21 अप्रैल : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 21 Apr 2019 04:15:59 PM
21 April top 10 news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

आतंकियों के मारे जाने पर कांग्रेस नेताओं की आंख में आते हैं आंसू : मोदी

Tears of Congress leaders come in eye when terrorists are killed: Modi

अररिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को वोटभक्त और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को देशभक्त बताया और कहा कि उनकी सरकार में सैनिकों ने उरी और पुलवामा हमले के बाद आतंकियों को उसके घर में घुसकर मारा जबकि दिल्ली के बाटला हाउस में जब आतंकवादी मारे गए तो कांग्रेस नेता खुश नहीं हुए बल्कि उनकी आंखों में आंसू आ गए थे।

भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां फॉरबिसगंज के हवाईअड्डा मैदान में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) प्रत्याशी प्रदीप सिंह के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 26/11 को मुंबई में जब आतंकियों ने हमला किया था, तो कांग्रेस और उसके साथियों की सरकार ने क्या किया था, यह किसी से छुपा ढंका नहीं है।

उन्होंने कहा कि उस वक्त देश के वीर जवानों ने पाकिस्तान में घुस कर बदला लेने की अनुमति मांगी थी, लेकिन कांग्रेस की अगुवाई वाली तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने मना कर दिया क्योंकि उसे वोटबैंक की राजनीति करनी थी।

मोदी ने कहा कि 26/11 के हमले में शामिल आतंकवादियों के बारे में सभी को पता था कि वे पाकिस्तानी हैं लेकिन, कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने कार्रवाई करने की बजाय हिंदुओं के साथ आतंकी शब्द चिपकाने के लिए साजिशों पर ध्यान लगाया। उन्होंने आरोप लगाया कि योजना बनाकर इस हमले की जांच की पूरी दिशा ही भटका दी गई। ऐसा इसलिए किया गया, क्योंकि कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों को केवल वोटबैंक की ही राजनीति करनी थी।

हार्दिक की सभा में हंगामा, विरोध, मारपीट, पांच हिरासत में

Hardik meeting rages

अहमदाबाद। कांग्रेस में शामिल हो चुके पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के पूर्व संयोजक हार्दिक पटेल को तमाचा मारे जाने की घटना के एक दिन बाद शनिवार शाम यहां पाटीदारों का गढ कहे जाने वाले निकोल क्षेत्र में एक चुनावी सभा में उनका जबरदस्त हुआ जिसके चलते उनके भाषण को जैसे तैसे समाप्त कर दिया गया। यह सभा अहमदाबाद पूर्व की लोकसभा प्रत्याशी तथा पास में हार्दिक की करीबी सहयोगी रह चुकी गीता पटेल के समर्थन में आयोजित की गई थी।

सभा में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सिद्धार्थ पटेल, विधानसभा में पार्टी के उपनेता शैलेश परमार और स्वयं गीता पटेल बोल चुकी थीं पर जैसे ही हार्दिक बोलने के लिए उठे तो उनके विरोध में नारेबाजी शुरू हो गयी। उनका संबोधन जैसे तैसे पूरा कर उन्हें पुलिस सुरक्षा के बीच वहां से बाहर निकाला गया। हार्दिक हाय-हाय और समाज का गद्दार हार्दिक जैसे नारे लगाने वाले इन लोगों में से कई ने हार्दिक के बाद पास के संयोजक बनाए गए अल्पेश कथिरिया के फोटो वाले कट आउट भी ले रखे थे।

उनका कहना था कि हार्दिक ने पाटीदार आरक्षण आंदोलन का फायदा उठा कर राजनीति चमकानी शुरू कर दी है। वह हेलीकॉप्टर में घूम रहे हैं जबकि अल्पेश जेल में हैं और आंदोलन के चलते मारे गए 14 पाटीदार युवकों के परिजन दुखी हैं। हार्दिक और कांग्रेस के समर्थक विरोध करने वालो से भिड़ गये और दोनो ने एक दूसरे पर कुर्सियां उछाली तथा आपस में मारपीट और हाथापायी भी की।

