21 फरवरी : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Thursday, 21 Feb 2019 05:08:34 PM
21 February top 10 news

कांग्रेस ने बोला पीएम मोदी पर तीखा हमला, कहा-पुलवामा हमले पर देश सदमे में था और प्रधानमंत्री मूवी की शूटिंग में व्यस्त थे

The country was in shock on the Pulwama attack and was busy shooting for Prime Minister movie

नई दिल्ली। कांग्रेस ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि जब देश इस जघन्य हमले के कारण सदमे में था तो उस वक्त मोदी कार्बेट पार्क में एक चैनल के लिए फिल्म की शूटिग कर रहे थे। पार्टी ने यह भी दावा किया कि प्रधानमंत्री अपनी सत्ता बचाने के लिए जवानों की शहादत और राजधर्म भूल गए।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के प्रति मोदी सरकार न तो कोई राजनीतिक जवाब दे रही है और न ही अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही है। उन्होंने दावा किया, स्तब्ध करने वाली बात तो यह है कि शहादत के अपमान का जो उदाहरण नरेंद्र मोदी ने पुलवामा हमले के बाद पेश किया, ऐसा कोई उदाहरण पूरी दुनिया में नहीं।

जब पूरा देश गत 14 फरवरी को पुलवामा में 3:10 बजे शाम को हुए आतंकी हमले से सदमे में था, तो उस समय नरेंद्र मोदी रामनगर, नैनीताल के कॉर्बेट नेशनल पार्क में फिल्म की शूटिग कर रहे थे। सुरजेवाला ने कहा कि मोदी जी की यह मूवी शूटिग 6:30 बजे शाम तक चली। शाम को 6:45 पर मोदी जी ने सर्किट हाउस में चाय नाश्ता किया और दूसरी तरफ सैनिकों की शहादत पर देश के चूल्हे नहीं जले।

यह भयावह है कि एक तरफ हमारे जवान पुलवामा में शहीद हुए, तो उसके चार घंटे बाद तक मोदी स्वयं के प्रचार, फोटोशूट और चाय-नाश्ते में व्यस्त थे। उधर, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की सुरक्षा पर प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता को लेकर आरोप लगाने का देश की जनता पर कोई असर नहीं होने वाला है।

सुरजेवाला ने आरोप लगाया, यह और भी पीड़ादायक है कि भयावह पुलवामा आतंकी हमले के बावजूद, प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय शोक की घोषणा इसलिए नहीं की कि कहीं सरकारी खजाने के खर्च पर की जाने वाली प्रधानमंत्री मोदी की राजनीतिक रैलियां और उद्घाटन समारोह रद्द न हो जाएं।

इतना ही नहीं, 16 फरवरी, 2019 को प्रधानमंत्री मोदी पुलवामा के शहीदों को श्रृद्धांजलि देने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट पर 1 घंटे देरी से पहुंचे क्योंकि वो झांसी में राजनीति करने में व्यस्त थे। सुरजेवाला ने दावा किया, भाजपाई नेताओं का व्यवहार और भी शर्मनाक रहा।

उन्नाव, उत्तरप्रदेश में पुलवामा के शहीद के पार्थिव शरीर के साथ खड़े होकर भाजपा सांसद और राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य, साक्षी महाराज शर्मनाक तरीके से मुस्कुराते हुए हाथ हिलाते दिखे। पर्यटन मंत्री अलफोंस ने वायनाड, केरल में पुलवामा शहीद के पार्थिव शरीर के साथ अपनी सेल्फी ही ले ली।

उन्होंने सवाल किया, प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) और गृहमंत्री राष्ट्रीय सुरक्षा एवं खुफिया तंत्र की विफलता के लिए अपनी जिम्मेदारी क्यों स्वीकार नहीं करते? स्थानीय आतंकियों को सैकड़ों किलोग्राम आरडीएक्स, एम4 कार्बाईन और रॉकेट लॉन्चर कैसे मिले?

