल जांच कराई गई और तथा न्यायालय में दंड संहिता की धारा 164 के तहत उसके बयान दर्ज कराए गए है। इस मामले में दो नाबालिग आरोपियों को निरुद्ध किया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। 

रोहित-कोहली के निशाने पर होगा गांगुली का 20 साल पुराना रिकॉर्ड

Ganguly 20-year-old record will be on Rohit-Kohli target

नई दिल्ली। रोहित शर्मा के नाम पर एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रिकार्ड तीन दोहरे शतक दर्ज हैं और यह सलामी बल्लेबाज 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप में लंबी पारियां खेलने की अपनी क्षमता का प्रदर्शन करके सौरव गांगुली के 20 साल पुराने भारतीय रिकार्ड को तोड़ने की कोशिश करेगा।

रोहित ही नहीं शीर्ष क्रम के अन्य दो बल्लेबाज कप्तान विराट कोहली और शिखर धवन भी बड़ी पारी खेलकर विश्व कप में एक पारी में सर्वोच्च स्कोर का भारतीय रिकार्ड अपने नाम पर करने के लिये कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। हर चार साल में होने वाले क्रिकेट महाकुंभ में  यूं तो दो दोहरे शतक लगे हैं लेकिन भारत की तरफ से सर्वोच्च स्कोर 183 रन है जो गांगुली ने 1999 में टांटन में श्रीलंका के खिलाफ बनाया था।

इसके बाद विश्व कप में केवल दो अवसरों पर भारतीय बल्लेबाजों ने 150 के स्कोर को पार किया। वीरेंद्र सहवाग के पास 2011 में बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में गांगुली का रिकार्ड तोड़ने का सुनहरा मौका था लेकिन वह कपिल देव की 1983 में खेली गई ऐतिहासिक नाबाद 175 रन की पारी की बराबरी करके पवेलियन लौट गए।

सचिन तेंदुलकर ने 2003 में नामीबिया के खिलाफ पीटरमैरिटजबर्ग में 152 रन बनाए थे। वनडे में पहला दोहरा शतक जड़ने वाले तेंदुलकर का यह विश्व कप में सर्वोच्च स्कोर भी है। इंग्लैंड की पिचों के बारे में कहा जा रहा है कि वह इस समय बल्लेबाजों के अधिक अनुकूल हैं और उन पर एक पारी में 500 का स्कोर भी बन सकता है।

ऐसे में भारतीय शीर्ष क्रम के किसी बल्लेबाज से बड़ी पारी की उम्मीद की जा रही है। इनमें रोहित प्रमुख हैं जो वनडे में अब तक रिकार्ड सात बार 150 या इससे अधिक का स्कोर बना चुके हैं और उनका उच्चतम स्कोर 264 रन है जो विश्व रिकार्ड है। रोहित का विश्व कप में उच्चतम स्कोर हालांकि 137 है जो उन्होंने चार साल पहले मेलबर्न में बांग्लादेश के खिलाफ बनाया था।

धवन ने भी मेलबर्न में ही 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 137 रन की पारी खेली थी जो उनका विश्व कप में सर्वोच्च स्कोर है। धवन ने लिस्ट ए में एक बार 248 रन बनाए थे लेकिन यह बायें हाथ का बल्लेबाज वनडे में अभी तक 150 रनसंख्या को नहीं छू पाया है। जहां तक कप्तान कोहली का सवाल है तो विश्व कप में उनके नाम पर दो शतक दर्ज हैं लेकिन उनका सर्वोच्च स्कोर 107 रन है जो उन्होंने 2015 में पाकिस्तान के खिलाफ एडिलेड में बनाया था।

कोहली ने वैसे वनडे में चार बार 150 से अधिक का स्कोर बनाया है और उनका उच्चतम स्कोर 183 रन है। भारतीय कप्तान विश्व कप में मददगार परिस्थितियों का फायदा उठाकर दोहरे शतक लगाने वलो बल्लेबाजों में अपना नाम लिखवाने की कोशिश करेंगे। भारत की वर्तमान टीम में से मध्यक्रम के बल्लेबाजों में केवल महेंद्र सिंह धोनी को ही विश्व कप में खेलने का अनुभव है। उन्होंने इस प्रतियोगिता में  तीन अर्धशतक लगाये हैं जिनमें उनका उच्चतम स्कोर नाबाद 91 है।

