21 अगस्त: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Tuesday, 21 Aug 2018 04:33:01 PM
21 august latest top ten news

सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्यसभा चुनावों में अब NOTA का इस्तेमाल नहीं

Nota can not be allowed in Rajya Sabha elections: Supreme Court

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने राज्यसभा चुनाव में 'इनमें से कोई नहीं (नोटा)’ विकल्प की अनुमति देने से आज इनकार कर दिया। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने राज्यसभा चुनाव के मतपत्रों में नोटा के विकल्प की इजाजत देने वाली चुनाव आयोग की अधिसूचना को रद्द कर दिया।

शीर्ष अदालत ने आयोग की अधिसूचना पर सवाल उठाया और कहा कि नोटा सीधे चुनाव में सामान्य मतदाताओं के इस्तेमाल के लिए बनाया गया है। यह फैसला शैलेष मनुभाई परमार की याचिका पर आया है। पिछले राज्यसभा चुनाव में वह गुजरात विधानसभा में कांग्रेस के मुख्य सचेतक थे जिसमें पार्टी ने सांसद अहमद पटेल को उतारा था।

परमार ने मतपत्रों में नोटा के विकल्प की इजाजत देने वाली आयोग की अधिसूचना को चुनौती दी थी। शीर्ष अदालत ने पहले कहा था कि नोटा की शुरूआत करके चुनाव आयोग मतदान नहीं करने को वैधता प्रदान कर रहा है। गुजरात कांग्रेस के नेता ने कहा था कि राज्यसभा चुनाव में यदि नोटा के प्रावधान को मंजूरी दी जाती है तो इससे ''खरीद-फरोख्त और भ्रष्टाचार’’ को बढ़ावा मिलेगा।
कोर्ट के मुताबिक नोटा का इस्तेमाल सिर्फ आम चुनावों में यानी आम लोगों से जुड़े चुनावों में ही होना चाहिए। बता दें कि साल 2013 में सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले के बाद चुनाव आयोग ने लोकसभा, विधानसभा चुनाव में नोटा का विकल्प EVM में शुरू कर दिया था। 

इमरान का खर्चों में कटौती पर अमल शुरू, मंत्रियों को बैठक में केवल चाय

Emraan spending cuts start

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने खर्चों में कटौती और सादगी का उदाहरण खुद पेश करने के बाद अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों को भी इसके अनुपालन के लिए प्रेरित करना शुरू कर दिया है। खान के 21 सदस्यीय मंत्रिमंडल ने सोमवार को शपथ ली।

इसके बाद मंत्रिमंडल की पहली औपचारिक बैठक हुई। जियो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि इस बैठक में मंत्रियों को केवल चाय दी गयी। यहां तक बिस्किट या अन्य किसी प्रकार का नाश्ता भी नहीं दिया गया। यह इस बात का संकेत है कि क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने खान स्वयं के साथ-साथ मंत्रियों पर मितव्ययिता का कितना अमल करेंगे।

सूत्रों के मुताबिक बैठक में पहुंचने पर मंत्रिमंडल के सहयोगियों ने खड़े होकर खान का स्वागत किया। खान ने मंत्रियों को शपथ लेने और कार्यभार संभालने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा है कि वह स्वयं रोजाना 16 घंटे काम करेंगे और मंत्रिमंडल के सदस्य भी रोजाना 14 घंटे कार्य करें।

उन्होंने मंत्रिमंडल के सहयोगियों से कहा है कि वह करदाताओं के धन को जाया नहीं करें और खर्चों में कटौती करें। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल की सप्ताह में एक बार या इससे अधिक बैठकें होंगी जबकि वास्तविकता यह है कि वह रोजाना बैठक करने के इच्छुक हैं।

उन्होंने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों से कहा कि वह अवकाश की अनुमति नहीं देंगे और ईद-उल-जुहा के अवकाश की घोषणा नहीं कर रहे हैं। खान ने मंत्रियों से कहा है कि वह उनकी कैबिनेट का हिस्सा हैं और उन्हें अपने परिवारों की चिता छोड़नी होगी।

उन्होंने 18 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। सोमवार को खान प्रधानमंत्री आवास के बजाय तीन कमरों के एक फ्लैट में रहने लगे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के लिए नियुक्त 524 कर्मचारियों की बजाय केवल दो कर्मियों की सेवाएं ही ली हैं और सुरक्षा में लगे बुलेट प्रूफ वाहनों के काफिले को छोड़ने की भी घोषणा की है।