पुलिस ने बाद में कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया। सभा को हार्दिक के संबोधन को आनन फानन में पूरा करा कर दिया गया। हार्दिक ने इसे भाजपा का षडयंत्र बताया और कहा कि मोदी साहब (प्रधानमंत्री) के लोगों ने उनका विरोध किया है। भाजपा के लोग उन्हें डराना चाहते हैं पर उन्हें पता नहीं की वह लडने वाले व्यक्ति हैं। प्रत्याशी गीता पटेल ने भी इस घटना के लिए भाजपा पर आरोप लगाया।

उधर हार्दिक का साथ छोड भाजपा में गये वरूण पटेल ने कहा कि लोगों में हार्दिक के प्रति आक्रोश है। एक अन्य भाजपा नेता ए के पटेल ने बताया कि कांग्रेस यह सब स्वयं करा कर चुनाव से पहले लोगों की सहानुभूति लेने का प्रयास भी कर सकती है। पार्टी नेता धनसुख भंडेरी ने कहा पिछले विधानसभा चुनाव में जातिवाद फैलाने वाले हार्दिक और कांग्रेस इस बार अपनी हार सामने देख कर यह सब नाटक कर रहे हैं ताकि किसी तरह लोगों की सहानुभूति मिल सके। पर जनता होशियार है।

ज्ञातव्य है कि कल सुरेन्द्रनगर के वढवाण के बलदाणा गांव में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हार्दिक को तरूण गज्जर नाम के एक युवक ने भाषण देते समय मंच पर चढè कर तमाचा जड़ दिया था। हार्दिक और कांग्रेस ने इसके लिए भी भाजपा को जिम्मेदार ठहराया था। उससे एक दिन पहले मध्य गुजरात में एक चुनावी सभा के लिए उनका हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति देने से जमीन मालिक ने इंकार कर दिया था।

ज्ञातव्य है कि गत 12 मार्च को कांग्रेस में शामिल हुए हार्दिक ने स्वयं चुनाव लड़ने की इच्छा जतायी थी पर एक आपराधिक मामले में सजायाफ्ता होने के कारण वह ऐसा नहीं कर पाए। अब वह पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल हैं। पिछले दिनों अहमदाबाद के गोता में पास की एक सौजन्य सभा के दौरान भी हार्दिक का कथित अल्पेश समर्थकों ने इसी अंदाज में विरोध किया था।

इस बीच पुलिस उपायुक्त अक्षयराज मकवाणा ने बताया कि पांच लोगों को हिरासत में लिया गया है जो खुद को अल्पेश का समर्थक बता रहे हैं। उनका कहना है कि जेल में बंद अपने नेता की बात उठाने तथा उनके अपने खिलाफ दर्ज आंदालन संबंघी मामलों को उठाने के लिए वे सभा स्थल पर आये थे।

हार्दिक पर कोई हमला नहीं हुआ। इस मामले में विस्तृत पड़ताल किया जा रहा है। उधर, अल्पेश कथिरिया के पिता घनश्याम कथिरिया ने कहा कि उन्हें पता नहीं है कि इस घटना में कौन संलिप्त है पर हार्दिक और गीता पटेल को अल्पेश की जेल से जल्द से जल्द रिहाई के लिए कदम उठाना चाहिए।

श्रीलंका में चर्च और होटलों में धमाके, 100 लोगों की मौत, 450 घायल

blasts in sri lanka churches

कोलंबो। ईस्टर के अवसर पर श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में रविवार को 3 कैथोलिक चर्च और तीन पांच सितारा होटलों को निशाना बनाकर किए गए बम धमाकों में कम से कम 100 लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 450 लोग घायल हो गए।स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह धमाके श्रीलंका की राजधानी कोलंबो और अन्य शहरों में चर्चों और होटलों को निशाना बनाकर किए गए। श्रीलंका की स्थानीय समाचार वेबसाइट कोलंबो टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक सुबह साढे आठ बजे से नौ बजे के बीच कोलंबो में कोच्चिकडे के सेंट एंथनी चर्च, कटुवापिटिया के सेंट सेबेस्टियन चर्च और बटटीकालोआ के एक चर्च में सिलसिलेवार धमाके हुए।