कांग्रेस नेता ने यह भी पूछा, एक आरडीएक्स ले जा रही कार को जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे, जहाँ काफिले के सैनिटाईज़ेशन के लिए मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करना पड़ता है, वहां प्रवेश करने की अनुमति कैसे मिली सुरजेवाला ने यह भी सवाल किया, मोदी सरकार ने पुलवामा हमले से 48 घंटे पहले जारी किए गए जैश-ए-मोहम्मद के धमकी भरे वीडियो को नजरंदाज क्यों कर दिया?

सरकार ने आतंकियों द्बारा आईईडी के उपयोग एवं उचित सैनिटाईज़ेशन के 8 फरवरी, 2019 के जम्मू-कश्मीर पुलिस के लिखित इनपुट को नजरंदाज क्यों किया? उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने भारत की एकता और अखंडता पर हमला बोलने वाले पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद को करारा जवाब देने हेतु हमारी सेना और सरकार का भरपूर समर्थन किया है। हम अपने जवानों के साथ खड़े हैं। पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 40 जवान शहीद हो गए थे।

उप्र में गठबंधन के बीच सीटों का बंटवारा, सपा 37 और बसपा 38 पर लड़ेगी

Split seats between coalition partners in UP

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच लोकसभा चुनाव के लिये सीटों का बंटवारा हो गया है। बंटवारे के अनुसार सपा 37 और बसपा 38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बसपा की ओर से आज जारी सूची में बताया गया है कि पार्टी अध्यक्ष मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सीटों के बंटवारे पर मुहर लगायी है।

इस बयान के अनुसार सपा कैराना, मुरादाबाद, रामपुर, संभल, गाजियाबाद, हाथरस (सुरक्षित), फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, बरेली, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, हरदोई (सुरक्षित), उन्नाव, लखनऊ, इटावा (सुरक्षित), कन्नौज, कानपुर, झांसी, बांदा, कौशांबी (सुरक्षित), फूलपुर, इलाहाबाद, बाराबंकी (सुरक्षित), फैजाबाद, बहराइच (सुरक्षित) और गोण्डा संसदीय सीटों पर चुनाव लड़ेगी।
इसके अलावा सपा को महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, आजमगढ़, बलिया, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर और राबर्ट्सगंज (सुरक्षित) सीटें भी मिली हैं।

अखिलेश और मायावती के हस्ताक्षर से जारी सूची के अनुसार बसपा सहारनपुर, बिजनौर, नगीना (सुरक्षित), अमरोहा, मेरठ, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर (सुरक्षित), अलीगढ़, आगरा (सुरक्षित), फतेहपुर सीकरी, आंवला, शाहजहांपुर (सुरक्षित), धौरहरा, सीतापुर और मिश्रिख (सुरक्षित) सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी। इसके अलावा पार्टी को मोहनलालगंज (सुरक्षित), सुलतानपुर, प्रतापगढ़, फर्रुखाबाद, अकबरपुर, जालौन (सुरक्षित), हमीरपुर, फतेहपुर, अंबेडकरनगर, कैसरगंज, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संतकबीरनगर, देवरिया, बांसगांव (सुरक्षित), लालगंज (सुरक्षित), घोसी, सलेमपुर, जौनपुर, मछलीशहर (सुरक्षित), गाजीपुर और भदोही सीटें भी मिली हैं।

गौरतलब है कि जनवरी में गठबंधन का एलान करते समय मायावती और अखिलेश यादव ने कहा था कि वह इसमें कांग्रेेस को शामिल नहीं करेंगे बल्कि सोनिया गांधी की संसदीय सीट रायबरेली और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की संसदीय सीट अमेठी पर उम्मीदवार नहीं उतारेंगे। वहीं, गुरुवार को राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने बयान जारी कर कहा है कि उनकी पार्टी भी सपा और बसपा गठबंधन के साथ है।

पीएम मोदी बोले, मानव जाति के समक्ष आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन सबसे बड़ी चुनौतियां 

PM Modi speaks, terrorism before mankind, climate change is the biggest challenge