मामूली बढ़त के साथ बंद हुए Sensex-Nifty

Sensex-Nifty closed with slight margin

मुंबई। शेयर बाजार जब आज सुबह खुला तो उसमें उछाल देखा गया, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने ही बढ़त बनाते हुए कारोबार की शुरुआत की और ये बढ़त कारोबार की समाप्ति पर भी कायम रही । कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स बढ़त बनाते हुए मामूली 7.00 अंक यानि 0.018 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,285.75 के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी पर भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त का असर देखने को मिला और ये हरे निशान पर पहुंचकर 19.15 अंक यानि 0.17 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,570.90 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान जब सुबह शेयर बाजार खुला तो उसमें उछाल देखा गया, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने ही बढ़त बनाते हुए कारोबार की शुरुआत की और ये बढ़त कारोबार की समाप्ति पर भी कायम रही । काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 271.19 अंक यानि 0.71 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,219.07 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 330.87 अंक यानि 0.87 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,278.75 के स्तर पर बंद हुआ। 

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में मामूली 64.85 अंक यानि 0.57 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,535.60 के स्तर पर खुला। सेंसेक्स की तरह निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त देखने को मिली और ये 81.00 अंक यानि 0.71 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,551.75 के स्तर पर बंद हुआ।

विराट का 23वां शतक, भारत ने इंग्लैंड के सामने रखा 521 का पहाड़

Virat's 23rd century, India kept England in front of 521 mountain

नाटिंघम। भारतीय कप्तान विराट कोहली (103) के 23वें टेस्ट शतक से भारत ने अपनी दूसरी पारी तीसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन सोमवार को सात विकेट पर 352 रन पर घोषित कर मेजबान इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 521 रन का पहाड़ सा लक्ष्य रख दिया।

विराट ने चायकाल के बाद अपना 23वां शतक पूरा किया। उन्होंने पहली पारी में 93 रन बनाये थे जिससे इस मैच में उनके कुल 200 रन हो गए। विराट ने पहले टेस्ट में भी शतक सहित कुल 200 रन बनाये थे। विराट ने 197 गेंदों पर 103 रन की बेशकीमती पारी में 10 चौके लगाए। विराट का इंग्लिश जमीन पर यह दूसरा और इस सीरीज का दूसरा शतक था।

भारतीय कप्तान ने चेतेश्वर पुजारा (72) के साथ तीसरे विकेट के लिए 113 रन और अजिंक्या रहाणे (29) के साथ चौथे विकेट के लिए 57 रन जोड़े। इंग्लैंड की पहली पारी में पांच विकेट लेने वाले आलराउंडर हार्दिक पांड्या 52 गेंदों पर सात चौकों और एक छक्के की मदद से 52 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे।

इंग्लैंड को भारत के अपनी पारी घोषित किये जाने के बाद शेष समय में नौ ओवर खेलने को मिले जिसमें उसने बिना किसी नुकसान के 23 रन बना लिए हैं। स्टंप्स के समय एलेस्टेयर कुक 9 रन और कीटन जेनिंग्स 13 रन बनाकर क्रीज पर थे। इंग्लैंड को अभी 498 रन बनाने हैं।

राजस्थान की राजनीति में फिर सक्रिय हुए सीपी जोशी, नॉर्थ ईस्ट से प्रभार हटाया

cp Joshi active in Rajasthan politics

जयपुर। राजस्थान में अगले चार महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं, और उससे पहले कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद को लेकर बयानबाजी का दौर शुरू हो चुका हैंं। इन बयानों को फिलहाल राहुल गांधी की रोड शो के बाद से विराम मिल गया हैं, लेकिन दबे स्वर में कहीं ना कहीं से कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद को लेकर आएं दिन बयान आते रहते है।

अब बात करें राजस्थान कांग्रेस के तीन बडे चेहरों की, तो इनमें अशोक गहलोत, सीपी जोशी और पायलट मुख्य नाम है, जो राजस्थान की राजनीति में सक्रिय है। अब बात करे सीपी जोशी की तो उनके पास से नॉर्थ ईस्ट का प्रभार छीन ​लिया गया है, फिलहाल इन्हें अभी कांग्रेस में किसी और अन्य पद के लिए नामित नहीं​ किया गया है।