इसके अलावा राजधानी कोलंबो के ही तीन पांच सितारा होटल शंगरी-ला, सिनामन ग्रैंड और किग्सबरी में भी धमाके हुए। घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इस बीच, भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, मैंने कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त के लगातार सम्पर्क बना रखा है। हम स्थिति पर बारीकी से नज़र रखे हुए हैं। धमाकों के मद्देनजर श्रीलंका में आपात बैठक बुलाई गयी है। इन धमाकों में कई विदेशी नागरिकों के भी मारे जाने और घायल होने की भी सूचना है। कोलंबो अस्पताल ने नौ विदेशी नागरिकों के मारे जाने की पुष्टि की है। 

सिलसिलेवार धमाकों के बाद शहर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। घटनास्थल पर राहत और बचाव कार्य जारी है। अब तक किसी भी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। श्रीलंका के वित्त मंत्री मंगला समरवीरा ने ट्वीट किया, चर्चों और होटलों में ईस्टर संडे बम धमाकों में निर्दोष लोग मारे गए हैं और ऐसा लगता है कि हत्या, अफरा तफरी और अराजकता फैलाने के लिए इसे बहुत व्यवस्थित तरीके से अंजाम दिया गया है। 

श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति और विपक्षी नेता महिदा राजपक्षे ने धमाकों की निदा करते हुए इसे अमानवीय करार दिया है। गौरतलब है कि ईसाई धर्म की मान्यताओं के अनुसार, गुड फ्राइडे के तीसरे दिन ईसा मसीह दोबारा जीवित हो गए थे, जिसे ईसाई धर्म के लोग ईस्टर संडे के नाम से मनाते हैं। 

चीनी विदेश मंत्री से बातचीत के लिए बीजिंग आएंगे विदेश सचिव गोखले

Foreign Secretary Gokhale will come to Beijing for talks with Chinese Foreign Minister

बीजिंग। विदेश सचिव विजय गोखले रविवार को चीन की दो दिवसीय यात्रा पर रवाना होंगे। इस दौरान वह चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ बातचीत करेंगे। जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के प्रयासों में चीनी अड़ंगे सहित विभिन्न मुद्दों की पृष्ठभूमि में गोखले की यह यात्रा हो रही है।

भारतीय दूतावास ने यहां शनिवार को कहा कि गोखले नियमित बातचीत के लिए चीन का दौरा करेंगे। उसने कहा कि गोखले 22 अप्रैल को चीन के स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी से मिलेंगे। गोखले के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जा रहा है। पिछले साल विदेश सचिव का पदभार संभालने से पहले गोखले चीन में भारत के राजदूत थे। उनकी यात्रा 14 फरवरी के पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और चीन के बीच संवाद के बीच हो रही है। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम दिया था।

इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस आत्मघाती हमले के बाद अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने पाकिस्तान स्थित अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक प्रस्ताव पेश किया था। लेकिन चीन ने चौथी बार प्रस्ताव पर तकनीकी रोक लगा दी। भारत ने इस कदम को निराशाजनक बताया था।

हर फिल्म को न्यूकमर की तरह करना चाहती हूं : आलिया भट्ट

Alia Bhatt wants to make every film like Newcomer

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट का कहना है कि वह हर फिल्म को न्यूकमर की तरह करना
चाहती है। साल 2012 में प्रदर्शित मूवी स्टूडेंट ऑफ द इयर से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत करने वाली आलिया की मूवी कलंक हाल ही में रिलीज हुई है। फिल्म को मिला-जुला रिस्पॉन्स मिल रहा है। आने वाले दिनों में आलिया कई बड़ी फिल्मों में काम कर रही हैं।