आलराउंडर रविंद्र जडेजा ने भी विश्व कप में आठ मैच खेले हैं लेकिन उनका सर्वोच्च स्कोर 23 है। विश्व कप में अब तक केवल दो बल्लेबाज दोहरे शतक लगा पाये हैं। इस प्रतियोगिता में सर्वोच्च व्यक्तिगत पारी का रिकार्ड न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल के नाम पर है जिन्होंने 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वेलिगटन में नाबाद 237 रन बनाये थे। इसी विश्व कप में वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल ने जिम्बाब्वे के खिलाफ कैनबरा में 215 रन की पारी खेली थी। 

सोना 300 रुपए लुढका, चांदी 25 रुपए फिसली

gold and Silver price news

नई दिल्ली। घरेलू बाजार में वैवाहिक जेवराती मांग कमजोर पड़ने से शनिवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में  सोना 300 रुपए लुढककर 33,000 के आंकड़े से नीचे 32,870 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सिक्का निर्माताओं के उठाव में आई कमी चांदी भी 25 रुपए की गिरावट में 37,600 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई।

लंदन एवं न्यूयॉर्क से मिली जानकारी के मुताबिक सोना हाजिर शुक्रवार को तेज गिरावट में 1,277.25 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। जून का अमेरिकी सोना वायदा भी गिरावट के साथ 1,277.40 डॉलर प्रति औंस पर रहा। बाजार विश्लेषकों ने बताया कि दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के दो सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंचने से सप्ताहांत पर पीली धातु की मांग कमजोर पड़ गयी।

इसके अलावा इस पर मुनाफावसूली का दबाव भी रहा। अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में चाँदी हाजिर भी गिरावट के साथ 14.55 डॉलर प्रति औंस के भाव बिकी।जेवराती माँग घटने से सोना स्टैंडर्ड 300 रुपए गिरकर 32,870 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतनी ही गिरावट के साथ 32,700 रुपए प्रति दस ग्राम के भाव बिका।

आठ ग्राम वाली गिन्नी 26,500 रुपए पर टिकी रही। सिक्का निर्माताओं की मांग कमजोर पड़ने से चाँदी हाजिर 25 रुपए लुढककर 37,600 रुपए प्रति किलोग्राम पर बिकी। चांदी वायदा 240 रुपए की गिरावट में 36,580 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई। सिक्का लिवाली और बिकवाली 1,000-1,000 रुपए कमजोर पड़कर क्रमश: 79 हजार और 80 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर टिके रहे।
दिल्ली सर्राफा बाजार में दोनों कीमती धातुओं के दाम (रुपए में) इस प्रकार रहे:-

सोना स्टैंडर्ड प्रति 10 ग्राम 32,870
सोना बिटुर प्रति 10 ग्राम 32,700
चाँदी हाजिर प्रति किलोग्राम 37,600
चांदी वायदा प्रति किलोग्राम 36,580
सिक्का लिवाली प्रति सैकड़ा 79,000
सिक्का बिकवाली प्रति सैकड़ा 80,000
गिन्नी प्रति आठ ग्राम 26,500

करीना के साथ जब वी मेट के एक सीन को यादगार मानते हैं शाहिद

A scene from Jab We Met with Kareena Shahid considers to be memorable

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता शाहिद कपूर, करीना कपूर के साथ फिल्म जब वी मेट के एक सीन को यादगार मानते हैं। शाहिद कपूर और करीना कपूर खान को एक समय पर बॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय कपल्स में  शुमार किया जाता था, हालांकि ब्रेकअप के बाद दोनों खुशनुमा मैरिज लाइफ बिता रहे हैं।