राष्ट्रीय कांग्रेस आलाकमान ने आगामी राजस्थान विधानसभा चुनावों को देखते हुए ये फैसला लिया है। सीपी जोशी फिलहाल अन्य स्टेट में कोई ट्रेवल नहीं करेंगे। तो राजस्थान की राजनीति में वे फिर से सक्रिय हो जाएंगे। हाल ही में कांग्रेस के दिग्गज सीपी जोशी के जयपुर आते ही कई कांग्रेसियों में हलचल मची हुई थी।

ऐसा इसलिए की जयपुर में मीडिया से बात करते हुए जोशी ने राजस्थान में अपनी जिम्मेदारी को साफ शब्दों में बयान दिया है। हालांकि राजस्थान में कांग्रेस की ओर से सीएम का उम्मीदवार कौन होगा इसे लेकर राजनीति पूरे उबाल में है। अशोक गहलोत ने इस विवाद को यह कहते हुए विराम लगाने का प्रयास किया थी। उनकी पहली प्राथमिकता मुख्यमंत्री पद नहीं होकर कांग्रेस का झंडा बुलंद करना है।

लेकिन जब यहीं सवाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीपी जोशी से पूछा गया तो उन्होंने साफ शब्दों में कह दिया कि जब राजस्थान की जिम्मेदारी मिलेगी तब ही मैं बोल पाऊंगा। यहां जो खास बात है वो है कि वरिष्ठ नेता सीपी जोशी ने अपने जन्मदिन पर सियासी रण में खुद के मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जताते हुए ताल ठोक थी। उन्होंने मेवाड़ से निकले राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्रियों का नाम लेकर कहा कि आप लोग आशीर्वाद दीजिए। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि ये सब आप लोगों के बिना संभव नहीं है। 

फिल्म 'जबरिया जोड़ी' का फर्स्ट लुक आया सामने, पर्दे पर फिर धमाल मचाएगी सिद्धार्थ, परिणीति की जोड़ी

The first look of the movie Jabariya Jodi came in front

नई दिल्ली। बॉलीवुड की अपकमिंग फिल्म जबरिया जोड़ी जल्द ही पर्दे पर दस्तक देने जा रही हैं। आपको बता दें कि इस फिल्म में एक बार फिर परिणिति चोपड़ा और सिद्धार्थ मल्होत्रा की जोड़ी देखने को मिलेगी। बताते चलें कि यह सिद्धार्थ और परिणीति की जोड़ी इससे पहले फिल्म 'हंसी तो फंसी' में साथ में देखने को मिली थी।

अब यह जोड़ी सिल्वर स्क्रीन पर फिर साथ नजर आने वाली है। दोनों निर्देशक प्रशांत सिंह की आने वाली फिल्म 'जबरिया जोड़ी' में नजर आने वाले हैं। इस फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई है और फिल्म का पहला लुक सामने आया है। जी हां फिल्म के दो पोस्टर जारी हो गए हैं। जिसके बाद ये फिल्म खबरों में छाई हुई हैं।

फिल्म के पहले पोस्टर में सिद्धार्थ और परिणीति बेहद रोमांटिक अंदाज में एक दूसरे को देखते और सेल्फी खींचते नजर आ रहे हैं. लेकिन इस रोमांटिक अंदाज के बीच में एक दुल्हा बेहोशी की हालत में पड़ा है. दरअसल यह फिल्म दुल्हे किडनैप करने के कॉन्सेप्ट पर बनने वाली है।

दूसरे पोस्ट में परिणीति और सिद्धार्थ एक बजार में रोमांटिक होते दिख रह हैं, जहां पीछे 'वॉट्सएप चाउमिन' और 'मुर्ग डोनाल्ड' जैसे दुकानों के बैनर भी लगे दिख रहे हैं। फिल्म में इन दोनों का नाम अभय और बबली है।फिल्म की शूटिंग लखनऊ में शुरू हो चुकी है।यह फिल्म बिहार की प्रसिद्ध 'पकड़वा विवाह' की प्रथा पर बनने जा रही है, जिसका पहले टाइटल 'शॉटगन शादी' था।

'मूवहैक’ 2018 में आए 20 से अधिक देशों से 7,500 आवेदन, परिवहन से जुड़ी समस्याओं का होगा समाधान