सियोल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि फिलहाल मानव जाति के समक्ष आतंकवाद और जलवायु परिवर्तन की दो सबसे बड़ी चुनौतियां हैं और महात्मा गांधी की शिक्षाएं और उनके मूल्यों से ज्वलंत मुद्दों के समाधान में दुनिया को मदद मिल सकती है। दक्षिण कोरिया के साथ भारत के रणनीतिक रिश्ते मजबूत करने के उद्देश्य से दो दिवसीय यात्रा पर सियोल पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ इन और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून के साथ यहां स्थित प्रतिष्ठित योनसेई यूनिवर्सिटी में महात्मा गांधी की एक आवक्ष प्रतिमा का अनावरण किया।

मोदी ने कहा कि मेरे लिए आज कोरिया के प्रमुख विश्वविद्यालय में महात्मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा का अनावरण करना बेहद सम्मान और सौभाग्य की बात है। उन्होंने कहा कि यह अवसर खास महत्व रखता है क्योंकि हम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहे हैं और दुनिया के लिए वह सबसे महत्वपूर्ण मसीहा हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मानव जाति दो गंभीर समस्याओं का सामना कर रही है। पहली है आतंकवाद और दूसरी है जलवायु परिवर्तन। अगर हम महात्मा गांधी के जीवन को देखें तो हमें इन दोनों समस्याओं का समाधान मिल सकता है। अगर हम उनकी दी हुई शिक्षाओं, मूल्यों और सलाह को देखें तो हमें आगे का रास्ता मिल सकता है।

उन्होंने कहा कि मानव जाति को आतंकवाद चुनौती दे रहा है और यह समय गांधी की शिक्षाओं, एकता का संदेश, उनके मूल्यों के माध्यम से, हिसा का रास्ता चुनने वालों का अहिसा के जरिये हृदय परिवर्तन करने का उनका संदेश हमें आतंकवाद के कहर को बौना करने का रास्ता दिखा सकता है। मोदी की टिप्पणियां जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले के संदर्भ में अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

पाक स्थित आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। उन्होंने कहा कि मेरे मित्र और संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव बान की मून के कार्यकाल में संयुक्त राष्ट्र ने गांधी के जन्मदिन को अहिंसा दिवस के तौर पर घोषित किया और इस घोषणा के साथ ही हमें आतंकवाद से लड़ने के लिए मजबूती मिल गई।

मोदी ने कहा कि 20वीं सदी में गांधी मानव जाति को मिला शायद सबसे बड़ा तोहफा थे। पिछली सदी में उनके व्यक्तित्व के माध्यम से, उनके जीवन और मूल्यों के माध्यम से गांधी ने हमें दिखा दिया कि भविष्य में क्या होगा। सच तो यह है कि यह कहा करते थे .. मेरा जीवन ही मेरे लिए सबक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि गांधी कहा करते थे कि ईश्वर और प्रकृति ने मानव की जरूरत के लिए सब कुछ दिया है लेकिन यह लालच के लिए नहीं है और अगर हम लालच करेंगे तो समस्त प्राकृतिक संसाधन हम खो देंगे। उन्होंने कहा था कि हमारी जीवन शैली जरूरत आधारित होनी चाहिए, लालच पर आधारित नहीं होनी चाहिए।

मोदी ने कहा कि उनके जीवनकाल में जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण पर कोई चर्चा नहीं हुई लेकिन अपनी जीवन शैली से उन्होंने कोई कार्बन फुट प्रिंट नहीं छोड़ा और दिखाया कि प्रकृति के साथ सद्भावपूर्वक कैसे रहा जा सकता है। उन्होंने दिखाया कि भावी पीढ़ियों के लिए स्वच्छ और हरित ग्रह छोड़ना महत्वपूर्ण है। मोदी, राष्ट्रपति मून जेइ इन के आमंत्रण पर दक्षिण कोरिया आए हैं। 2015 के बाद से प्रधानमंत्री मोदी की कोरिया गणराज्य की यह दूसरी यात्रा है और राष्ट्रपति मून जेइ इन के साथ यह उनकी दूसरी शिखर बैठक है।