करीना और शाहिद के ब्रेकअप के बाद भी दोनों के बीच प्रोफेशनल रिलेशनशिप कायम रहा और दोनों ने अपने ब्रेकअप के बाद फिल्में साथ में की। इम्तियाज अली ने अपनी फिल्म जब वी मेट में दोनों को कास्ट किया था। शाहिद ने हाल ही में फिल्म कंपेनियन पर करीना के साथ जब वी मेट के एक सीन के बारे में बात की।

इस सीन में शाहिद त्रासदी से गुजर रही करीना को साथ आने के लिए कहते हैं और करीना इसका काफी विरोध करती हैं जिसके चलते शाहिद का चेहरा कई मिश्रित इमोशन्स से भर उठता है। शाहिद ने कहा कि मेरे हिसाब से ये एक ऐसा सीन है जिसे आज से 15 साल बाद भी देखा जाएगा तो इसे एक अच्छे सीन की कैटेगिरी में डाला जा सकता है।

ये कई लोगों के लिए एक यादगार सीन है। मुझे याद है कि ये मेरे लिए एक खराब दिन था। इस सीन को हमें शेड्यूल के अंत में शूट करना था। मैं इस इमोशन को फील ही नहीं कर पा रहा था। लोगों को ये सीन पसंद है लेकिन मैं इस सीन में इमोशन पर कंट्रोल की कोशिश कर रहा था। ये एक्टर्स के साथ होता है। ये काफी अंदरुनी स्तर पर एक्टर्स समझ सकते हैं।

मुझे याद है कि इम्तियाज ने मेरे साथ एक बार बात की थी। हम मनाली में थे और वो मुझे एक वॉक पर ले गए। मैं इस चीज को लेकर गर्वित महसूस करता था कि मैं हर चीज में तैयारी के साथ चलता हूं लेकिन उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रखा और कहा था, तुम्हें पता है शाहिद, तुम एक अच्छे एक्टर हो। लेकिन इस बारे में सोचना बंद करो. बस. ये मेरे पसंदीदा सीन्स में से है लेकिन मुझे इस सीन को पूरा करने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा था।

बाइचुंग भूटिया की बायोपिक में काम नहीं कर रहे हैं टाइगर श्रॉफ

Tiger Shroff not working in Baichung Bhutia's biopic

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्रॉफ का कहना है कि वह फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया की बायोपिक में काम नही कर रहे हैं। बॉलीवुड में चर्चा थी कि टाइगर ,बाइचुंग भूटिया की बायोपिक में काम करने जा रहे हैं। टाइगर ने अब खुद इन खबरों पर विराम लगा दिया है। टाइगर ने ऐसी अफवाहों का खंडन किया है।

टाइगर ने बताया कि उन्हें बाइचुंग भूटिया की बायोपिक के लिए अप्रोच नहीं गया गया। टाइगर ने खबरों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि, वे ऐसा कोई प्रोजेक्ट नहीं कर रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि वह किसकी बायोपिक करना चाहते हैं, टाइगर ने कहा कि वह अपने पिता जैकी श्रॉफ की बायोपिक पर काम करना चाहेंगे।

उन्होंने कहा कि वह अपने पिता जैकी श्रॉफ की किसी भी फिल्म की रीमेक में काम नहीं करना चाहते, क्योंकि उनकी तुलना में वे बहुत कम हैं। लेकिन अपने पिता के व्यक्तित्व को पर्दे पर जरूर निभाना चाहते हैं।जैकी श्रॉफ को उनके बेटे से बेहतर कौन समझ सकता है। टाइगर, ऋतिक रोशन के साथ यशराज फिल्म में काम कर रहे हैं।

टाइगर बॉलीवुड के दो सबसे बड़े बैनर के साथ काम करने को लेकर काफी उत्साहित हैं। इस पर टाइगर ने कहा कि मैं यशराज के लिए पहली बार काम करने को लेकर बहुत एक्साइटेड हूं। मैंने अभी धर्मा प्रोडक्शन्स के बैनर की फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 की और अब यशराज फिल्म्स दोनों ही बॉलीवुड के सबसे प्रतिष्ठित बैनर हैं। मैं इससे ज्यादा लकी नहीं हो सकता था।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.