MOVEHACK 2018; 7,500 applications from more than 20 countries

नई दिल्ली। नीति आयोग के ग्लोबल मोबिलिटी हैकाथन 'मूवहैक’ 2018 में दुनिया भर के लोगों ने जबरदस्त दिलचस्पी दिखाई है और अब तक 20 से अधिक देशों से 7,500 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं। सोमवार को जारी आधिकारिक जानकारी के अनुसार एक अगस्त को शुरू इस हैकाथन के लिए दो करोड़ रुपए से अधिक की पुरस्कार राशि रखी गई है। हैकाथन में 10 विषयों के लिए 7,500 से अधिक आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। मूवहैक का उद्देश्य मोबिलिटी और परिवहन से जुड़ी समस्याओं का उन्नतिशील, मोबिलिटी और बेहतर समाधान निकालना है।

हैकाथन के लिए द्बिस्तरीय दृष्टिकोण अपनाया गया है। यह हैकाथन व्यावसायिक कार्यान्यवन के जरिए स्मार्ट शहरों, राज्यों और केन्द्रीय मंत्रालयों में समाधान के लिए विशिष्ट अवसर प्रदान करता है। समस्या से जुड़े विषयों में शहरों में मल्टीमॉडल कम्यूटर मोबिलिटी, माल का मल्टी मॉडल प्रबंधन और परिवहन, सड़क सुरक्षा, मोबिलिटी का भविष्य आदि शामिल हैं। हैकाथन की शुरूआत से ही इसे जबरदस्त स्वीकृति मिली है।

दुनियाभर के 7,500 से ज्यादा व्यक्तियों और 3 हजार से ज्यादा टीमों ने हैकाथन के दस विषयों 'इसे महज कोड करें’ और' इसका महज समाधान निकालें' के लिए पंजीकरण कराया है। 'इसे महज कोड करें’ के लिए, सड़क सुरक्षा, शहरों में मल्टी मॉडल कम्यूटर मोबिलिटी और भारतीय परिवहन बुनियादी ढांचे के लिए ऑर्टिफिशियल इंटेलीजेंस सबसे लोकप्रिय विषय है जबकि 'इसका महज समाधान निकालें' के लिए पुणे स्मार्ट सिटी की मोबिलिटी चुनौतियां तथा इलेक्ट्रिक क्रांति के समाधान के लिए प्रौद्योगिकी में अधिकतम दिलचस्पी प्राप्त हुई है।

टर्नबुल बने रहेंगे ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री

Turnbull will remain Prime Minister of Australia

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया में मैल्कम टर्नबुल प्रधानमंत्री बने रहेंगे। उन्होंने नेतृत्व चुनौती में गृहमंत्री पीटर डटन को मंगलवार को हरा दिया।  सरकार की मुख्य सचेतन नोला मैरिनो ने बताया कि टर्नबुल ने लिबरल पार्टी के नेतृत्व चुनौती में वरिष्ठ पार्टी नेता एवं गृहमंत्री  डटन को 35 के मुकाबले 48 मतों से हरा दिया है। 

उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों की अटकलों तथा जनमत सर्वेक्षण में संख्या की गिरावट के बाद श्री टर्नबुल ने मंगलवार को नेतृत्व के लिए मतदान की घोषणा की थी।

गोल्ड जीतने वाले सौरभ चौधरी को 50 लाख रुपए और सरकारी नौकरी देगी यूपी सरकार

UP government will give Rs 50 lakh to Saurabh

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंडोनेशिया में चल रहे 18वें एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले मेरठ के सौरभ चौधरी के लिये मंगलवार को 50 लाख रूपए के नगद ईनाम की घोषणा की। 16 साल के सौरभ ने 10 मीटर एयर पिस्टल निशानेबाज़ी स्पर्धा में देश के लिये स्वर्ण पदक हासिल किया जबकि इसी स्पर्धा में अभिषेक वर्मा ने भी पोडियम पर जगह बनाते हुये कांस्य जीता। 

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने सौरभ को उनकी उपलब्धि पर बधाई देते हुए कहा, राज्य सरकार सौरभ को 50 लाख रूपए के नगद ईनाम के साथ राजपत्रित अधिकारी के पद की नौकरी देने का वादा करती है। एशियाई खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल में सौरभ ने भारत को पहला स्वर्ण दिलाया है।