बांग्लादेश में रासायनिक गोदामों में भयानक आग, 69 लोगों की मौत

Fierce fire in chemical warehouses in Bangladesh

ढाका। बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक पुराने इलाके में रासायनिक गोदामों के रूप में इस्तेमाल होने वाली अनेक इमारतों में बुधवार को आग लगने से कम से कम 69 लोग मारे गए। दमकल अधिकारियों ने बताया कि ढाका के पुराने इलाके चौकबाजार इलाके में एक मस्जिद के पीछे हाजी वाहिद मैंशन नाम की चार मंजिला इमारत के भूतल पर रासायनिक गोदाम में आग लगी और तेजी से एक सामुदायिक केंद्र समेत आसपास की चार अन्य इमारतों में फैल गई।

उन्होंने बताया कि इस भयानक आग में कम से कम 69 लोगों की मौत हो गई। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि दर्जनों लोग इमारतों में फंसे हुए हैं और दमकलकर्मी अभी तक वहां नहीं पहुंच पाए हैं जहां आग लगी। घटनास्थल पर मौजूद एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि ज्यादातर शव इमारतों के आसपास मौजूद मकानों से बरामद किए गए।

जबकि दमकल कर्मी और शवों की तलाश में पांच मंजिला इमारत में घुसने के लिए तैयार हैं। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पीड़ितों में इमारत के पास से गुजर रहे लोग, नजदीक के ही रेस्त्रां में खाना खा रहे लोग और एक शादी समारोह के कुछ सदस्य शामिल हैं। दमकल अधिकारियों ने बताया कि इमारत की दूसरी, तीसरी और चौथी मंजिल को गोदामों तथा प्लास्टिक फैक्ट्री के रूप में इस्तेमाल किया जाता था और वहां कुछ आवासीय फ्लैट भी थे।

ढाका मेडिकल कॉलेज अस्पताल की बर्न यूनिट और सर सलीमुल्ला मेडिकल कॉलेज में 50 से अधिक घायलों का इलाज चल रहा है। इमारत से कूदने के कारण कई लोग घायल हो गए। इससे पहले अधिकारियों ने बताया था कि दमकल की 37 गाड़ियां घटनास्थल के लिए रवाना हुई लेकिन संकरी गलियां होने के कारण उन्हें घटनास्थल तक पहुंचने में दिक्कत हुई जिसके कारण दमकल कर्मियों को आग पर काबू पाने के लिए लंबे पाइपों का इस्तेमाल करना पड़ा।

गौरतलब है कि ढाका की एक पुरानी इमारत में 2010 में आग की ऐसी ही घटना में 120 से अधिक लोग मारे गए थे। इसे बांग्लादेश में आग लगने की सबसे खतरनाक घटना बताया जाता है। इससे जन आक्रोश पैदा हुआ था और लोगों ने रासायनिक गोदामों और भंडारों को इलाके से स्थानांतरित करने की मांग की थी लेकिन पिछले नौ वर्षों में इस दिशा में कुछ खास नहीं हुआ।

फवाद खान पर पुलिस में हुई FIR दर्ज, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

Fawad Khan has filed FIR in police, knowing why you will be surprised

एंटरटेनमेंट डेस्क। पाकिस्तानी एक्टर फवाद के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज हुआ है। बताया जा रहा है कि यह मामला पोलिया टीम की शिकायत पर दर्ज किया गया। यदि खबरों की माने तो फवाद खान पर बेटी को पोलिया की दवा न पिलाने के कारण एफआईआर दर्ज हुई है। इस पर पोलियो टीम का कहना है कि वह फैसल टाउन रेजिडेंसी स्थित अभिनेता के घर पर उनकी बेटी को पोलियो ड्रॉप पिलाने के लिए गए थे। लेकिन फवाद की पत्नी ने ना केवल बच्ची को पोलियो ड्रॉप पिलाने से रोका बल्कि बदत​मीजी भी की। 