आलिया ने अपनी फिल्मों और करियर के बारे में बात की है। आलिया आने वाले दिनों में संजय भंसाली, आर राजामौली, करण जौहर और महेश भट्ट की फिल्मों में नजर आएंगी। आलिया का कहना है कि इस तरह वह अपनी विश लिस्ट पूरी कर रही हैं। आलिया से जब पूछा गया कि आने वाले दिनों में आप तमाम बड़े निर्माताओं की बड़ी-बड़ी फिल्मों में नजर आएंगी, तब आपको कैसा फील हो रहा है। आलिया ने जवाब में कहा कि फील तो पहले जैसा ही हो रहा है। मैं इस पर ज्यादा फोकस नहीं करूंगी कि ये बड़ी-बड़ी फिल्में हैं, क्योंकि मेरे लिए तो हरेक फिल्म और कहानी बड़ी होती है। हां, मैं इतना जरूर कहूंगी कि मैं आने वाले दिनों में उन निर्देशकों के साथ काम कर रही हूं, जिनके साथ मैं हमेशा से काम करना चाहती थी।

आलिया ने कहा कि संजय सर हों या राजामौली सर हों, बल्कि करण सर के साथ भी दोबारा काम करने का एक्सपीरियंस मजेदार रहने वाला है। इसके अलावा, मुझे कभी उम्मीद नहीं थी कि मेरे पापा महेश भट्ट दोबारा फिल्में निर्देशित करेंगे, लेकिन मेरी खुशकिस्मती है कि पापा सड़क 2 को डायरेक्ट करने वाले हैं, तो यह मेरे लिए सपना पूरा होने जैसा है।

इसलिए मैं यदि यह कहूं कि मैं इन डायरेक्टर्स के साथ काम करने को लेकर क्रेजी हूं, तो यह ज्यादा सही होगा। इन डायरेक्टर्स के साथ काम करके मैं अपनी विशलिस्ट को टिक कर रही हूं। बाकी छोटा मुंह बड़ी बात कहूं, तो मैं अपनी हर फिल्म में न्यूकमर की तरह जाना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि हरेक फिल्म की शुरुआत इस तरह करूं कि मैंने इससे पहले कोई फिल्म ही नहीं की है।

राजनीति के बारे में बात नहीं करना चाहते हैं सनी देओल

Sunny Deol does not want to talk about politics

मुंबई। बॉलीवुड के माचो मैन सनी देओल राजनीति के बारे में बात नहीं करना चाहते हैं। इन दिनों देश में  चुनाव का माहौल गर्म है। इस बार कई बॉलीवुड स्टार्स भी चुनावी बहसों में खुलकर अपनी राय रख रहे हैं, लेकिन कुछ ऐक्टर्स ऐसे भी हैं, जो राजनीति और उससे जुड़े मुद्दों पर चुप ही रहना पसंद करते हैं। इन्हीं में  से एक हैं, बॉलीवुड स्टार सनी देओल।

सनी के पिता धर्मेंद्र लोकसभा सांसद रह चुके हैं। धर्मेन्द्र पिछले दिनों मथुरा में अपनी पत्नी हेमा मालिनी के लिए चुनाव प्रचार में भी सक्रिय रहे थे। सनी देओल भी राजनीति में हाथ आजमाना चाहेंगे? क्या पॉलिटिक्स की ओर उनका भी रुझान है?यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि देखिए, क्या है, क्या होगा, यह बहुत पर्सनल चीज है। मैं इन चीजों के बारे में बात करना नहीं चाहता, क्योंकि इसका कोई मतलब नहीं है। लोग मुझे प्यार करते हैं क्योंकि मैं एक ऐक्टर हूं। लोग मुझे मेरे काम से प्यार करते हैं, वे मेरे काम को इंजॉय करते हैं, इसलिए मुझे प्यार करते हैं।