मेरठ के सौरभ ने इसी के साथ 18वें एशियाई खेलों में भारत को निशानेबाजी का पहला स्वर्ण पदक दिलाया जबकि एशियाई खेलों के इतिहास में यह भारत का कुल आठवां निशानेबाजी स्वर्ण पदक है। वहीं सीनियर स्पर्धा में युवा निशानेबाज़ का यह पहला पदक है। वह इससे पहले वर्ष 2017 के एशियन चैंपियनशिप में 10 मीटर एयर पिस्टल वर्ग में चौथे नंबर पर रहे थे। 

पेशे से वकील अभिषेक के लिये भी यह किसी बड़े अंतरराष्ट्रीय स्तर के खेलों में पदार्पण है, जिन्होंने पहले कभी निशानेबाजी विश्वकप में भी हिस्सा नहीं लिया है। भारत के लिये यह पदक इसलिये भी अहम है क्योंकि इस वर्ग में अब तक केवल विजय कुमार ही पदक जीत पाये हैं जिन्होंने 2010 के ग्वांग्झू खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल में कांस्य दिलाया था। 

सौरभ और अभिषेक ने राष्ट्रीय चयन ट्रॉयल में अनुभवी जीतू राय और ओम मिथरवाल को मात देते हुये खेलों के लिए भारतीय दल में जगह बनाई थी। एशियाई खेलों में वर्ष 1974 के तेहरान खेलों में निशानेबाजी की इस स्पर्धा को शामिल किया गया था और खेलों के आखिरी 11 संस्करणों में चीन ने इसमें सर्वाधिक सात पदक जीते हैं जबकि कोरिया ने दो और जापान तथा उत्तर कोरिया के पास एक एक पदक है। लेकिन इस सूची में अब भारत का नाम भी जुड़ गया है। 

क्वालिफिकेशन में सौरभ ने 40 अनुभवी निशानेबाजों की फील्ड में गेम्स रिकार्ड बनाते हुये शीर्ष पर जगह बनाई और वह पूर्व ओलंपिक चैंपियन कोरिया के जिन जोंगोह से दो अंक आगे रहे। सौरभ ने इससे पहले इसी वर्ग में जर्मनी में आईएसएसएफ जूनियर विश्वकप में 243.7 अंकों के साथ विश्व रिकार्ड बनाते हुए स्वर्ण जीता था।

रानी मुखर्जी की फिल्म हिचकी अब इस देश में होने जा रही है रिलीज

Rani Mukerji's film Hichki is now going to be released in this country

मुम्बई। बॉलीवुड अभिनेत्री रानी मुखर्जी की बहुप्रतिष्ठित फिल्म ''हिचकी'' के लिए एक अच्छी खबर सामने आई हैं। जी हां भारत के बाद अब यह फिल्म  20 सितंबर को कजाखिस्तान में रिलीज होने को तैयार है। बताते चलें कि फिल्म हिचकी को रूस में शिक्षक दिवस के मौके पर रिलीज की जायेगी और रूसी वॉयस ओवर के साथ इसका संस्करण कजाखिस्तान के थिएटरों में दिखाया जायेगा। रूसी भाषा कजाखिस्तान की अधिकारिक भाषाओं में से एक है।

रानी ने इस पर अपनी खुशी जाहिर करते हुये कहा कि फिल्म का अपनी कहानी के दम पर अलग-अलग भाषाओं और संस्कृतियों के लोगों तक पहुंचना शानदार है। ''हिचकी'' समाज का एक प्रतिबिंब है...जो बताता है कि हम सभी में कमियां हैं और हमें उन्हें दूर कर दुनिया को बेहतर बनाने की जरूरत है।

उन्होंने कहा, ''यह फिल्म हर इंसान के दृढ़ संकल्प, फोक्स और सकारात्मक भावना से अपनी मुश्किलों पर जीत पाने की बात करती है। मुझे खुशी है कि हिचकी का मूल संदेश दुनिया भर में दर्शकों तक पहुंच रहा है। मुझे इस फिल्म पर गर्व है और मैं आभारी हूं कि लोगों को यह पसंद आ रही है।"

सिद्धार्थ पी मल्होत्रा द्वारा निर्देशित और मनीष शर्मा द्वारा निर्मित, हिचकी को कजाखिस्तान में 15 स्क्रीनों पर प्रदर्शित किया जाएगा, जो वर्ष 2015 के बाद से इस देश में किसी भी हिंदी फिल्म की सबसे बड़ी रिलीज होगी। बताते चलें कि यह फिल्म रानी मुखर्जी की कमबैक फिल्म थी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.