पाकिस्तानी वेब साइट डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक लौहार पुलिस ने पोलियो टीम की लिखित शिकायत पर कार्रवाई की। पालियो टीम फवाद खान के घर बच्ची को पोलियो की दवा पिलाने गई थी। लेकिन इस दौरान उनकी पत्नी ने बच्ची को दवा पिलाने से मना कर दिया था। तो इसके साथ ही इसका विरोध किया और पोलियो टीम के साथ अभद्र व्यवहार भी किया।  

इस मामले के बाद उनपर पाकिस्तान पेनल कोर्ट की धारा 269,270, 506, 186, और 188 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। तो वहीं पाकिस्तानी कानून के अनुसार एंटी पोलियो ड्रॉप्स में लापरवाही के केस में जुर्माना के साथ दो साल की सजा भी हो सकती है। बता दें कि विश्व भर में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और नाइजीरिया ही ऐसे देश है। जो कि पोलियो जैसी गंभीर बीमारी से अभी तक पूरी तरह से आजाद नहीं हुए है। 

गौरतलब है कि अभिनेता फवाद खान इस समय पाकिस्तान सुपर लीग के चलते दुबई में है। इस घटना के समय फवाद खान घर पर मौजूद नहीं थे। फवाद खान की आगामी फिल्म दि लीजेंड आफ मौला जट्ट ईद पर रिलीज होगी। इस फिल्म में वे माहिरा खान के साथ नजर आएंगे। 

हॉरर फिल्म में काम करना चाहती हैं कैटरीना

Katrina wants to work in a horror movie

मुंबई। बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ हॉरर फिल्मों में काम करना चाहती हैं। कैटरीना इन दिनों सलमान खान के साथ फिल्म‘भारत’में काम कर रही है। फिल्म का निर्देशन अली अब्बास जफर कर रहे हैं। इससे पहले कैटरीना ने जफर के साथ‘मेरे ब्रदर की दुल्हन’और‘टाइगर जिंदा है’जैसी फिल्में की हैं।

कैटरीना से जब पूछा गया कि उन्होंने अपने करियर के दौरान कौन से जॉनर की फिल्मों में काम नहीं किया है, उन्होंने कहा कि उन्होंने अभी तक हॉरर फिल्म में काम नहीं किया है। इस सवाल के जवाब में अली अब्बास जफर ने कहा कि उन्होंने कैटरीना के लिए एक हॉरर फिल्म लिखी है हालांकि अली अब्बास जफर के मजाकिया लहजे से यही माना जा सकता है कि ऐसी किसी फिल्म को बनाए जाने की प्लाभनग नहीं है। 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पहले टीम इंडिया को लगा बड़ा झटका, हार्दिक पांड्या हुए बाहर, शामिल हुआ यह खतरनाक खिलाडी

Before the series against Australia, Team India seemed to have a big blow, out of the heartiest Pandya, this dangerous player

स्पोटर्स डेस्क। भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचों की टी20 और पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज खेलनी है। इसका आगाज 24 फरवरी से होगा। लेकिन इससे पहले टीम इंडिया के लिए एक बुरी खबर आई है। टीम के आलराउंडर खिलाडी हार्दिक पांड्या बाहर हो गए है। पांड्या की जगह टीम में रवींद्र जडेजा को शामिल किया गया है। पांड्या चोट की वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली जाने वाली सीरीज से बाहर हो गए है। पांड्या टी20 और वनडे दोनों सीरीज से बाहर हो गए है। 

आपको बता दें कि बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने इस आलराउंडर खिलाडी को आराम की सलाह दी है। पांड्या की लोअर बैक में खिंचाव बताया जा रहा है। हार्दिक पांड्या की जगह अब पांच मैचों की वनडे सीरीज के लिए रवींद्र जडेजा को शामिल किया गया है। 

गौरतलब है कि आलराउंडर खिलाडी हार्दिक पांड्या अब बेेगलुरु ​स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी जाएंगे। जहां उनकी चोट की जांच की जाएगी। इसके साथ ही हार्दिक को विश्व कप से पहले फिटनेस वापस हासिल करने की कोशिश भी करेंगे। पांड्या अगले हफ्ते से एनसीए में स्ट्रेंथ और फिटनेस पर काम शुरू करेंगे। 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टी20 सीरीज का पहला मैच 24 फरवरी को विशाखापट्टनम में खेला जाएगा। इसके बाद दूसरा मैच 27 फरवरी को बेंगलुरू में होगा। टी20 सीरीज के दोनों मैच शाम सात बजे से खेले जाएंगे। इस सीरीज के बाद पांच मैचों की वनडे सीरीज खेली जाएगी। वनडे सीरीज की शुरूआत 2 मार्च से होगी। 