यदि जो मैं करता हूं, वह उन्हें पसंद नहीं आता, तो मैं उन्हें फोर्स नहीं कर सकता कि वे मुझे प्यार करें। सनी जल्द ही फिल्म ब्लैंक में नजर आने वाले हैं। आतंकवाद के मुद्दे को उठाती इस फिल्म से डिंपल कपाड़िया के भांजे करण कपाड़िया डेब्यू कर रहे हैं। सनी ने फिल्म में पुलिस अधिकारी की जबकि करण एक सुसाइड बॉम्बर की भूमिका में नजर आएंगे। फिल्म में इशिता दत्ता और करणवीर शर्मा के भी महत्वपूर्ण करिदार हैं। ब्लैंक 03 मई को रिलीज होगी।

दिल्ली ने कोटला में जीता मैच, पंजाब को हराया

Delhi won match in Kotla

नई दिल्ली। नेपाल के लेग स्पिनर (40 रन पर 3 विकेट) की शानदार गेंदबाजी और ओपनर शिखर धवन (56) तथा कप्तान श्रेयस अय्यर (नाबाद 58) बेहतरीन अर्धशतकों से दिल्ली कैपिटल्स ने फिरोजशाह कोटला मैदान में अपनी हार का क्रम तोड़ते हुए किंग्स इलेवन पंजाब को आईपीएल-12 मुकाबले में शनिवार को पांच विकेट से हरा दिया।

दिल्ली की 10 मैचों में यह छठी जीत है और 12 अंकों के साथ उसने प्लेऑफ के लिए अपना दावा मजबूत कर लिया है। पंजाब ने 20 ओवर में सात विकेट पर 163 रन बनाये जबकि दिल्ली ने 19वें ओवर में दो विकेट गंवाने के बावजूद 19.4 ओवर में पांच विकेट पर 166 रन बनाकर जीत अपने नाम की। पंजाब को 10 मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा और उसके खाते में 10 अंक हैं।

लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली ने 24 रन की शुरुआत की। लेकिन ओपनर पृथ्वी शॉ 11 गेंदों में 13 रन बनाने के बाद रन आउट हो गए। शिखर ने अपने कप्तान श्रेयस अय्यर के साथ दिल्ली की पारी को आगे बढ़ाया। पंजाब की गेंदबाजी में कोई डंक नहीं दिखाई दे रहा था। दिल्ली ने छह ओवर के पॉवरप्ले में 60 रन जोड़ दिए। शिखर ने पिछले मैच जैसी कोई गलती इस बार नहीं की और अपने 50 रन 36 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से पूरे कर लिए।

शिखर का इस आईपीएल में यह तीसरा और ओवरआल 35वां अर्धशतक था। दिल्ली ने अपने 100 रन 12वें ओवर में पूरे किए। 13वें ओवर में पंजाब के कप्तान और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने अपने गेंदबाजी रनअप पर शिखर को मांकेडिग करने की कोशिश की लेकिन शिखर का बल्ला क्रीज में था।अगली गेंद पर शिखर ने क्रीज से बाहर निकलने का नाटक किया।

अश्विन ने टूर्नामेंट में राजस्थान के जोस बटलर को मांकेडिग से आउट किया था। दर्शक इस प्रकरण का मजा ले ही रहे थे कि हार्डस विलजोएन ने शिखर को अश्विन के हाथों कैच करा दिया। अश्विन ने अपने पीछे दौड़ते हुए अच्छा कैच लपका। शिखर का विकेट 116 के स्कोर पर गिरा। शिखर ने 41 गेंदों पर 56 रन में सात चौके और एक छक्का लगाया।

शिखर और अय्यर ने दूसरे विकेट के लिए 64 गेंदों पर 92 रन की साझेदारी की। शिखर का विकेट गिरने के बाद मैदान पर उतरे ऋषभ पंत। अय्यर ने सैम करेन पर चौका लगाया और 15 ओवर की समाप्ति पर दिल्ली का स्कोर 128 रन पहुंच चुका था। पंत ने एक बार फिर बेहद खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया।