गावस्कर ने कहा, विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेलकर भारत को नुकसान होगा

Gavaskar said, India will not be playing against Pakistan in World Cup

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का मानना है कि आगामी विश्व कप में पाकिस्तान का बहिष्कार करके भारत को नुकसान होगा। उन्होंने साथ ही कहा कि द्बिपक्षीय श्रृंखलाओं में खेलने से इनकार की नीति जारी रखते हुए भारत अपने चिर प्रतिद्बंद्बी की परेशानी बढ़ा सकता है।

पिछले हफ्ते पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 से अधिक जवानों की मौत के बाद पूर्व भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह की अगुआई में पाकिस्तान के पूर्ण क्रिकेट बहिष्कार की मांग जोर पकड़ रही है। भारत को पाकिस्तान के खिलाफ 16 जून को विश्व कप का राउंड रोबिन मैच खेलना है।

गावस्कर ने इंडिया टुडे से कहा कि भारत अगर विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने का फैसला करता है तो कौन जीतेगा? और मैं समीफाइनल और फाइनल की बात ही नहीं कर रहा। कौन जीतेगा? पाकिस्तान जीतेगा क्योंकि उसे दो अंक मिलेंगे। उन्होंने कहा कि भारत ने अब तक विश्व कप में हर बार पाकिस्तान को हराया है इसलिए हम असल में दो अंक गंवा रहे हैं जबकि पाकिस्तान को हराकर हम सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे प्रतियोगिता में आगे नहीं बढ़ें।

इस पूर्व कप्तान ने कहा कि (लेकिन) मैं देश के साथ हूं, सरकार जो भी फैसला करेगी, मैं पूरी तरह से इसके साथ हूं। अगर देश चाहता है कि हमें पाकिस्तान से नहीं खेलना चाहिए तो मैं उनके साथ हूं। भारत और पाकिस्तान के बीच 2012 से द्बिपक्षीय क्रिकेट नहीं हुआ है और दोनों देशों के बीच पिछली पूर्ण श्रृंखला 2007 में खेली गई थी।

गावस्कर ने कहा कि पाकिस्तान को कहां नुकसान होगा? उन्हें पीड़ा तब पहुंचेगी जब वे भारत के खिलाफ द्बिपक्षीय श्रृंखला नहीं खेलेंगे। कई टीमों वाली प्रतियोगिता में भारत को उनके खिलाफ नहीं खेलकर नुकसान होगा। इस पूरे मामले को थोड़ी अधिक गहराई से देखे जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि लेकिन जब आप उनसे नहीं खेलोगे तो क्या होगा?

मुझे पता है कि ये दो अंक गंवाने के बावजूद भारतीय टीम इतनी मजबूत है कि क्वालीफाई कर लेगी लेकिन आखिर क्यों ना उन्हें हराया जाए और सुनिश्चित किया जाए कि वे क्वालीफाई नहीं कर पाएं। गावस्कर ने कहा कि अगर अटकलों के अनुसार बीसीसीआई इस मामले को आईसीसी के समक्ष उठाता है और पाकिस्तान को 30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रही प्रतियोगिता से बाहर करने की मांग करता है तो उसकी इस मांग को ठुकराए जाने की संभावना अधिक है।

दुबई में 27 मार्च से दो मार्च के बीच होने वाली आईसीसी की बैठक के संदर्भ में गावस्कर ने कहा कि वे प्रयास कर सकते हैं लेकिन ऐसा नहीं होगा। क्योंकि अन्य सदस्य देशों को इसे स्वीकार करना होगा और मुझे ऐसा होता नजर नहीं आता। मैं सुनिश्चित नहीं हूं कि आईसीसी का सम्मेलन इसके लिए सही मंच है। गावस्कर ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील की कि वे भारत के साथ संबंधों में सुधार के लिए जरूरी पहला कदम उठाए।

उन्होंने कहा कि मुझे इमरान खान से सीधे बात करने दीजिए, ऐसा व्यक्ति जिसकी मैं काफी प्रशंसका करता हूं, जिसे मैं समझता हूं कि मित्र है। मैं इमरान से कहता हूं 'जब तुमने कमान संभाली थी तो कहा था कि यह नया पाकिस्तान होगा। गावस्कर ने कहा कि आपने कहा कि भारत को एक कदम उठाना चाहिए और पाकिस्तान दो कदम उठाएगा लेकिन राजनेता नहीं बल्कि औसत खिलाड़ी के रूप में मैं कहना चाहता हूं कि पहला कदम पाकिस्तान को उठाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि आपको सुनिश्चित करना चाहिए कि सीमा पार से घुसपैठ नहीं हो, आपको सुनिश्चित करना होगा कि जो लोग पाकिस्तान में हैं और भारत में समस्या पैदा कर रहे हैं उन्हें सौंपा जाए, अगर भारत को नहीं तो संयुक्त राष्ट्र को। आप दो कदम उठाइये और आप देखेंगे कि भारत कई मैत्रीपूर्ण कदम उठाएगा। गावस्कर चाहते हैं कि भारत-पाक क्रिकेटरों की तरह दोनों देशों के लोगों के बीच भी दोस्ताना संबंध हों।

उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि कई भारतीय और पाकिस्तानी क्रिकेटर मित्र हैं। आप (इमरान) मेरे मित्र हैं, वसीम अकरम मेरा मित्र है, रमीज राजा मेरा मित्र है, शोएब अख्तर मेरा मित्र है। जब हम भारत में या भारत के बाहर मिलते हैं तो अच्छा समय बीतता है और मुझे लगता है कि दोनों देशों के लोग भी इस तरह अच्छा समय बिताने के हकदार हैं।

भारत, सऊदी अरब को नए उत्पादों में अवसर तलाशने चाहिए: प्रभु

India, Saudi Arabia should explore opportunities in new products: prabhu

नयी दिल्ली। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने बुधवार को कहा कि भारत और सऊदी अरब को नए उत्पादों, कारोबारों और क्षेत्रों में अवसरों की संभावनाएं तलाशनी चाहिए, जिससे दोनों देशों के बीच व्यापार और निवेश को प्रोत्साहन दिया जा सके। प्रभु और सऊदी भारत व्यापार परिषद के चेयरमैन कामिल अल मुनज्जिद की अगुवाई में सऊदी प्रतिनिधिमंडल की बैठक में व्यापार और निवेश बढ़ाने के तरीकों पर विचार विमर्श हुआ।

प्रभु ने बयान में कहा कि भारत की ऊर्जा सुरक्षा सऊदी अरब से पेट्रोलियम उत्पादों की लगातार आपूर्ति से सुनिश्चित हुई है। अब समय आ गया है जबकि दोनों देशों को पेट्रोलियम उत्पादों से आगे बढक़र नए उत्पादों, कारोबार और क्षेत्रों में विविधीकरण करना चाहिए।

142 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes with a gain of 142 points

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सुबह कारोबार की शुरूआत गिरावट के साथ लाल निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये गिरावट से उबरता हुआ बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ। बढ़त के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 142.09 अंक यानि 0.40 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,898.35 के स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त देखने को मिली और ये 54.40 अंक यानि 0.51 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,789.85 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान सुबह शेयर बाजार बढ़त के साथ हरे निशान पर खुला और बढ़त के साथ ही बंद हुआ। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 255.90 अंक यानि 0.72 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,608.51 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 403.65 अंक यानि 1.14 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,756.26 के स्तर पर बंद हुआ। 

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 78.00 अंक यानि 0.74 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,682.35 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 131.10 अंक यानि 1.24 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,735.45 के स्तर पर बंद हुआ।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.