पंत ने विलजोएन पर उठाकर शॉट खेला और करेन ने आसान कैच लपक लिया। पंत ने सात गेंदों पर छह रन बनाये। पंत को इस समय ऐसा शॉट खेलने की कतई जरूरत नहीं थी। दिल्ली ने दो विकेट जल्दी-जल्दी गंवा दिए।

नडाल का अभियान जारी, जोकोविच बाहर

Nadal campaign continues, Djokovic out

पेरिस। 11 बार के विजेता स्पेन के राफेल नडाल ने यहां मोंटे कार्लो मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट में अपना विजय अभियान जारी रखते हुये सेमीफाइनल में जगह बना ली है, लेकिन विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच उलटफेर का शिकार होकर बाहर हो गये हैं।

नडाल ने पुरूष एकल क्वार्टरफाइनल मैच में गुएडो पेला के खिलाफ मैच में 7-6 (1), 6-3 से जीत अपने नाम की लेकिन शीर्ष वरीय जोकोविच को डानिल मेदवेदेव के खिलाफ 6-3, 4-6, 6-2 से शिकस्त झेलकर बाहर का रास्ता देखना पड़ा है। नडाल ने इसी के साथ मोंटे कार्लो में अपना रिकार्ड सुधार कर 71 जीत और चार हार का कर लिया है।

वह इस टूर्नामेंट में आखिरी बार वर्ष 2015 सेमीफाइनल में जोकोविच से हारे थे, लेकिन उसके बाद से अपराजित हैं और इस बार 12वें खिताब के करीब माने जा रहे हैं। स्पेनिश खिलाड़ी को हालांकि पहले सेट में पेला से संघर्ष करना पड़ा लेकिन 1-4 से पिछड़ने के बाद उन्होंने टाईब्रेक 7-1 से जीता।

नडाल ने जीत के बाद कहा कि मैं भाग्यशाली हूं कि वापसी कर सका क्योंकि उनके पास दो प्वांइट थे। 5-1 के स्कोर पर तो वापसी असंभव हो जाती है। मैंने इसके बाद बेहतर खेला। नडाल अगले मैच में फाबियो फोगनिनी से खेलेंगे जिन्होंने बोर्ना कोरिच को तीन सेटों में 1-6, 6-3, 6-2 से हराया। नडाल का फोगनिनी के खिलाफ 11-3 का बढिèया करियर रिकार्ड है।

हालांकि जोकोविच उतने भाग्यशाली नहीं रहे और मेदवेदेव ने पिछले दो मैच हारने के बावजूद इस बार दो बार के चैंपियन जोकोविच की पांच बार सर्विस ब्रेक की और अपने करियर में पहली बार एटीपी मास्टर्स 1000 सेमीफाइनल मुकाबले में जगह बना ली। मेदवेदेव ने कहा कि यह मेरे करियर का सर्वश्रेष्ठ मैच है, टेनिस के हिसाब से नहीं तो परिणाम के हिसाब से। मेदवेदेव अब सेमीफाइनल में एक और सर्बियाई खिलाड़ी डुसान लाजोविच से भिड़ेंगे जिन्होंने लोरेंजो सोनेगा को 6-4, 7-5 से हराया।

अरुण जेटली से मिले जेट एयरवेज के सीईओ, एक माह के वेतन के लिए माँगे 170 करोड़

CEO of Jet Airways from Jaitley, asked for a month's salary of Rs 170 crore

नई दिल्ली। वित्तीय संकट के कारण अस्थायी तौर पर परिचालन बंद कर चुकी निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विनय दूबे के नेतृत्व में कंपनी के प्रबंधन और कर्मचारियों के एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की और अंतरिम राहत के तौर पर कम से एक माह के वेतन के लिए नकदी उपलब्ध कराने की मांग की।

जेटली से यहां उनके आवास पर मिलने के बाद दूबे ने बताया कि उन्होंने वित्त मंत्री को एक ज्ञापन देकर कंपनी की स्थिति से अवगत कराया। साथ ही कंपनी की हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया पूरी होने तक कर्मचारियों को अंतरिम राहत देने के लिए एक माह के वेतन की व्यवस्था करने की माँग की।

उन्होंने बताया कि जेटली ने उन्हें इस संबंध में जेट एयरवेज का ऋणदाता बैंकों से बात करने का आश्वासन दिया जिन्होंने ऋण समाधान प्रक्रिया के तहत हिस्सेदारी बेचने के लिए बोली आमंत्रित की है। इस संबंध में तीन-चार दिन में स्थिति स्पष्ट होने की उम्मीद है।

दूबे ने यूनीवार्ता को बताया कि कर्मचारियों को एक महीने का वेतन देने के लिए कंपनी को 170 करोड़ रुपये की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पायलटों को साढे तीन महीने से और अभियंताओं को तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। कुछ कर्मचारी मजबूरी में कंपनी छोड़कर चले गये हैं।

हिस्सेदारी बिक्री प्रक्रिया पूरी होने के बाद एयरलाइंस का परिचालन शुरू करने के लिए कर्मचारियों को कंपनी छोड़ने से रोकने के उपाय करना जरूरी है क्योंकि कर्मचारियों से ही एयरलाइंस है। इस बैठक में कुछ देर के लिए नागरिक उड्डयन सचिव प्रदीप सिंह खरोला, महाराष्ट्र के वित्त मंत्री सुधीर मुंगानतिवर और कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल थे।

कंपनियों के परिणामों से तय होगी बाजार की दिशा

direction of the companies will be decided by results of companies

मुंबई। अच्छे मानसून के पूर्वानुमान और विदेशों से मिले सकारात्मक संकेतों के दम पर पिछले सप्ताह नए रिकॉर्ड को छूने वाले घरेलू शेयर बाजारों में आने वाले सप्ताह में निवेशकों का रुख कंपनियों के तिमाही परिणामों पर निर्भर करेगा। आने वाले सप्ताह में सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक, मारुति सुजुकी, टाटा स्टील, हीरो मोटोकॉर्प और यस बैंक के परिणाम आने हैं।

इनका असर बाजार पर दिख सकता है। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 38,487.45 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 11,856.15 अंक के रिकॉर्ड स्तर को छूने में कामयाब रहा। सेंसेक्स 373.17 अंक यानी 0296 प्रतिशत की साप्ताहिक बढत के साथ सप्ताहांत पर 39,140.28 अंक पर और निफ्टी 109.35 अंक यानी 0.94 प्रतिशत की साप्ताहिक तेजी में 11,752.80 अंक पर बंद हुआ।

मझौली और छोटी कंपनियों पर दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.28 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.01 प्रतिशत लुढक गया। गत सप्ताह बुधवार को महावीर जयंती और शुक्रवार को गुड फ्राइडे के अवकाश के कारण बाजार में तीन ही दिन कारोबार हुआ। मौसम विभाग ने सोमवार को वर्ष 2019 के लिए मानसून का पहला पूर्वानुमान जारी किया जिसमें इस साल मानसून के सामान्य रहने की बात कही गयी है।

इससे सेंसेक्स 138.73 अंक और निफ्टी 46.90 अंक उछल गये। यही क्रम मंगलवार को भी जारी रहा। सेंसेक्स 369.80 अंक की छलाँग लगाकर 39,275.64 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी भी 96.80 अंक चढकर 11,787.15 अंक पर बंद हुआ।

इस दौरान दोनों सूचकांकों ने बीच कारोबार का नया रिकॉर्ड स्तर भी बनाया। गुरुवार को सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 38,487.45 अंक के रिकॉर्ड उच्चतम स्तर को छूने के बाद गिरावट में चला गया और अंतत: 135.36 अंक नीचे 39,140.28 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी 11,856.15 अंक के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर खुलने के बाद 34.35 अंक टूटकर 11,752.80 अंक पर रहा। 

loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
loading...

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.